तीसरी आंख की जद में रहेगा जिला चिकित्सालय


जिला चिकित्सालय में विभिन्न गतिविधियों पर नजर रखने के लिए पूरे परिसर में सीसीटीवी कैमरे लगाए जाएंगे। इसके लिए जिला चिकित्सालय प्रशासन की ओर से सीसीटीवी कैमरे लगाने का प्रस्ताव लिया है।


शीघ्र लगाए जाएंगे सीसीटीवी कैमरे
जिला चिकित्सालय में ५० और कैमरे लगाने की प्रक्रिया अगले माह से शुरू होगी
प्रतापगढ़
जिला चिकित्सालय में विभिन्न गतिविधियों पर नजर रखने के लिए पूरे परिसर में सीसीटीवी कैमरे लगाए जाएंगे। इसके लिए जिला चिकित्सालय प्रशासन की ओर से सीसीटीवी कैमरे लगाने का प्रस्ताव लिया है। इसकी टेंडर प्रक्रिया चल रही है। आगामी माह में सभी स्थानों पर कैमरे लग जाएंगे। इसके बाद यहां पूरा परिसर तीसरी आंख की जद में रहेगा। जिससे अवैध गतिविधियों पर काफी अंकुश लगने की संभावना रहेगी।
गौरतलब है कि जिला चिकित्सालय में करीब दस वर्ष पहले १६ सीसीटीवी कैमरे लगाए गए थे। इसके बाद यहां हाल ही में अभय कमांड की ओर से ६ कैमरे लगाए गए है। जो मुख्य स्थानों पर लगाए हुए है। जबकि १६ में से चार कैमरे बंद है। ऐसेे में यहां परिसर बड़ा होने और अवैध गतिविधियों के कारण कई स्थानों पर सीसीटीवी कैमरों की आवश्यकता जताई थी। इस पर जिला चिकित्सालय प्रशासन की ओर से यहां ५० सीसीटीवी कैमरे और लगाने का प्रस्ताव लिया था। इस पर अभी टेंडर प्रक्रिया शुरू कर दी गई है। जिला चिकित्सालय सूत्रों के अनुसार अगले माह यहां सीसीटीवी कैमरे लगाने की प्रक्रिया हो सकेगी।
मातृ एवं शिशु चिकित्सा इकाई में नहीं कैमरे
जिला चिकित्सालय परिसर में दो वर्ष पहले ही मातृ एवं शिशु चिकित्सा इकाई भवन बनाया गया था। हालांकि इसे शुरू हुए एक वर्ष हुआ है। लेकिन यहां भी सीसीटीवी कैमरे नहीं है। ऐसे में कई बार यहां परेशानियों का सामना करना पड़ता है। यहां विशेषकर चोरी का अंदेशा भी अधिक बना रहता है। इसके अलावा यहां नर्सिंग सेंटर भी संचालित है। जिसमें बालिकाएं प्रशिक्षण ले रही है। यहां भी सीसीटीवी कैमरे की आवश्यकता है। परिसर में ही जिला औषधि केन्द्र, टीबी चिकित्सा केन्द्र, सखी सलाह केन्द्र भी संचालित है।

यह है यहां सीसीटीवी की स्थित
६ सीसीटीवी अभय कमांड के
१६ कैमरे मुख्य चिकित्सालय भवन में
१२ कैमरे चालू, ४ कैमरे बंद
५० सीसीटीवी कैमरे अगले माह लगेंगे

परिसर में ५० कैमरे और लगाएंगे
जिला चिकित्सालय परिसर में अभी अभय कमांड के ६ व १० कैमरे लगाए हुए है। लेकिन मातृ एवं शिशु चिकित्सा इकाई और अन्य संस्थानों के अलावा पूरे परिसर में भी सीसीटीवी कैमरों की आवश्कता है। इसे देखते हुए ५० और कैमरे लगाने के लिए प्रस्ताव लिया था। इस पर टेंंडर प्रक्रिया शुरू कर दी गई है। अगले माह यहां कैमरे लगाने का कार्य शुरू कर दिया जाएगा। जिससे पूरा परिसर सीसीटीवी कैमरों में नजर में रहेगा।
डॉ. ओपी दायमा
प्रमुख चिकित्साधिकारी, जिला चिकित्सालय प्रतापगढ़

Devishankar Suthar
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned