बारिश से फसलों में होने लगा नुकसान

Rakesh kumar Verma

Publish: Sep, 17 2017 10:18:55 (IST)

Pratapgarh, Rajasthan, India
बारिश से फसलों में होने लगा नुकसान

जिले में हुई बारिश

-सुबह से ही चलता रहा बारिश का दौर

प्रतापगढ़. शहर समेत जिलेभर में शनिवार को सुबह से ही बारिश का दौर शुरू हो गया था। कई स्थानों पर मूसलाधार बारिश हुई।इससे सडक़ों पर पानी बह निकला। पिछले चार दिनों से तेज गर्मी और उमस के कारण पसीने से तरबतर होते हुए लोग दिखाई दे रहे थे। जिले में शनिवार को सुबह से हलकी बारिश का दौर चालू था, वहीं दिन में झमाझम बारिश का दौर शुरू हुआ जो करीब आधे घंटे तक चली। वहीं शाम को पुन: गर्मी व उमस रही।
वातावरण में रही ठंडक
बादलों,तेज हवा और बारिश के चलते वातावरण में सुबह से ही ठंडक रही। सुबह से ही बारिश के साथ ठंडी हवा को दौर चालू रहा और मौसम खुशनुमा रहा।
कोटड़ी. क्षेत्र में तीन दिन से रोजाना बारिश हो रही है। बारिश का दौर शनिवार को भी जारी रहा। लगातार चार घंटे की बारिश हो रही है। दोपहर बाद शुरू हुई बारिश बहुत ज्यादा होने से बस स्टैंड एवं बाज़ारों में पानी भर गया। खेतों में से भी पानी बाहर निकल गया। किसान राजेन्द्रसिंह शक्तावत, बसंत शर्मा आदि ने बताया कि फसलों में उड़द, मूंग, चंवला, अगेती सोयाबीन में नुकसान होने लगा है।
चूपना.
क्षेत्र में दोपहर बाद आंधी व तूफान के साथ बारिश हुई। इससे सभी जगह पानी भर गया। बारिश दो घंटे तक हुई। मूसलाधार बारिश होने से नाले उफान के साथ बहने लगे। स्कूल परिसर में भरा पानी व सभी जगह जलमग्न हो गई।
जलोदा जागीर में आधा घंटा मूसलाधार बारिश
करजू
ग्राम पंचायत व आसपास के गांवों में शुक्रवार को सुबह से दोपहर तक तो तेज गर्मी रही व दोपहर के बाद आसमान में काले बादल छा गए। करीब दो बजे मूसलाधार बारिश शुरु हुई जो करीब आधा घंटे तक चली। तेज बारिश के साथ रिमझिम का दौर चलता रहा। तेज बारिश के कारण दुपहिया वाहन चालकों ने भी वाहन रोककर टीन शेड की शरण ली। वहीं पैदल चल रहे राहगीरों ने भी दुकान, होटल आदि के पास जाकर अपना बचाव किया। बारिश के कारण वातावरण ठंडा हो गया है।
तेज गर्जनाओं के साथ हुई बारिश
वनपुरा.
क्षेत्र के कई गांवों में सुबह से ही तेज गर्जनाओं के साथ जोरदार बारिश शुरु हुई। जो बीच-बीच में थमती हुई पूरा दिन जारी रही। इस बीच नदी-नाले भी उफान पर आने लगे वही नौगावा से भाऊगढ़ सडक़ पर पडुनी के निकट बनी पुलिया पर पानी होने से आवागमन बाधित रहा। यह पुलिया मध्यप्रदेश और राजस्थान को जोड़ती है। जिस पर अधिक आवागमन होता है। पुलिया पर तेज बहाव का पानी होने के कारण लोगों को तकरीबन 3 घंटे पुलिया पर पानी उतरने का इंतजार करना पड़ा। उसके बाद वाहन चालक धीरे-धीरे पुलिया पार करते नजर आए। ।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned