परीक्षा सामान्य प्रक्रिया, इसका भय दिमाग से निकालें

- राष्ट्रपति अवार्ड प्राप्त पूर्व शिक्षाधिकारी बता रहे हैं परीक्षा प्रबंधन के गुर

By: Hitesh Upadhyay

Updated: 07 Mar 2020, 08:28 PM IST

परीक्षा सामान्य प्रक्रिया, इसका भय दिमाग से निकालें
- राष्ट्रपति अवार्ड प्राप्त पूर्व शिक्षाधिकारी बता रहे हैं परीक्षा प्रबंधन के गुर
प्रतापगढ़.माध्यमिक शिक्षा बोर्ड की परीक्षाएं शुरू हो चुकी है। शुरूआत बारहवीं कक्षा से हुईहै। आगामी 12 मार्च को दसवीं की परीक्षाएं आरंभ होगी। जाहिर है कि परीक्षार्थी इस समय तनाव में होंगे। वे इन परीक्षाओं का प्रबंधन कैसे करें। परीक्षा का भय कैसे दूर करें। इसके लिए पत्रिका की ओर से यहां पेश है राष्ट्रपति अवार्ड प्राप्त पूर्व शिक्षा अधिकारी विष्णु शर्मा की सलाह। विष्णु शर्मा ने शारीरिक शिक्षक से अपने करियर की शुरूआत की और उप जिला शिक्षा अधिकारी के पद से सेवानिवृत्त हुए। शिक्षा जगत में उल्लेखनीय कार्यो के कारण उन्हें वर्ष 2013 में राष्ट्रपति पुरस्कार मिल चुका है।
- परीक्षा का भय अपने दिमाग से निकाल दें। परीक्षा एक सरल एवं सहज प्रक्रिया है।
- परीक्षा केवल आपके शैक्षणिक ज्ञान का परीक्षण नहीं है वरन् यह आपकी शांति, स्थिरता और साहस की परीक्षा है।
- परीक्षा के दिनों में तनाव बिल्कुल नहीं रखना है जो स्टूडेंट्स परीक्षा के दिनों में तरोताजा रहते हैं। वें अच्छा स्कोर कर जाते हैं।
- अब परीक्षा समय में नये टॉपिक पर ध्यान न दें, जो पढ़ चुके हैं उसे ही रिवीजन करें ज्यादा बेहतर होगा।
- परीक्षा कक्ष में पहुंचने के 2 घंटे पूर्व पाठ्य पुस्तकों को छोडकऱ स्नान करें, हल्का फुल्का नाश्ता करें एवं दिमाग को शांत रखें।
परीक्षा के दौरान जो प्रश्न सरल व तुरंत हल हो रहे हो उन्हें पहले हल करें।अन्त में कठिन प्रश्नों को हल करें।
बच्चों के माता-पिता से भी आग्रह है कि परीक्षा को लेकर बच्चों पर दबाव बिल्कुल नहीं बनावें।
सहज प्रक्रिया में बच्चों को को परीक्षा से पूर्व स्नान इत्यादि- तैयार होने में - हल्का नाश्ता व दूध दें। उत्साहवर्धन कर परीक्षा के लिए भेजें। आवश्यक परीक्षा सामग्री जो परीक्षा कक्ष में ले जाने के लिए मान्य है बच्चों को याद दिला कर रवाना कर #SwarnimBharat

Hitesh Upadhyay
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned