पश्चिम बंगाल पंचायत चुनाव नतीजा: 'दीदी' का बजा डंका, दूसरे नंबर की पार्टी बनी बीजेपी

prashant jha

Publish: May, 17 2018 06:47:11 PM (IST)

राजनीति
पश्चिम बंगाल पंचायत चुनाव नतीजा: 'दीदी' का बजा डंका, दूसरे नंबर की पार्टी बनी बीजेपी

बंगाल चुनाव के परिणाम में बीजेपी फ्लॉप साबित होती दिख रही है।

नई दिल्ली: पश्चिम बंगाल पंचायत चुनाव के नतीजे में तृणमूल कांग्रेस ने बाजी मारी है। चुनाव परिणाम में टीएमसी सबसे बड़ी पार्टी बनकर उभरी है। अभी तक आए चुनाव परिणामों में TMC को 4, 713 ग्राम पंचायतों पर जीत दर्ज हुई है। वहीं 2,762 सीटों पर पार्टी को भारी बढ़त है। बीजेपी दूसरे नंबर पर है। जबकि माकपा तीसरे स्थान पर है। मतगणना केंद्रों पर सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए गए हैं। बता दें कि 14 मई को भारी हिंसा के बीच 621 जिला परिषद, 6,123 पंचायत समितियों और 31,802 ग्राम पंचायतों के लिए मतदान हुआ था। करीब 572 बूथों पर गड़बड़ी की शिकायत के बाद 16 मई को दोबारा मतदान कराया गया था। वहीं मतगणना केंद्रों पर गुरुवार को भी खूनी संघर्ष दिखा। प. बंगाल पंचायत के चुनाव के नतीजे हिंसक घटनाओं के साथ आने लगे। मतगणना केंद्रों पर विपक्ष के पोलिंग एजेंटों और विपक्ष के उम्मीदवारों पर हमले हुए हैं। उम्मीदवारों और एजेंटों को मतगणना केंद्रों से बाहर कर दिए गए। उत्तर दीनाजपुर में दो लोगों को गोली मारी गई है। बताया जा रहा है कि टीएमस कार्यकर्ताओं ने कई गाड़ियों में तोड़फोड की है। बीजेपी, सीपीएम और कांग्रेस के कार्यकर्ता डीएम ऑफिस के बाहर प्रदर्शन कर रहे हैं।

 

ये भी पढ़ें: सीएम बनते ही येदियुरप्पा का बड़ा एक्शन, 4 आईपीएस अधिकारियों का किया तबादला

टीएमसी ने मारी बाजी
पश्चिमी बर्धवान के श्रीरामपुर ग्राम पंचायत की सभी सीटें टीएमसी ने जीतीं हैं। ईस्ट मिदनापुर जिले की नंदीग्राम ब्लॉक-1 की सभी 10 ग्राम पंचायत की सीटों पर टीएमसी ने जीत हासिल की है। आपको बता दें कि 107 पंचायत समिति सीटों और 204 जिला परिषद की सीटों पर टीएमसी ने बढ़त बना रखी है और इनमें से कई सीटों पर टीएमसी की जीत करीब-करीब पक्की बताई जा रही है। विपक्षी पार्टियां जिसमें बीजेपी भी शामिल है, टीएमसी के सामने अब तक कोई बड़ी सफलता नहीं जुटा पाई है। बता दें कि पश्चिम बंगाल में पंचायत चुनाव के दौरान हुई हिंसा में 12 लोगों की मौत हुई थी । जबकि 43 लोग घायल हो गए थे।

काफी अहम है पंचायत चुनाव के नतीजे
बंगाल में जिला परिषद की कुल 825 सीटों में 204 सीट पर टीएमसी के उम्मीदवार निर्विरोध चुने गए हैं। यहां चुनाव नहीं कराए गए। वहीं पंचायत समिती की कुल 9,217 सीटों में 3,059 यानी 33.18 प्रतिशत सीटों पर चुनाव ही नहीं हुए। पंचायत चुनाव के नतीजों को काफी अहम माना जा रहा है । इससे अंदाजा लगेगा कि जमीनी स्तर पर टीएमसी, बीजेपी, सीपीएम के ताकत का अंदाजा लग सकेगा।

Ad Block is Banned