ऐसे में कैसे खुले जिला चिकित्सालय में २४ घंटे दवा वितरण केन्द्र

ऐसे में कैसे खुले जिला चिकित्सालय में २४ घंटे दवा वितरण केन्द्र
pratapgarh

Devi Shankar Suthar | Updated: 08 Aug 2019, 11:49:44 AM (IST) Pratapgarh, Pratapgarh, Rajasthan, India


जिला चिकित्सालय में फार्मासिस्ट की कमी
तीन फार्मासिस्ट, चार दवा केन्द्र


जिला चिकित्सालय में फार्मासिस्ट की कमी
तीन फार्मासिस्ट, चार दवा केन्द्र
प्रतापगढ़
यहां जिला चिकित्सालय में फार्मासिस्ट की कमी के कारण २४ घंटे दवा वितरण केन्द्र खुल नहीं रह पाते है। ऐसे में कई बार रोगियों को परेशानी होती है। हालांकि जिला चिकित्सालय प्रशासन की ओर से इमरजेंसी के लिए आवश्यक दवाओं की उपलब्धता वार्ड में और यहां आउटडोर की गई है। जिससे चिकित्सा सुविधा दी जा रही है।
यहां जिला चिकित्सालय में नि:शुल्क दवा वितरण के लिए कुल चार केन्द्र बनाए गए है। इसमें तीन केन्द्र यहां मुख्य चिकित्सालय में बनाए हुए है। जबकि एक केन्द्र मातृ एवं शिशु चिकित्सा इकाई में खोला गया है। इन पर चिकित्सा विभाग की ओर से कुल ९ पद फार्मासिस्ट के स्वीकृत है। लेकिन यहां मात्र चार ही कार्यरत है। इसमें से भी एक फार्मासिस्ट को अन्यत्र लगा रखा है। जिससे यहां मात्र तीन कर्मचारी ही कार्यरत है। वहीं दूसरी ओर मुख्यमंत्री नि:शुल्क दवा योजना के लिए चार दवा वितरण केन्द्र खोले गए है। ऐसे में यहां जिला चिकित्सालय में कार्यरत कंपाउंडर को भी यहां लगाकर केन्द्र पर दवा देने की सुविधा की जाती है। ऐेसे में एक केन्द्र को २४ घंटे खुला नहीं रखा जाता है। हालांकि यहां पहुंचने वाले रोगियों को आवश्यक दवाएं देकर उपचार किया जाता है।
अन्य कर्मचारियों का भी टोटा
यहां जिला चिकित्सालय में विभिन्न विभागों में भी कर्मचारियों का टोटा है। यहां कुल २८८ कर्मचारियों में से १६७ ही कार्यरत है। जबकि १२१ कर्मचारियों की कमी है। इसमें एक्स-रे विभाग की हालत तो काफी चिंताजनक है। यहां अधीक्षक रेडियोग्राफर के दो, रेडियोग्राफर का एक, सहायक रेडियोग्राफर के पांच पद स्वीकृत है। इनमें से मात्र एक सहायक रेडियोग्राफर कार्यरत है। जिससे लोगों के एक्सरे भी समय पर नहीं हो पाते है। उसके अवकाश पर जाने से जिले के अन्य चिकित्सालय से यहां व्यवस्था के लिए लगाया जाता है।
यही हालत ईसीजी की भी है। यहां तीन पद स्वीकृत है। लेकिन एक भी तकनीशियन नहीं है। ऐसे में अन्य कर्मचरियों केा इसका प्रशिक्षण दिया हुआ है। जिससे कार्य चलाया जा रहा है।
कर रहे है व्यवस्था
चिकित्सालय में नि:शुल्क दवा वितरण के कुल चार केन्द्र है। लेकिन फार्मासिस्टम हमारे पास मात्र तीन ही है। ऐसे में कंपाउंडर को केन्द्र पर लगाकर आउटडोर समय पर खुला रखा जा रहा है। २४ घंटे तक केन्द्र को खुला रखना संभव नहीं है। कर्मचारियों के लिए हम सरकार को लगातार अवगत करा रहे है। इसके अलावा यहां आने वाले मरीजों को आवश्यक दवाएं दे रहे है। इमरजेंसी में सभी प्रकार की दवाएं उपलब्ध है।
डॉ. आरएस कच्छावा
प्रमुख चिकित्साधिकारी, जिला चिकित्सालय प्रतापगढ़

 

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned