scriptDon't get snatched the mouth got the morsel | pratapgarh weather-छीन ना जाए मुंह को आया निवाला | Patrika News

pratapgarh weather-छीन ना जाए मुंह को आया निवाला

fog and cold wave-गत दिनों से जिले में लगातार कोहरे और धुंध का असर काफी अधिक हो रहा है। ऐसे में कई इलाकों में पाला भी पड़ा है।

प्रतापगढ़

Published: January 17, 2022 08:57:07 am

Damage to crops due to fog and cold wave
गत दिनों से जिले में लगातार कोहरे और धुंध का असर काफी अधिक हो रहा है। ऐसे में कई इलाकों में पाला भी पड़ा है। जिससे फसलों पर विपरित प्रभाव देखा जा रहा है। जिससे किसानों में चिंता बढ़ गई है। जहां इस वर्ष अधिक बारिश के कारण खरीफ की फसल खराब होने से किसानों की आर्थिक हालत खराब हो गई थी। ऐसे में अब रबी की फसल से किसानों को आस है। लेकिन गत दिनों से मौसम की मार से फसलें प्रभावित होने लगी है। ऐसे में किसानों के मुंह को आया निवाला छीन जाने की आशंका है। जिस कारण भूमिपुत्रों में चिंता बढ़ रही है।
pratapgarh weather-छीन ना जाए मुंह को आया निवाला
pratapgarh weather-छीन ना जाए मुंह को आया निवाला
pratapgarh weather-
गत दिनों से कड़ाके की सर्दी पड़ रही है। जबकि करीब एक सप्ताह से अधिक दिनों से कोहरा और धुंध का काफी असर हो रहा है। तेज शीतलहर और गलनभरी सर्दी से पारे में गिरावट हो रही है। जिससे हाडकंपाने वाली सर्दी से जनजीवन काफी प्रभावित हो रही हैं। जिले में रविवार सुबह 11 बजे घना कोहरा छाया रहा। इससे दिनभर गलन भरी सर्दी का असर रहा। कोहरे के कारण दृश्यता काफी कम रही। घने कोहरे से आमजन को काफी परेशानी का सामना करना पड़ा। गत दिनों से कई इलाकों में पाले का असर देखा जा रहा है। जिससे फसलों में प्रभाव दिखाई दे रहा है। खासकर सब्जीवर्गीय फसलों में असर देखा जा रहा है। इसके अलावा फसल वर्गीय में पपीते में असर दिखाई देने लगा है।
सब्जी के पौधों में नुकसान
जिले में पाला पडऩे से सब्जी वर्गीय फसलों में नुकसान देखा जा सकता है। इसमें टमाटर, गोभी, बैंगन, मिर्ची के साथ बेलवर्गीय में भी नुकसान हुआ है।
छोटीसादड़ी. क्षेत्र में लगातार सर्दी का असर जारी है। दिन में लोग अलाव जलाकर ताप रहे हैं। रविवार सुबह 10 बजे तक नगर व क्षेत्र में कोहरा छाया रहा, जिसके कारण सर्दी और बढ़ गई। सडक़ पर वाहन चालकों को वाहनों को चलाना मुश्किल हो गया। हाइवे से निकलने वालें वाहन चालकों को वाहनों की लाइट जलाकर चलना पड़ा। कोहरे से खेतों में खड़ी कुछ फसल को नुकसान होगा तो कुछ को फायदा होगा।
अरनोद. सुबह से ही कोहरा और धुंध काफी अधिक रही। हालात यह रही कि लोगों को सर्दी से राहत नहीं मिली। इससे लोग 11 बजे तक भी घरों से बाहर नहीं निकले। इसके साथ ही वाहनों को 10 बजे तक भी हैड लाइटें लगाकर रैंगना पड़ा। गत दिनों से पाले का भी असर देखा जा रहा है। किसान पन्नालाल धनगर, अशोक भावसार ने बताया कि कलौंजी, धनिया, सब्जी में नुकसान देखा गया है। पौधे झुलस गए है। इससे उत्पादन पर काफी असर पड़ेगा।
=--=-
जिले में बुवाई की स्थिति
फसल इस वर्ष
गेहूं 65530
जौ 2000
चना 28000
मसूर 2000
सरसों 16000
अलसी 3000
अन्य 28000
कुल 152000
(आंकड़े कृषि विभाग के अनुसार)

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

1119 किलोमीटर लंबी 13 सड़कों पर पर्सनल कारों का नहीं लगेगा टोल टैक्सयहाँ बचपन से बच्ची को पाल-पोसकर बड़ा करता है पिता, जैसे हुई जवान बन जाता है पतिशुक्र का मेष राशि में गोचर 5 राशि वालों के लिए अपार 'धन लाभ' के बना रहा योगराजस्थान के 16 जिलों में बारिश-आंधी व ओलावृ​ष्टि का अलर्ट, 25 से नौतपाजून का महीना इन 4 राशि वालों के लिए हो सकता है शानदार, ग्रह-नक्षत्रों का खूब मिलेगा साथइन बर्थ डेट वालों पर शनि देव की रहती है कृपा दृष्टि, धीरे-धीरे काफी धन कर लेते हैं इकट्ठा7 फुट लंबे भारतीय WWE स्टार Saurav Gurjar की ललकार, कहा- रिंग में मेरी दहाड़ काफीशुक्र देव की कृपा से इन दो राशियों के लोग लाइफ में खूब कमाते हैं पैसा, जीते हैं लग्जीरियस लाइफ

बड़ी खबरें

अनिल बैजल के इस्तीफे के बाद Vinai Kumar Saxena बने दिल्ली के नए उपराज्यपालISI के निशाने पर पंजाब की ट्रेनें? खुफिया एजेंसियों ने दी चेतावनीममता बनर्जी ने केंद्र सरकार पर साधा निशाना, कहा - 'भाजपा का तुगलगी शासन, हिटलर और स्टालिन से भी बदतर'Haj 2022: दो साल बाद हज पर जाएंगे मोमिन, पहला भारतीय जत्था 4 जून को होगा रवानाWomen's T20 Challenge: पहले ही मैच में धमाकेदार जीत दर्ज की सुपरनोवास ने, ट्रेलब्लेजर्स को 49 रनों से हरायालगातार बारिश के बीच ऑरेंज अलर्ट जारी, केदारनाथ यात्रा पर लगी रोक, प्रशासन ने कहा - 'जो जहां है वहीं रहे'‘सिंधिया जिस दिन कांग्रेस छोडक़र गए थे, उसी दिन से उनका बुढ़ापा शुरू हो गया था’Asia Cup Hockey 2022: अब्दुल राणा के आखिरी मिनट में गोल की वजह से भारत ने पाकिस्तान के साथ ड्रा पर खत्म किया मुकाबला
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.