देवसेना ने की पन्नाधाय और चंदन सर्कल बनाने की मांग, दिया ज्ञापन

बैठक आयोजित

By: Rakesh Verma

Published: 10 Feb 2018, 10:26 AM IST

छोटीसादड़ी नगर के तहसील रोड स्थित पानी की टंकी के पास देवनारायण मन्दिर परिसर में शुक्रवार को गुर्जर युवा समाज और देवसेना संगठन के पदाधिकारियों की बैठक आयोजित हुई। बैठक में जिलाध्यक्ष जसपाल गुर्जर ने कहा कि मां पन्नाधाय और चन्दन गुर्जर का इतिहास सभी को पढऩा चाहिए। किस तरह मेवाड़ के इतिहास में पन्नाधाय ने देश प्रेम सर्वोपरि मानते हुए अपने सुपुत्र चन्दन का बलिदान कर दिया। शायद पन्नाधाय ना होती तो आज मेवाड़ के इतिहास अधूरा ही रह जाता। उदयसिंह और महाराणा प्रताप देखने को नहीं मिलते। उदयपुर नहीं बस पाता और विश्व इतिहास में मेवाड़ का मान ओर सम्मान नहीं हो पाता।
पिछले कुछ दशकों से मां पन्नाधाय की उपेक्षा होती जा रही है। सभी ने सहमति जाहिर कर सरकार से मांग करने का निर्णय लिया कि क्षेत्र में भी भविष्य की पीढ़ी उनके त्याग और समर्पण को अनुसरण व याद रखें।जिसके लिए कारुण्डा चौराहा को पन्नाधाय सर्कल बनाने की मांग करने का निर्णय लिया गया।
देवसेना के सभी पदाधिकारियों ने मांग सरकार से की। कारुण्डा चौराहे के मध्य मां पन्नाधाय और चन्दन गुर्जर के नाम से सर्कल बनाने की मांग को लेकर प्रधान महावीर सिंह कृष्णावत को ज्ञापन सौंपा।
ज्ञापन सौंपने में जिलाध्यक्ष जसपाल गुर्जर, जिला महासचिव सुनील गुर्जर, तहसील अध्यक्ष रविराज गुर्जर, जिला मंत्री अनिल, सूरज, जिला प्रवक्ता प्रकाश गुर्जर, जिला कोषाध्यक्ष भेरूलाल, छोटीसादड़ी नगर अध्यक्ष दीपेन्द्र, तहसील उपाध्यक्ष उदयलाल, महेश, महिपाल, तहसील महामंत्री राहुल, प्रदीप, तहसील अध्यक्ष रविराज गुर्जर ने नवीन कार्यकारिणी विस्तार किया।
तहसील मीडिया प्रमुख पुष्कर, तहसील प्रवक्ता सुनील सेमर्थली, तहसील सचिव दुर्गेश, नगर महामंत्री कुशल गुर्जर को बनाया।

============================

महाशिवरात्रि पर निकाली जाएगी शोभायात्रा
तैयारियों पर चर्चा
प्रतापगढ़.
महाशिवरात्रि पर 13 फरवरी को सनातन धर्म उत्सव समिति की ओर से शोभायात्रा निकालजी जाएगी।
शोभायात्रा प्रात: साढ़े 10 बजे किला परिसर से निकाली जाएगी। सनातन धर्म उत्सव समिति के ओमप्रकाश ओझा ने बताया कि शोभायात्रा लोहार गली से गोपालगंज, सूरजपोल, सदर बाजार, झंडा गली होते हुए दीपेश्वर महादेव मंदिर पहुचेगी। शोभायात्रा में भानपुरा पीठ के शंकराचार्य दिव्यानंद तीर्थ व अन्य संतों का सान्निध्य रहेगा। जिसके बाद दीपेश्वर जीर्णोद्वार ट्रस्ट की ओर से प्रसादी का वितरण किया जाएगा। महाशिवरात्रि के पर्व परशहर व मंदिरों में सजावट की जाएगी। शोभायात्रा में निशान, धर्म ध्वजा लिए घुडसवार, ढोल, बैंड बाजों का एवं झांकियों का समावेश होगा। साथ ही शोभायात्रा में भक्तानंद के सान्निध्य में महिलाएं सिर पर कलश धारण किए चलेंगी।

Rakesh Verma Bureau Incharge
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

अगली कहानी
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned