सलमान खुर्शीद की पत्नी के NGO पर सख्त केंद्र सरकार, यूपी से है रिपोर्ट का इंतजार

सलमान खुर्शीद की पत्नी के NGO पर सख्त केंद्र सरकार, यूपी से है रिपोर्ट का इंतजार

Kapil Tiwari | Publish: Feb, 15 2018 11:24:42 AM (IST) राजनीति

केंद्रीय मंत्री थावर चंद गहलोत ने कहा है कि इस मामले में बस यूपी से रिपोर्ट का इंतजार है, उसके आरोपियों को बख्शा नहीं जाएगा।

नई दिल्ली: यूपीए सरकार में विदेश और कानून मंत्री रहे सलमान खुर्शीद की पत्नी लुईस खुर्शीद के एनजीओ पर जालसाजी का मामला एक बार फिर से गरमा गया है। मौजूदा समय में केंद्र सरकार में सामाजिक न्याय मंत्री थावरचंद गहलोत ने इस मामले को हवा देते हुए कहा है कि इस संबंध में उत्तर प्रदेश की जांच संस्था तेजी से कार्रवाई कर रही है और जांच पूरी होने के बाद उत्तर प्रदेश सरकार को तुरंत इस मामले में रिपोर्ट देने के लिए कहा है।

यूपी के सीएम ने जल्द जांच पूरी होने का दिलाया भरोसा
गहलोत ने कहा कि इस संबंध में उन्होंने खास तौर से उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से भी बातचीत की है। मुख्यमंत्री ने भरोसा दिया है कि जांच पूरी होने के बाद केंद्र सरकार को तुरंत रिपोर्ट भेजी जाएगी। वहीं गहलोत ने बताया कि इस संबंध में उनके मंत्रालय ने कानून मंत्रालय से भी राय मांगी थी। कानून मंत्रालय ने कहा है कि यूपी की जांच एजेंसी की रिपोर्ट देने के बाद ही आगे की कार्यवाही की जाएगी।

सरकार ने ठोस कार्रवाई की कही बात
गहलोत ने बताया कि मोदी सरकार ने इस मामले को गंभीरता से लिया है और हमारी कोशिश है कि जल्द से जल्द इस मामले की जांच पूरी हो और रिपोर्ट आए। खुर्शीद के एनजीओ को ब्लैक लिस्टेड किया है। उनके NGO को मंत्रालय अब किसी तरह का भी कोई आर्थिक सहयोग नहीं दे रहा है। उन्होंने उम्मीद जताई कि इस महीने के अंत में यूपी सरकार केंद्रीय सामाजिक न्याय मंत्रालय को रिपोर्ट दे सकती है। गहलोत ने कहा उन्हें उम्मीद हैं कि जल्द ही इस संबंध में सरकार कोई ना कोई कदम उठाएगी।

क्या है मामला ?
सलमान खुर्शीद का एनजीओ डॉ. जाकिर हुसैन मेमोरियल ट्रस्ट पर विकलांगों के उपकरण वितरण के अभिलेखों में जालसाजी करने का आरोप है। बताया जाता है कि उनकी बीवी लुईस खुर्शीद यह एनजीओ चलाती है। साल 2012 में अरविंद केजरीवाल ने यह मामला उठाया था। उस समय इस मुद्दे पर काफी राजनीति गरमाई थी। मीडिया में भी यह मुद्दा काफी सुर्खियों में रहा था।

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned