आशाएं और स्वास्थ्य मित्र नहीं दिखा रहे रुचि

प्रतापगढ़.
-प्रतापगढ़ जिले में कारोना टीकाकरण का रोजाना का लक्ष्य आधा ही पहुंच पा रहा है। इसके तहत जहां चिकित्साकर्मियों को टीके लगाए जा रहे है। वहीं अभियान के पहले चरण में शामिल किए गए आशा सहयोगिनी और स्वास्थ्य मित्रों की इसमें रुचि नहीं है। ऐसे में टीके लगाने के लिए बहुत कम पहुंच रहे हैं।

By: Devishankar Suthar

Published: 21 Jan 2021, 09:08 AM IST


-जिले में कोरोना टीकाकरण की लक्ष्य के अनुरूप नहीं पहुंच रहे सेंटर पर
-रोजाना के लक्ष्य का आधे हीं लग पा रहे टीके
प्रतापगढ़.
-प्रतापगढ़ जिले में कारोना टीकाकरण का रोजाना का लक्ष्य आधा ही पहुंच पा रहा है। इसके तहत जहां चिकित्साकर्मियों को टीके लगाए जा रहे है। वहीं अभियान के पहले चरण में शामिल किए गए आशा सहयोगिनी और स्वास्थ्य मित्रों की इसमें रुचि नहीं है। ऐसे में टीके लगाने के लिए बहुत कम पहुंच रहे हैं। इससे अब अन्य लोगों को भी टीके लगाने के लिए प्रेरित किया जाएगा।
जिले में कोरोना से निजात पाने के लिए टीकाकरण का १६ जनवरी से शुरू किया गया। यहां प्रथम चरण में ७ हजार टीके पहुंचाए गए है। जिले में पहले दिन ३ सौ स्वास्थ्यकर्मियों को टीके लगाने का लक्ष्य था। इसमें १५७ को ही टीके लगाए गए। वहीं दूसरे दिन १८५ को टीके लगाए गए। जबकि तीसरे दिन भी २७० के लक्ष्य के मुकाबले १७४ टीके लग पाए। रोजाना लक्ष्य के मुकाबले कम टीके लग पा रहे है। ऐसे में चिकित्सा विभाग की ओर से अब अधिक से अधिक लोगों को टीके लगाने का प्रयास किया जाएगा।
वहीं विभागीय सूत्रों के अनुसार लक्ष्य के मुकाबले कम टीके लगने के कई कारण है। जिसमें टीकाकरण में चिकित्साकर्मियों के साथ आशा सहयोगिनियों और स्वास्थ्य मित्रों को भी शामिल किया गया है। जिसमें आशाएं अभी हड़ताल पर चल रही है। वहीं स्वास्थ्य मित्रों की ओर से रुचि नहीं है। इसके अलावा गर्भवती महिलाओं, बुखार से पीडि़त, बच्चों को दूध पिलाने वाली माताएं, अन्य बीमारियों से ग्रसित लोगों को अभी टीके नहीं लगाने की गाइड लाइन है। ऐसे में लक्ष्य से कम टीकाकरण हो रहा है।
अरनोद में तीसरे दिन ५० कर्मियों को लगाए टीके
अरनोद. यहां सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र पर कोरोना टीकाकरण के तीसरे दिन मंगलवार को ५० कर्मियों को टीके लगाए गए। जिसमें स्वास्थ्यकर्मी और महिला एवं बाल विकास विभाग के अधिकारियों, कर्मचारियों को टीके लगाए गए। नोडल प्रभारी परमेश्वरसिंह ने बताया कि यहां सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र पर टीके लगाए जा रहे है।
जिले में तीसरे दिन का यहा रहा आंकड़ा
सेंटर लक्ष्य उपलब्धि
जिला चिकित्सालय १२० १०७
छोटीसादड़ी ६० १७
अरनोद ९० ५०
कुल २७० १७४
-=-=-=-=
पहले चरण में इनको किया शामिल
कर्मचारी लक्ष्य
आशा १०४२
आंगनबाड़ी ११८२
सहायिका १११४
स्वास्थ्य मित्र २०३८
चिकित्साकर्मी १७७०
कुल ७१४६
-=-(आंकड़े चिकित्सा विभाग के अनुसार)

कई कारण है, कर रहे है प्रयास
जिले में कोरोना के टीके लगाए जा रहे है। जिसमें लक्ष्य के अनुरूप कम कर्मचारी पहुंच रहे है। इसके कई कारण है। ऐसे में हम प्रयास कर रहे है कि अधिक से अधिक लोगों को टीके लगाए जाए। इसके लिए विभिन्न विभागों के सहयोग से कार्य किया जा रहा है।

डॉ. दीपक मीणा
उप मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी, प्रतापगढ़
:

Devishankar Suthar
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned