जिला प्रमुख ने घटिया निर्माण ध्वस्त करवाया

प्रतापगढ़.
जिला प्रमुख इंद्रादेव मीणा ने बुधवार को सुहागपुरा क्षेत्र का दौरा किया। यहां ग्राम पंचायत कचोटिया में भंवर सेमला बांध से निकलने वाली नहरों का औचक निरीक्षण किया। जहां सामने आया कि कार्य की गुणवत्ता सही नहीं है। इस पर तुरंत अधिकारियों को मौके पर बुलाया। फटकार लगाते हुए घटिया निर्माण कार्य को अपने सामने तुड़वाया।

By: Devishankar Suthar

Published: 10 Jun 2021, 06:56 AM IST


-अधिकारियों को लगाई फटकार
-भंवरसेमला बांध का किया निरीक्षण
-प्रतापगढ़.
जिला प्रमुख इंद्रादेव मीणा ने बुधवार को सुहागपुरा क्षेत्र का दौरा किया। यहां ग्राम पंचायत कचोटिया में भंवर सेमला बांध से निकलने वाली नहरों का औचक निरीक्षण किया। जहां सामने आया कि कार्य की गुणवत्ता सही नहीं है। इस पर तुरंत अधिकारियों को मौके पर बुलाया। फटकार लगाते हुए घटिया निर्माण कार्य को अपने सामने तुड़वाया। साथ ही पुन: गुणवत्ता के साथ जल्द कार्य शुरू करने के सख्त निर्देश दिए। जिला प्रमुख ने अधिकारियों को अंतिम चेतावनी देते हुए कहा कि भ्रष्टाचार एक कलंक है, जो क्षेत्र के विकास में बाधक है। अपने कार्य के प्रति लापरवाह अधिकारी कर्मचारी कार्यवाही के लिए तैयार रहें। घटिया काम करने वाले ठेकेदारों को तुरंत ब्लैक लिस्टेड कर उनके विरुद्ध भी कार्यवाही की जाएगी।
गौरतलब है कि हाल ही में पंचायत समिति अरनोद में अधिकारियों को भ्रष्टाचार पर चेताया था। दूसरे ही दिन पंचायत समिति सुहागपुरा क्षेत्र भ्रमण के दौरान महात्मा गांधी नरेगा एवं पंचायती राज ग्रामीण विकास योजना के कार्यों का निरीक्षण करने पहुंची। जिला प्रमुख इंद्रादेवी ने छ: दिवसीय क्षेत्र भ्रमण एवं निरीक्षण कार्यक्रम है। जिसमें गुरुवार को धरियावद पंचायत समिति के दौरे पर रहेंगी। जिला प्रमुख के साथ प्रधान भरत पारगी, उपप्रधान प्रभुलाल पाड़लिया, जिला परिषद सदस्य पिंकेश पटवा, महिला जिलाध्यक्ष लता शर्मा, पाडलिया सरपंच रामचन्द्र मीणा, कचोटिया सरपंच, विकास अधिकारी पंचायत समिति सुहागपुरा, सहायक अभियंता ग्राम विकास अधिकारी के साथ पंचायत समिति सदस्य उपस्थित रहे।
:=====
ग्रामीणों को किया जागरूक
प्रतापगढ़.
जिला विधिक सेवा प्राधिकरण सचिव (अपर जिला न्यायाधीश) शिवप्रसाद तम्बोली ने बुधवार को पाड़लिया में जागरूकता शिविर का आयोजन किया। कल्याणकारी योजनाओं की जानकारी दी गई। नालसा की विभिन्न योजनाओं की जानकारी दी गई।
शिविर में कोरोना महामारी के संबंध में भी बताया गया। कहा कि सर्दी, खांसी, जुकाम, उल्टी, दस्त जैसी स्थिति में तुरंत चिकित्सक से उपचार कराएं। ताकि बीमारी बड़ा रूप ना लें। इसी के साथ कोविड टीकाकरण के बारे में फैली भ्रांतियों को दूर करते हुए बताया कि टीकाकरण से स्वास्थ्य को कोई नुकसान नहीं है, यह कोरोना वायरस बीमारी से बचने के लिये आवश्यक है। प्रत्येक व्यक्ति को टीकाकरण अवश्य करवाना चाहिए।
शिविर के दौरान बाल विवाह निषेध अधिनियम के बारे में भी जानकारी दी गई।
प्राधिकरण द्वारा संचालित पीडि़त प्रतिकर स्कीम 2011, जन्म-मृत्यु प्रमाण पत्र की अनिवार्यता, जल संचय, नि:शुल्क विधिक सहायता, पालनहार योजना आदि के बारे में भी विस्तार से बताया। प्राधिकरण स्टॉफ महेश चन्द्र शर्मा, दिलीप शर्मा एवं होमगार्ड हेमन्त बोराणा ने मास्क एवं जागरूकता के लिए प्राधिकरण द्वारा जारी पेम्पलेट भी वितरित किए।

Devishankar Suthar
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned