प्रतापगढ़ में तस्करी का मामले में फरार आरोपित गिरफ्तार

प्रतापगढ़ में तस्करी का मामले में फरार आरोपित गिरफ्तार

rajesh dixit | Publish: Dec, 29 2017 11:40:50 AM (IST) Pratapgarh, Rajasthan, India


पांच वर्ष से था वांछित


प्रतापगढ़
रठांजना पुलिस ने तस्करी के 5 प्रकरणों में 5 वर्ष से फरार आरोपित को गिरफ्तार किया है।
थाना प्रभारी भगवानलाल ने बताया कि सनवर खां पुत्र सलीम खां मुसलमान निवासी साकरिया पर तस्करी के पांच प्रकरण दर्ज थे। वह पांच वर्ष से फरार चल रहा था। उसकी गिरफ्तारी के लिए कई प्रयास किए जा रहे थे।
वह फरारी के दौरान भी मादक पदार्थ तस्करी के अवैध कार्य में सक्रिय था। लम्बे समय से आरोपी के पुलिस गिरफ्त से दूर होने पर उसे मफरुर घोषित कर 5 स्थाई वारंट जारी थे। उसकी गिरफ्तारी के लिए विशेष टीम गठित की गई। टीम ने उसकी गतिविधियों पर बारीकी से निगरानी शुरू की। उसकी जिला नीमच, मन्दसौर व बांसवाड़ा के संदिग्ध ठिकानों की गिगरानी के लिए मुखबिर लगाए गए।
इस बीच सूचना मिली की वह अपनी बहन समीना निवासी भूंगड़ा जिला बांसवाड़ा की लडक़ी की शादी में बांसवाड़ा पहुंचेगा।
जिस पर टीम द्वारा लगातार निगरानी रखी गई। सूचना पर पुलिस टीम २७ दिसम्बर को भूंगड़ा बस स्टैण्ड पहुंची और उसे गिरफ्तार किया गया हैं। पुलिस ने बताया कि वह जोधपुर केन्द्रीय नारकोटिक्स ब्यूरो तथा मन्दसौर मध्यप्रदेश के सीतामऊ थाने पर भी तस्करी के प्रकरणों में भी वांछित है हैं। उसके खिलाफ अपहरण, मारपीट, बलात्कार आदि के प्रकरण भी दर्ज होकर ट्रायल पर है।


पारेल में हुई जिला स्तरीय रात्रि चैपाल
-योजनाओं का लाभ जरूरत मंद तक ही पहुंचाना ही सच्ची सेवा-एडीएम
प्रतापगढ़. ग्रामीण जनों की जनसमस्याओं के त्वरित निराकरण के लिए बुधवार को धरियावद पंचायत समिति की पारेल ग्राम पंचायत में हुई जिला स्तरीय रात्रि चौपाल में लोगों की कई समस्याओं का हाथों-हाथ निराकरण हुआ। वहीं अतिरिक्त जिला कलक्टर ने जनप्रतिनिधियों एवं अधिकारियों से कहा कि वे विभिन्न कल्याणकारी योजनाओं का लाभ जरूरतमंद तक पहुंचाकर सच्ची सेवा का लाभ उठाएं। उन्होंने चौपाल में उपस्थित वार्ड पंचों सहित पंचायती राज संस्था के विभिन्न जन प्रतिनिधियों से सीधा संवाद किया और विभिन्न कल्याणकारी योजनाओ की जानकारी लोगों को दी । उन्होंने सचिव एवं पटवारी से श्रमिक पंजीयन की जानकारी ली। सामने आया की अभी भी कई पात्र इस योजना में जुडऩे से वंचित हैं। इस पर उन्होंने कहा कि सचिव एव पटवारी 15 दिन तक अभियान चलाकर पात्रों का चयन करें और उन्हें लाभान्वित करें । अतिरिक्त जिला कलक्टर ने श्रमिक पंजीयन से होने वाले विभिन्न लाभ की जानकारी दी और ग्रामीणों से कहा कि इस योजना में श्रमिक का पंजीयन होने एवं कार्ड जारी हो जाने के बाद असमय होने वाली दुर्घटनाओं में मृत आश्रितों को मिलने वाले विभिन्न लाभों की जानकारी भी दी। चौपाल में प्रधान रूपलाल मीणा, उपखण्ड अधिकारी वरसिंह, सरपंच आशादेवी, पंचायत समिति सदस्य सागरमल बोहरा, ग्राम सेवक कमलेन्द्र सिंह राणावत, वार्डपंचो एवं सम्बंधित अधिकारीगण, जनप्रतिनिधि एवं ग्रामीण जन मौजूद रहे।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

Ad Block is Banned