मिलने के बाद भी सभापति आखिर अब तक क्यों नहीं आए प्रतापगढ़? ....जानने के लिए पढ़े पूरी खबर

मिलने के बाद भी सभापति आखिर अब तक क्यों नहीं आए प्रतापगढ़? ....जानने के लिए पढ़े पूरी खबर

rajesh dixit | Publish: May, 22 2018 12:14:53 PM (IST) Pratapgarh, Rajasthan, India


अभी स्पष्ट नहीं बोल पा रहे कमलेश डोसी


क्या हुआ उनके साथ
अभी स्पष्ट नहीं बोल पा रहे कमलेश डोसी
सिर, गले और हाथ में चोटें
प्रतापगढ़. पांच दिन से गायब सभापति कमलेश डोसी मिल तो गए, लेकिन अभी तक प्रतापगढ़ नहीं आए हैं, जबकि मंगलवार को उनके प्रतापगढ़ आने की पूरी सम्भावना थी। वे बेंगूलुरू में सोमवार को मिले थे। दोपहर में उन्होंने परिजनों से बात की। शाम को बेंगलूरू से फ्लाइट से अहमदाबाद रवाना हो गए। यहां वे शाम को पहुंच गए। लेकिन शाम को प्रतापगढ़ आने की अपेक्षा वे वहीं पर रुक गए हैं।
करा रहे इलाज
बेंगलूरु से मिले नगर परिषद सभापति कमलेश डोसी को सोमवार रात को अहमदाबाद के एचसीडी नवरंगपुरा चिकित्सालय में भर्ती कराया गया है। जहां उपचार जारी है। गौरतलब है कि मुम्बई से ट्रेन में बैठने के दौरान डोसी के साथ मारपीट और लूट की घटना की जानकारी सामने आ रही है। इसके बाद से ही वे बदहवास है। अहमदाबाद में एयरपोर्ट पर उतरने के बाद स्थिति को देखते हुए परिजनों और प्रतापगढ़ के अन्य लोगों ने चिकित्सालय में भर्ती कराया गया है। जहां उपचार जारी है।

चाकू के निशान है
कमलेश डोसी के शरीर पर कई चोटों के निशान हैं। मुंह, गले, हाथ पर धारदार हथियार से चोटों के निशान हैं। वहीं दो दिन तक बदहवास होने के कारण अभी तक वे स्पष्ट नहीं बोल पा रहे है। बताया गया कि ट्रेन में लुटेरों ने मारपीट की, इसके बाद कुछ पदार्थ सुंघा दिया, जिससे वे बदहवास हो गए। ऐसे में उनकी मानसिक स्थिति भी बिगड़ गई। जिस कारण कहां जा रहे है, किस टे्रन में बैठ रहे है, इसका भी कुछ पता नहीं रहा और वे बेगलूरु पहुंच गए।

बेगलूरु में मिले थे बदहवास
मुम्बई से १७ मई रात को लापता प्रतापगढ़ नगर परिषद सभापति कमलेश डोसी सोमवार सुबह पांचवें दिन बेंगलूरु के यशवंतपुर स्टेशन पर बदहवास हालत में मिले थे। उनकी हालत देख कनार्टक राज्य पर्यटन विकास निगम के एजेंट बालाजी और प्रवासी राजस्थानी मार्बल व्यवसायी प्रदीप मानधाना मदद के लिए आगे आए। उन्होंने डोसी की प्रतापगढ़ में परिजनों से बात कराई। डोसी ने एक ही रट लगाई हुई थी कि उन्हें घर भिजवा दो। इसके बाद बेंगलूरु में निवासरत प्रतापगढ़ के लोग मौके पर पहुंचे। इसके बाद डोसी को विमान से अहमदाबाद भेजा गया।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

Ad Block is Banned