Blockage in Drain नहीं हुआ ये काम तो डूब जाएंगी कई कॉलोनियां

गंदगी से अटे पड़े है शहर के नाले

By: Ram Sharma

Published: 01 Jul 2019, 11:28 AM IST

-नगर परिषद की नालों की सफाई को लेकर अब तक कोई कार्ययोजना नहीं
प्रतापगढ़. मानसून सिर पर है और शहर में अधिकांश नाले गंदगी से अटे पड़े हैं। शहर में अब तक एक दो बारिश हो भी चुकी है वहीं आने वाले दिनों में तेज बारिश के कई दौर आएंगे। जिसके चलते नालों में पानी की आवक बढ़ेगी और नालों की गंदगी के चलते नालों से गंदगी और पानी सडक़ों पर आएगा। जिसके चलते लोगों को खासी परेशानी का सामना करना पड़ेगा।
एक घंटे की बारिश में कॉलोनियों में फैला नालियों का पानी
शहर में एक घंटे तक लगातार बारिश के कारण कई कॉलोनियों में नालियों का पानी सडक़ों पर फैल गया। नालियों की नियमित सफाई नहीं होने के कारण इनमें कचरा जमा हो गया। इससे ये नालियां जाम पड़ी हुई है। वहीं अब बारिश के कारण पानी निकासी नहीं होने के कारण नालियों का पानी सडक़ों पर आने लगा है। शहर के हाउसिंग बोर्ड कॉलोनी में भी नालियों का पानी सडक़ों पर आने के कारण लोगों के घरों में गंदा पानी घुसने लगा। इसके कारण कॉलोनीवासियों ने ही नालियों की सफाई कर पानी निकलने की जगह बनाई।

अब तक सफाई पर नहीं ध्यान
मानसून नजदीक होने और शहर में अधिकतर नाले गंदगी से अटे पड़े होने के बावजूद नगर परिषद ने अभी तक शहर के गंदगी से अटे पड़े इन नालों पर कोई ध्यान नहीं दिया है। बारिश के पानी की निकासी में मुख्य भूमिका निभाने वाले नालों का सफाई का कार्य अभी तक शुरू नहीं हुआ है। जबकि शहर में हर बार बारिश के दौरान अधिकतर नाले छलक पड़ते है।
स्वच्छ सर्वेक्षण के दौरान हुई थी अच्छी सफाई
नगरपरिषद की ओर से दिसम्बर 2017 में स्वच्छ सर्वेक्षण अभियान के दौरान शहर के इन नालों की काफी अच्छी साफ-सफाई करवाई गई थी जिससे ये नाले साफ नजर आने लगे थे लेकिन तब से लेकर अब तक ढंग से सफाई नहीं करवाई गई। जिसके चलते नाले फिर गंदगी से भर गए हैं।
लोग समझते हैं कचरा पात्र
शहर के लोग लंबे समय से इन नालों को गंदगी डालने के लिए कचरा पात्र के रुप में इस्तेमाल कर रहे हैं। सफाई कर्मचारी भी इसमें पीछे नहीं रहते और वे भी इसमें कचरा डाल देते हैं। ऐसे में हर वर्ष ये नाले गंदगी से भर जाते हैं। नगरपरिषद प्रशासन हर साल बारिश का मौसम शुरू होने से पहले इनकी सफाई करवाता है। सफाई करवाने से पानी की आसानी से निकासी हो जाती है, लेकिन इस बार मानसून आने में काफी कम समय शेष बचा है, लेकिन नगर परिषद ने अभी तक नालों की सफाई की ओर कोई ध्यान नहीं दिया है।
नालियों की ओर बिल्कुल ध्यान नहीं
शहर की विभिन्न कालोनियों की नालियों के सफाई की जिम्मेदारी परिषद की ही है, उसे भी महीनों तक साफ नहीं किया जा रहा है। नालियां साफ न होने से शहर की कई कॉलोनियों में गंदा पानी सडक़ों पर जमा है और शिकायतों के बावजूद कोई झांक कर भी नहीं देख रहा।
एनएच के नालों पर आंखें बंद किए बैठा प्रशासन
राष्ट्रीय राजमार्ग पर स्थित नालों को साफ करने को लेकर अधिकारी पूरी तरह से आंखें मूंदे बैठे हैं। सडक़ किनारें स्थित नालें भी लम्बे समय से सफाई को लेकर तरस रहे है। सफाई नहीं होने के कारण नालों में पानी जमा होने के कारण आस-पास के घरों वालों के लिए मुसीबत बने बनी हुई है। वहीं तेज बारिश के दौरान इन नालों में भरी गंदगी के चलते गंदा पानी सडक़ों औरमकानों-दुकानों में घुसकर काफी परेशानी पैदा कर सकता है।
बदबू की समस्या भी
शहर में कई नालों के किनारे प्रमुख मार्ग स्थित हैं। नालों में गंदगी के चलते यहां से गुजरने वाले राहगीरों और वाहन चालकों को इनसे उठती बदूब के कारण काफी समस्या का सामना करना पड़ता है। बुरी तरह गंदगी से अटे नालों के कारण पास से निकलने पर बदबू के कारण मुंह व नाक पर रूमाल रखना पड़ता है और आंखें भी फेरनी पड़ती है।
-----------------
यहां गंदगी से भरे है नाले
एमजी रोड स्थित नाला
गलजी का कुआं के पास स्थित नाला
सब्जी मण्डी के पास बना नाला
हाईस्कूल रोड स्थित नाला
धमोतर धरवाजे के बाहर स्थित नाला
देवगढ़ दरवाजे के बाहर नाला
इंद्रिरा कॉलोनी स्थित नाला
अम्बेडकर सर्किल स्थित नाला
रामद्वारा के पास स्थित नाला
बगवास स्थित कच्ची बस्ती नाला

 

Ram Sharma Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned