संसाधन होते हुए भी सुविधाओं से मोहताज है छोटीसादड़ी स्वास्थ्य केंद्र

प्रतापगढ़. छोटीसादड़ी. चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग की अनदेखी के चलते उपखण्ड मुख्यालय पर स्थित जयचन्द मोहिल सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पर संसाधनों के मौजूद होने के बाद भी आवश्यक सामग्री के अभाव में मरीजों को लाभ नहीं मिल पा रहा है।

By: Devishankar Suthar

Published: 09 Apr 2021, 08:36 AM IST


-मरीजों की जेबें हो रही खाली
-बाहर करवाना पड़ रहे एक्सरे
प्रतापगढ़. छोटीसादड़ी. चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग की अनदेखी के चलते उपखण्ड मुख्यालय पर स्थित जयचन्द मोहिल सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पर संसाधनों के मौजूद होने के बाद भी आवश्यक सामग्री के अभाव में मरीजों को लाभ नहीं मिल पा रहा है।
सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पर रोगियों के एक्सरे करने के लिए मशीन और उसे संचालन करने के लिए एक्सपर्ट भी मौजूद है। लेकिन पिछले 15 दिन से अधिक समय से एक्सरे फिल्म के अभाव में रोगियों को बाहर जाकर मोटी रकम खर्च कर एक्सरे करवाने पर मजबूर है। चिकित्सालय की ओर से एक्सरे फिल्मों की डिमांड स्वास्थ्य विभाग से कर रखी है। लेकिन 15 दिन बीत जाने के बाद भी उपलब्ध नहीं हो सकी। जिसके चलते एक्सरे मशीन का लाभ रोगियों को नही मिल पा रहा है।
दिव्यांगों के लिए बना रेम्प पर उपयोग नहीं कर सकते
चिकित्सालय के बाहर दिव्यांगों के उपचार कराने के लिए सुविधाजनक पहुंच को लेकर बनाए गए रैंप का उपयोग, दिव्यांगजन नहीं कर सकते। क्योंकि लंबे अरसे से रैंप के आगे लोहे की कडिय़ों की चैन लगा रखी है, जिसके चलते दिव्यांगजनों को सामान्य द्वार से ही सीढिय़ां चढक़र अपना उपचार कराने के लिए चिकित्सालय में जाना पड़ता है। वही लोहे की चैन लगी होने के कारण चिकित्सालय पहुंचने वाले वाहन धारी अपने वाहनों को पार्क कर देते हैं।
-
कौन कराएं कोविड.19 के नियमों की पालना
सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में उपचार कराने वाले रोगियों की संख्या बढ़ी है। जिसके चलते ओपीडी में चिकित्सकों को दिखाने के लिए और परामर्श लेने के लिए उपचार कराने आए रोगियों की लंबी कतारें लग जाती है। लेकिन कई लोग कोविड.19 नियमो की पालना नहीं करते दिखाई देते हैं।कोई कर्मचारी स्थाई रूप से मौजूद रहकर कोविड.19 के नियमों की पालना कराएं और लोगों में सोशल डिस्टेंसिंग बनाए रखने का काम करें तो संक्रमण को फैलने से रोका जा सकता है।
वाटर कूलर बना शो-पीस
अस्पताल में इन दिनों उपचार कराने वालों की संख्या काफी बढ़ा है। वहीं भीषण गर्मी में चिकित्सालय में भर्ती रोगियों ओर उपचार कराने आने वाले व्यक्तियों की प्यास बुजाने के लिए यहां लगे आरओ और शीतल जल के लिए लगाए गए वाटर कूलर भी बंद पड़े हुए है।
-=-=-=-=

Devishankar Suthar
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned