प्रतापगढ़ मंडी में मन्दसौर पैटर्न पर बिकेगा लहसुन एवं प्याज

प्रतापगढ़ मंडी में मन्दसौर पैटर्न पर बिकेगा लहसुन एवं प्याज

rajesh dixit | Publish: Apr, 15 2018 08:43:35 PM (IST) Pratapgarh, Rajasthan, India

 


आज से शुरू होगी व्यवस्थाएं


प्रतापगढ़
प्रतापगढ़ की कृषि उपज मंडी में अब लहसुन और प्याज की नीलामी मंदसौर मंडी के पैटर्न पर होगी। यहा सुविधा सोमवार से शुरू होगी। इसके लिए मंडी प्रशासन ने पूरी तैयारी की है। यहां के किसानों की मांग पर लहसुन एवं प्याज की नीलामी के लिए कवर्ड डोम एवं सी.सी. सडक का हाल ही में निर्माण करवाया है। जिले में बम्पर पैदावार होने से एवं मण्डी में आवक भी अधिक होने लगी है। वर्तमान में मंडी में किसानों के वाहनों का प्रवेश मुख्य दरवाजे से ही हो रहा है। यहां से अनाज, तिलहन और लहसुन एवं प्याज की मंडी की आवक का गेट एक ही होने से 24 घण्टे खुला रहता है।
इस कारण कई किसान रात को लहसुन एवं प्याज के ढेर हर कहीं पर लगा देते है। नीलामी होने के बाद दुबारा से पुन: उसी जगह माल खाली कर देते है। जिस वजह से नीलाम हुए माल को व्यापारी अपने गोदाम पर नहीं ले जा पाते है। मंडी सचिव मदनलाल गुर्जर ने बताया कि क्षमता से ज्यादा लहसुन व प्याज मण्डी में आने से मण्डी की नियमन व्यवस्था बाधित हो रही है। इसे देखते हुए मंडी प्रशासन ने किसानों से ही सुझाव मांगे थे। किसानों ने कहा कि इसके लिए मन्दसौर पैटर्न पर लहुसन एवं प्याज यार्ड को अनाज मंडी से अलग किया जाए। लहसुन एवं प्याज के वाहनों को पीछे वाले गेट से प्रवेश दिया जाए। प्रवेश का समय भी निर्धारित किया जाए। इस पर मंडी प्रशासन ने किसान, हम्माल, लहसुन-प्याज व्यापारी, स्थानीय व्यापार मण्डल तथा मण्डी प्रशासक एवं जिला कलक्टर से वार्ता की और सर्वसम्मति से निर्णय लिए गए।
मंडी में अब यह रहेगी व्यवस्था
यहां मंडी में अब लहसुन और प्याज की नीलामी और गाडिय़ों का प्रवेश अलग किया गया है। प्रत्येक कार्य दिवस को सुबह 6 बजे लहसुन एवं प्याज को मण्डी के पीछे वाले गेट को खोलकर प्रवेश दिया जाएगा। नवनिर्मित डोम में खाली की जाएगी। जब यार्ड लहसुन एवं प्याज से भर जाएगा तो मंडी के गेट को बन्द कर दिया जाएगा। अगले कार्य दिवस को वापस पुन: 6 बजे खोला जाएगा। किसानों द्वारा लाई लहसुन एवं प्याज को छायादार कवर्ड नीलामी डोम में खाली करवाकर निलाम करवाया जाएगा। मंडी यार्ड में प्रवेश के साथ ही निलामी से पहले किसानों को मौके पर पर्ची जारी की जाएगी। सुबह 10 बजे से निलामी शुरू की जाएगी। नीलामी के साथ ही तोल भी शुरू हो जाएगा। तौल के बाद बिका हुआ माल छपरे से बाहर व्यापारियों की दुकानों पर लहसुन एवं प्याज शिफ्ट किया जाएगा।

--
मनमानी राशि वसूलने का आरोप
ई-मित्र संचालकों की लूट
अरनोद
उपखंड क्षेत्र में ई-मित्र संचालक मनमानी राशि वसूल रहे है। इस संबंध में वार्डपंचों और किसानों ने प्रशासन से कार्रवाई की मांग की है। गौरतलब है कि अभी सरकार की ओर से समर्थन् मूल्य पर गेहूं, चना और सरसों की खरीद की जा रही है। इसके लिए ई-मित्र केन्द्रों पर रजिस्ट्रेशन किया जा रहा है। किसान एक तरफ तो रजिस्ट्रेशन के लिए खानापूर्ति के नाम पर परेशान हो रहे हैं। वहीं ई-मित्र संचालक रजिस्ट्रेशन के नाम पर सौ से डेढ़ सौ रुपए तक वसूल रहे हैं। किसानों ने ई-मित्र संचालकों के खिलाफ कार्रवाई और सभी ई-मित्र केन्द्र के बाहर रेट लिस्ट लगाने की मांग की है।

 

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

Ad Block is Banned