scriptHow will the recovery of 65 crores be done | 65 करोड़ की कैसे होगी वसूली | Patrika News

65 करोड़ की कैसे होगी वसूली


प्रतापगढ़. जिले में विद्युत निगम की गत वर्षों से बकायादारों की फेहरिस्त लगातार बढ़ रही है। हालात यह है कि यह राशि 65 करोड़ रुपए तक पहुंच गई है। इसमें नियमित उपभोक्ताओं की राशि 44 करोड़ रुपए है।

प्रतापगढ़

Updated: December 22, 2021 08:51:20 am


-कटे कनेक्शनों की हो रही जांच
-
प्रतापगढ़. जिले में विद्युत निगम की गत वर्षों से बकायादारों की फेहरिस्त लगातार बढ़ रही है। हालात यह है कि यह राशि 65 करोड़ रुपए तक पहुंच गई है। इसमें नियमित उपभोक्ताओं की राशि 44 करोड़ रुपए है। जबकि स्थाई रूप से कटे कनेक्शनों की राशि 21 करोड़ रुपए है। जिससे निगम को बकायादारों से वसूली नहीं हो पा रही है। हाल ही में निगम ने अब पीडीसी उपभोक्ताओं से वसूली के लिए कनेक्शनों का भौतिक सत्यापन शुरू किया है।
जिले में गत वर्षों से विद्युत निगम की ओर से उपभोक्ताओं पर बकाया की राशि लगातार बढ़ती जा रही है। जो इस वर्ष 65 करोड़ रुपए तक पहुंच गई है। ऐसे में निगम की ओर से वसूली का लक्ष्य शत-प्रतिशत करना काफी मुसीबत भरा हो गया है। इसमें भी नियमित उपभोक्ताओं के कुल 44 करोड़ रुपए बकाया है। जबकि कटे हुए कनेक्शनों पर बकाया की राशि 21 करोड़ रुपए है। इन दिनों निगम की ओर से कटे हुए कनेक्शनों की जांच की जा रही है।
इसके तहत बिल नहीं जमा कराने वाले उपभोक्ताओं के काटे जा चुके कनेक्शन की जांच करने के लिए विश्ेाष अभियान चलाया जा रहा है। अभियान के तहत बिल नहीं जमा कराने वाले जिन उपभोक्ताओं के विद्युत कनेक्शन काटे गए है। उनके द्वारा अनाधिकृत विद्युत उपभोग की जांच की जा रही है।
दो दिन में पौने सात सौ कनेक्शनों की जांच
जिले में चलाए जा रहे अभियान के तहत गुरूवार व शुक्रवार को 677 डीसी, पीडीसी उपभोक्ताओं के कनेक्शनों की जांच की गई। इसमें 23 स्थानों पर अनाधिकृत रूप से विद्युत सप्लाई पाई गई। जिनकी 2 लाख 3 हजार रुपए की वीसीआर बनाई गई। इसी तरह डीसी/पीडीसी उपभोक्ताओं से 4.26 लाख रुपए की वसूली की गई।
-=-=-=-=
कटे कनेक्शनों पर जांच
जिले में बकाया को लेकर अभियान चलाया जा रहा है। इसके तहत डीसी और पीडीसी के कनेक्शनों की जांच की जा रही है। जिले में कुल 65 करोड़ रुपए बकाया है। इसमें नियमित उपभोक्ताओं के कुल 44 करोड़ रुपए बकाया है। जबकि कटे हुए कनेक्शनों पर बकाया की राशि 21 करोड़ रुपए है। जिन उपभोक्ताओं के कनेक्शन कटे हुए है। वे अपने बिल की राशि समय पर जमा करवाएं। ताकि अभियान के दौरान कार्यवाही से बचा जा सके। निगम द्वारा आगामी मार्च तक लक्ष्यों की शत-प्रतिशत प्राप्ति व राजस्व वसूली के प्रयास किए जा रहे है। उपभोक्ताओं की सुविधा के लिए केश काउंटर के अलावा ऑनलाईन बिल जमा कराने की भी सुविधा प्रदान की गई है।
=-=-= एन. एच. मन्सूरी, अधीक्षण अभियन्ता, अविविनिलि, प्रतापगढ़
65 करोड़ की कैसे होगी वसूली
65 करोड़ की कैसे होगी वसूली

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

Republic Day 2022 LIVE updates: ITBP के जवानों ने -40 डिग्री टेम्प्रेचर में मनाया गणतंत्र दिवस, 15 हजार फीट की ऊंचाई पर लहराया तिरंगाRepublic Day 2022: गणतंत्र दिवस पर दिल्ली की किलेबंदी, जमीन से आसमान तक करीब 50 हजार सुरक्षाबल मुस्तैदRepulic Day 2022: जानिए क्या है इस बार गणतंत्र दिवस की थीमस्वास्थ्य मंत्री ने कोरोना हालातों पर राज्यों के साथ की बैठक, बोले- समय पर भेजें जांच और वैक्सीनेशन डाटाBudget 2022: कोरोना काल में दूसरी बार बजट पेश करेंगी निर्मला सीतारमण, जानिए तारीख और समयRepublic Day 2022: गणतंत्र दिवस पर इस बार परंपराओं में बदलाव, जानिए परेड में आपको पहली बार कौन सी चीजें दिखेंगीपद्मश्री दुर्गाबाई ने खर्च चलाने घरों में किया झाड़ू-पोंछा, लॉकडाउन में लेना पड़ा कर्जRepublic Day: छत्तीसगढ़ के दो सैन्य ग्राम, जहां कदम रखते ही सुनाई देती है शहीदों और वीर सैनिकों की वीर गाथा, ऐसा देश है मेरा...
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.