जुनी रणा में ग्रामीणों के साथ जंगल में तैनात वन विभाग के कर्मचारी


प्रतापगढ़.
-प्रतापगढ़. जिले के सीतामाता अभयारण्य के जुनी रणा इलाके के मांडकला में गत दिनों से एक पैंथर के आदमखोर होने के बाद वन विभाग के आला अधिकारी और कर्मचारी मौके पर मौजूद थे। जहां पैंथर को पकडऩे के लिए पूरी कोशिश की जा रही है।

By: Devishankar Suthar

Published: 27 Sep 2021, 08:11 AM IST


-लगातार बारिश और घने जंगल से पैंथर नहीं हो पा रहा ट्रेप
-जंगल में हर गतिविधि पर निगाह रखे हुए है वन विभाग
प्रतापगढ़.
-प्रतापगढ़. जिले के सीतामाता अभयारण्य के जुनी रणा इलाके के मांडकला में गत दिनों से एक पैंथर के आदमखोर होने के बाद वन विभाग के आला अधिकारी और कर्मचारी मौके पर मौजूद थे। जहां पैंथर को पकडऩे के लिए पूरी कोशिश की जा रही है। यहां पैंथर के संभावित इलाकों में अब तक सात पिंजरे लगाए गए है। इसी इलाके में जगह-जगह ५ ट्रेप कैमरे लगाए गए है। वहीं वन विभाग की ओर से दो ट्रेंक्यूलाइज्ड टीमें भी मौके पर मौजूद है। जो आदमखोर पैंथर की गतिविधियों पर नजर रखे हुए है। जबकि गत दिनों से लगातार बारिश और यहां घने जंगल के कारण पैंथर को ट्रेप करने में परेशानी हो रही है।
उपवन संरक्षक सुनीलकुमार ने बताया कि यहां जुनी रणा ग्राम पंचायत इलाके के मांडकला गांव के करीब साढ़े तीन किलोमीटर इलाके में एक पैंथर ने मवेशियों और इंसानों पर हमले करने शुरू कर दिए थे। जिसमें एक महिला की मौत हो गई थी। जबकि एक मासूम और एक युवक को घायल कर दिया था। घायलों को धरियावद चिकित्सालय में उपचार चल रहा है। इसके बाद से वन विभाग की टीमें जुनी रणा के मांडकला गांव में तैनात है।
--घर-घर में कर रहे समझाइश
यहां गांव के लोग आदखोर पैंथर के कारण काफी दहशत में है। ऐसी स्थिति में यहां ग्रामीणों के साथ वन विभाग के कर्मचारी रह रहे हैं। जो रात को आग लगाकर रतजगा कर रहे है। इसके साथ ही दिनभर यहां गांवों में और इलाकों में समझाइश कर रहे हैं। जिसमें आदमखोर पैंथर से अपने आप को सुरक्षित रहने के लिए बताया जा रहा है।
-= =-= बच्चे पर किया बिज्जू ने हमला
प्रतापगढ़. देवगढ़ थाना इलाके के देवपुरा गांव के ओड़ा फलां में शनिवार सुबह एक बच्चे पर वन्यजीव बिज्जू ने हमला कर दिया। जिससे बच्चे के मुंह पर घाव हो गए। बच्चे को जिला चिकित्सालय में भर्ती कराया गया है।
सूचना पर वन विभाग के अधिकारी मौके पर पहुंचे। जहां मौका-मुआयना किया। वहीं ग्रामीणों को बाहर जाते यमस सावचेत रहने की सलाह दी गई है।
देवगढ़ रेंजर दारासिंह राणावत ने बताया किओड़ा फलां में भेरूलाल मीणा का साढ़े तीन वर्ष का बालक हरीश सुबह घर के पीछे कुछ दूरी पर शौच के लिए गया था। जहां झाडिय़ों में बैठे एक बिज्जू ने हमला कर दिया। जिससे हरीश के मुंह पर पंचों से घायल कर दिया। बच्चे के आवाज लगाने पर परिजन पहुंचे और बच्चे को जिला चिकित्सालय ले जाया गया। वहीं सूचना पर वन विभाग के कर्मचारी भी पहुंचे। जहां वन्यजीव के बिज्जू होना सामने आया है। सूचना पर देवगढ़ पुलिस भी मौके पर पहुंची।

Devishankar Suthar
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned