फसलों पर जमने लगी बर्फ की चादर

सर्दी का जोर बढ़ा

By: Rakesh Verma

Published: 04 Jan 2018, 10:39 AM IST

प्रतापगढ़. जिले में पिछले दो तीन दिनों से सर्दी का जोर बढ़ा हुआ है। नववर्ष की पूर्व संध्या से ही सर्दी बढ़ रही है। वहीं शीतलहर भी चल रही है। खासकर ग्रामीण क्षेत्रों में तो तेज सर्दी के चलते ओस की बूंदें जमने लगी हैं। जिले के विभिन्न ग्रामीण क्षेत्रों में मंगलवार रात और अलसुबह तेज सर्दी के चलते खेतों और पेड़-पौधों पर ओस की बूंदे जम गई।
चूपना. क्षेत्र में सर्दी का प्रकोप बढऩे लगा है। इससे शीत लहर भी बढऩे लगी है। आस-पास के गांव में फसलों पर बर्फ की चादर सी जमने लगी है। फरेडी गांव में बुधवार सुबह कई स्थानों पर बर्फ देखी गई। चारे पर बर्फ की चादर हो गई।
कुलथाना. इन दिनों शीतलहर का प्रकोप बढ़ गया है। हालात यह है कि फसलों पर बर्फ जमना शुरू हो गई है। शीतलहर से लोगों की दिनचर्या भी बदल गई है।
मेरियाखेडी. मेरियाखेड़ी में बुधवार को तेज सर्दी रही। गांव के एक खेत की मेढ़ पर फसलों और तिरपाल पर बर्फ की परतें देखी गई। हालात यह थे की तिरपाल पर बर्फ के ढेले हो गए। किसानों ने यह बताया कि दस बजे तक भी बर्फ जमी रही।
पानमोड़ी. क्षेत्र में इन दिनों सर्दी का निरंतर प्रकोप तेज हो रहा है। सुबह 11 बजे तक खेतों में फसल पर बर्फ जम रही है। गांव के पास कोलवी गांव में जमी बर्फ से नुकसान की आशंका है।
धोलापानी. इस वर्ष मौसम की सर्दी सबसे अधिक मंगलवार और बुधवार को महसूस की गई। खुले में चारे और फसलों में बुधवार सुबह दस बजे तक बर्फ जमी रही।
बरखेडी. इस वर्ष का सबसे ठंडा दिन मंगलवार और बुधवार को रहा। मौसम का दिन ज्यादा सर्दी के चलते रात में फसलों व घास पर बर्फ जमने लगी है। जिसके चलते बुधवार को लोगों की दिनचर्या प्रभावित हो गई। हालात यह है कि कई खेतों में बर्फ जम गई और शीतलहर से लोग बेहाल रहे। वहीं सर्द हवाओं ने लोगों को झकझोर दिया।

Rakesh Verma
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned