चार गिरफ्तार, एक अन्य फरार


डकैती की योजना बनाते गिरोह को किया गिरफ्तार

By: rajesh dixit

Published: 16 May 2018, 06:18 PM IST



दो पिस्टल, जिंदा कारतुस, गैस कटर, गैस टंकी, एक बोलेरो कैम्पर बरामद
चारों आरोपित सीकर जिले की पुलिस के वांछित
प्रतापगढ़/ धोलापानी
धोलापानी पुलिस ने मुखबिर की सूचना पर एनएच 113 पर बारां की बावड़ी के पास झाडिय़ों में चार आरोपितों को डकैती की योजना बनाते गिरफ्तार किया है। चारों के पास से 2 पिस्टल, कारतुस गैस कटर, गैस टंकी व अन्य सामान बरामद किया है। चारों आरोपित सीकर जिला पुलिस के वांछित है।
पुलिस अधीक्षक शिवराज मीना ने बताया कि मंगलवार रात को धोलापानी पुलिस को सूचना मिली की राष्ट्रीय राजमार्ग संख्या 113 पर बारां की बावडी के पास झाडिय़ों में 5 लोग छुपकर बैठे हुए हैं। रोड पर एक बोलेरो केम्पर गाड़ी खड़ी हैं। उक्त गिरोह लूट व डकैती की घटना की योजना बना रहे हैं।
सूचना पर पुलिस का सषस्त्र जाप्ता मौके पर पहुंचा और घेराबंदी की।
इस दौरान चार लोगों को पकड़ लिया तथा एक व्यक्ति भाग गया। पकड़े गये चारों लोगों ने अपनी पहचान सीकर जिले के बताया। इसमें ओमप्रकाश पुत्र भानाराम जाट निवासी सामोता की ढाणी थाना श्रीमाधोपुर जिला सीकर के पास एक देसी पिस्टल मय मैग्जीन 6 जिन्दा कारतुस मिले। दूसरे की पहचान देवीलाल पुत्र गीगराज जाट निवासी खटुन्जरा थाना खण्डेला जिला सीकर बताया।उसके पास एक देसी पिस्टल मय मैग्जीन 3 जिन्दा कारतुस मिले। तीसरे व्यक्ति ने अपना नाम राकेश पुत्र नाथुराम जाट निवासी जयरामपुरा थाना श्रीमाधोपुर जिला सीकर बताया। उसके पास एक मेग्जीन व 2 जिन्दा कारतुस मिले। चौथे व्यक्ति ने अपना नाम राजुराम पुत्र विड़दाराम जाट निवासी गणेशपुरा चार तलाई थाना लोसल जिला सीकर बताया। उसके पास एक बडा जिन्दा कारतुस मिला। भागने वाले पांचवें आरोपित की पहचान जितेन्द्र उर्फ जीतू मीणा निवासी खण्डेला बताई।
उनके कब्जे वाली बोलेरो केम्पर गाड़ी की तलाशी ली गई। उसमें एक एलपीजी गैस टंकी गैस कटर, गैस नली, लोहे की सब्बल, हथौड़ा, सांकल, वायर कटर, दस्ताने, पेचकस, गाडी की एक नम्बर प्लेट मिली। सभी के खिलाफ पुलिस में मामले दर्ज किए गए।
सीकर पुलिस के कई मामलों में वांछित
गिरफ्तार किए गए आरोपित सीकर पुलिस में कई मामलों में वांछित है। पूछताछ में सामने आया कि हाल ही में 12 व 13 मई को दो बार रलावता थाना श्रीमाधोपुर जिला सीकर में टोल कर्मियों पर फायर किया था। तोडफ़ोड़ करके उनको भगाया था। टोल नाके की घटना के बाद उदयपुर होते हुए बांसवाड़ा, प्रतापगढ़ के रास्ते आकर यहां धोलापानी इलाके में आए। यहां किसी को लूटकर भागना चाहते थे। आरोतिप देवीलाल ने बताया कि वह थाना खण्डेला जिला सीकर का हिस्ट्रीशीटर है। उसके विरूद्व विभिन्न थानों में अपहरण, हत्या के प्रयास, शराब तस्करी के 15 मुकदमें दर्ज है। राजुराम ने अपने विरूद्व थाना कुचामन सिटी जिला नागौर में अपहरण का एक मामला व राकेश कुमार ने अपने विरूद्ध थाना खण्डेला में हत्या का एक मामला तथा ओमप्रकाश ने अपने विरूद्ध थाना राणोली जिला सीकर में हत्या का एक मामला होना स्वीकार किया है। उक्त अपराधियों को गिरफ्तार कर हथियार व सामान जप्त कर थाना धोलापानी में अनुसंधान किया जा रहा है।

rajesh dixit Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned