ई.मित्र केन्द्रों का निरीक्षण, लम्बित आवेदनों के निस्तारण के दिए निर्देश


प्रतापगढ़. छोटीसादड़ी. सूचना प्रौद्योगिकी और संचार विभाग के संयुक्त निदेशक राजेन्द्र सिंहल ने राजस्वान पॉपअप रूम एवं शहरी क्षेत्र में स्थित ई.मित्र केन्द्रों का औचक निरीक्षण किया गया। तहसील परिसर बाहर स्थित भरत कुमावत के ई.मित्र का निरीक्षण किया गया जिसमें ई.मित्र बैनर नहीं पाया गया।

By: Devishankar Suthar

Published: 31 Jul 2021, 08:27 AM IST


प्रतापगढ़. छोटीसादड़ी. सूचना प्रौद्योगिकी और संचार विभाग के संयुक्त निदेशक राजेन्द्र सिंहल ने राजस्वान पॉपअप रूम एवं शहरी क्षेत्र में स्थित ई.मित्र केन्द्रों का औचक निरीक्षण किया गया। तहसील परिसर बाहर स्थित भरत कुमावत के ई.मित्र का निरीक्षण किया गया जिसमें ई.मित्र बैनर नहीं पाया गया। वहां उपस्थितं ग्राहकों से पुछताछ की गई जिसमें उन्होंने ई.मित्र कियोस्क द्वारा रेटलिस्ट अनुसार निर्धारित सेवा शुल्क लेना बताया। सिंहल ने ई.मित्र कियोस्क धारक भरत कुमावत को एनएफएस के लम्बित आवेदनों का निस्तारण करने के निर्देश दिए। सिंहल ने महाराणा प्रताप बस स्टेण्ड के निकट संचालित सचिन साह के ई.मित्र कियोस्क का निरीक्षण किया जिसमें ई.मित्र बैनर एवं रेटलिस्ट चस्पा पाई गई एवं ग्राहकों से पूछताछ की गई। जिसमे ग्राहकों द्वारा नियमानुसार सेवा शुल्क लेना बताया गया।
इस दौरान किसी भी ई.मित्र संचालक के पास विभागीय मोहर अथवा आपत्तिजनक दस्तावेज नहीं पाए गए। सिंहल ने कियोस्क धारकों को ई.मित्र प्लस मशीन के अधिकाधिक उपयोग करने एवं एनएफएसए के लम्बित आवेदनों को जल्द से जल्द निस्तारित करने के लिए पाबन्द किया। इस दौरान उनके साथ सहायक प्रोग्रामर कमलेश धाकड़, पवन शर्मा, कारूलाल जणवा, राजस्वान इंजिनियर मुकेश जांगीड़ एवं राजनेट इंजिनियर चेतन मेनारिया मौजूद रहे।सालमगढ़. सूचना एवं प्रौद्योगिकी विभाग द्वारा ई-मित्र सेंटर का औचक निरीक्षण किया जा रहा है। इसके तहत शुक्रवार को टीम ने निकटवर्ती पंचायत समिति पीपलखूंट व सुहागपुरा में निरीक्षण किया।
सूचना एवं प्रौद्योगिकी विभाग द्वारा ई-मित्र सेंटर का औचक निरीक्षण नोडल अधिकारी हरीश मीणा द्वारा किया गया। जिसमें कई ई-मित्र सेंटर पर अनियमितता पाई गई।
जिसमें प्रमुख रूप से रेट लिस्ट, बैनर निर्धारित स्थान सहित प्रीप्रिंट रसीद नहीं देने पर 10 ई-मित्र संचालकों पर कार्यवाही की गई। उन्होंने बताया कि आगे भी ईमित्र संचालक को निरीक्षण किए जाएंगे।
कच्चे रास्ते पर डाली मिट्टी
मोवाई. निकटवर्ती मोहेडा ग्राम पंचायत के गांव नरवाली से बस स्टैंड तक सीसी रोड बनाने के लिए ग्रामीणों ने ग्राम पंचायत पर शिकायत दर्ज कराई। जिसमें ग्राम पंचायत ने मोर्रम की जगह मिट्टी डाली गई। जहां पर ग्रामीणों को नरवाली बस स्टैंड पर आने पर कीचड़ में होकर आना जाना पड़ता है। बताया कि 5 साल होने के बाद भी नरवाली से बस स्टैंड तक मोर्रम ही डाला जा रहा है। कई बार शिकायत दर्ज कराई लेकिन अभी तक सीसी रोड नहीं बनाया गया। ग्रामीणों ने ग्राम पंचायत को अवगत कराया कि नरवाली से बस स्टैंड तक सीसी रोड जल्द बनाया जाए। पूर्व जिला परिषद राधा मीणा, नंदू मीणा, रमेश मीणा, राजेश बंजारा, राकेश मीणा, किशोर मीणा, नानूराम मीणा आदि ग्रामीणों ने सीसी रोड की मांग की है।

Devishankar Suthar
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned