प्रतापगढ़ के दो युवकों सहित नकली नोट के मामले में 5 आरोपी उज्जैन से गिरफ्तार

एक लाख के असली नोट के बदले दे रहे थे 1.60 लाख के नकली नोट

By: Rakesh Verma

Published: 02 Mar 2021, 09:52 AM IST

उज्जैन. असली नोट की कलर फोटो कॉपी कर उसे टिंचर मिले पानी में डूबोकर कलर फिक्स कर नोट बनाने वाले पांच बदमाशों को रविवार रात स्पेशल टास्क फोर्स ने पकड़ा है। इनके पास से 13 लाख 35 हजार रुपए के नकली नोट जब्त हुए। सभी नोट 2000 और 500 के हैं। पूछताछ में पता चला कि प्रतापगढ़ में रहने वाला युवक गिरोह का सरगना है, वहीं सुसनेर में रहने वाला युवक भी इनका साथी है। इस पर पुलिस उसे सोमवार दोपहर को पकड़ कर लाई। ये बड़े व्यापारियों और अपराधी किस्म के लोगों को लालच देकर एक लाख रुपए के बदले उन्हें एक लाख 60 हजार रुपए के नकली नोट देते थे। इसके लिए ये अपने ग्राहकों को डेमोस्ट्रेशन करके भी बताते थे। एसटीएफ एसपी अंजना तिवारी ने बताया कि रविवार रात मुखबिर से सूचना मिली थी कि आगर रोड वेयर हाउस के पास एक कार खड़ी है, जिसमें नकली नोट रखे हैं और कुछ लोग उन्हें ठिकाने लगाने की कोशिश में है।
इस पर निरीक्षक दीपिका शिंदे की टीम ने दबिश मारकर कार आरजे 35 सीए 0591 से चार लोगों को गिरफ्तार किया। इनमें सद्दाम व नईम उर्फ नियाज निवासी प्रतापगढ़ए मेहमूद खां निवासी आगर, गोवर्धन निवासी नईखेड़ी भैरवगढ़ को गिरफ्तार किया था। पूछताछ में इनके पांचवे साथी संतोष निवासी सुसनेर के बारे में पता चलाए जिसे दोपहर में गिरफ्तार किया है। आरोपियों के पास से 13 लाख 35 हजार रुपए के नकली नोट मिले हैं। इसके अलावा इनके पास से कलर प्रिंटर, टिंचर व अन्य सामग्री जब्त हुई है।
ग्राहकों को दिखाते थे डेमो
निरीक्षक दीपिका शिंदे ने बताया कि प्रतापगढ़ में रहने वाले दोनों युवक गिरोह के सरगना है और इनका आपराधिक रिकार्ड भी है। ये बदमाश 2 हजार और 500 के नोट की कलर फोटो कॉपी कर उसके कलर को टिंचर मिले पानी से फिक्स्ड करते थे। यह डेमो यह अपने ग्राहकों को भी दिखाते थे। इसके लिए ये व्यापारी या आपराधिक लोगों को एक लाख के बदले 1 लाख 60 हजार का लालच देकर उन्हें नोट देते थे।
तीन मार्च तक रिमांड पर
निरीक्षक दीपिका शिंदे ने बताया कि आरोपियों को तीन मार्च तक रिमांड पर लिया है, जिसमें इनसे पूछताछ की जा रही है कि इन्होंने अब तक कितने लोगों को नकली नोट चलाने के लिए दिए हैं। एक टीम राजस्थान भी भेजी गई है। जहां से इनके अपराधों के बारे में जानकारी लगी


383 किलो डोडाचूरा के साथ दो आरोपी गिरफ्तार, पिकअप व बाइक जब्त

प्रतापगढ़. पुलिस द्वारा अवैध मादक पदार्थों की तस्करी की रोकथाम एवं लोकल स्पेशल एक्ट के अभियान के तहत हथुनिया थाना पुलिस ने सोमवार को 383 किलो डोडाचूरा के साथ दो आरोपी गिरफ्तार किए गए। थानाधिकारी नरेन्द्र सिंह ने बताया कि नाकाबंदी के दौरान बेलारा रोड कुलथाना पर एक व्यक्ति मोटरसाइकिल लेकर कुलथाना की तरफ से आया। पुलिस जाप्ते को देख वह वापस घुमकर भागने की कोशिश करने लगा। इसे जाप्ते ने मोटरसाइकिल चालक को पकड़ा। पूछताछ में उसने अपना नाम निर्भयराम पिता रामनारायण बताया। वह कुलथाना का रहने वाला है। पुलिस उससे पूछताछ कर ही रही थी कि इसी दरमीयान कुलथाना गाव की तरफ से एक पिकअप आई। रोकने का इशारा करने पर वह पहले ही रुक गया और चालक उतरकर भाग गया। पिकअप के केबिन में देखने पर खलासी साइड में एक व्यक्ति बैठा मिला। उसने अपना नाम नाम तुलसीराम पिता बालुराम निवासी कुलथाना बताया। तुलसीराम ने भागने वाले पिकअप चालक का नाम राकेश पिता किशनलाल निवासी कुलथाना बताया। पिकअप से काले व सफेद रंग के प्लास्टिक से भरे कट्टे मिले। उनमें डोडाचूरा भरा था। उसका कुल वजन- 383 किलोग्राम था। थाना हथुनिया पर प्रकरण दर्ज कर अरनोद थानाधिकारी को सौंपी।

Rakesh Verma Bureau Incharge
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned