औसत बारिश से कुछ ही दूर, प्रतापगढ़ तहसील में एक दिन में 2 इंच बारिश हुई

औसत बारिश से कुछ ही दूर, प्रतापगढ़ तहसील में एक दिन में 2 इंच बारिश हुई

Rakesh kumar Verma | Publish: Sep, 09 2018 07:03:01 PM (IST) Pratapgarh, Rajasthan, India

-जिले की वार्षिक औसत 888 के मुकाबले रविवार सुबह 8 बजे तक 850 एमएम बारिश दर्ज

अन्य उपखण्ड क्षेत्रों में भी झूमकर बरसे बदरा
प्रतापगढ़. सुबह से ही आसमान में छाए बादल और दिनभर कभी रिमझिम का दौर। पिछले दो दिनों से चल रहे बारिश के दौर के बाद जिले में शहर सहित विभिन्न स्थानों पर रविवार को भी दिनभर यहीं माहौल रहा। यहां सुबह से इन्द्रदेव मेहरबान रहे और विभिन्न स्थानों पर रिमझिम हुई। दिनभर बारिश के चलते सडक़ें गीली बनी रही वहीं तीन दिनों से लगातार बारिश के चलते जिले के विभिन्न जलाशयों में पानी की आवक बढ़ी रही। जिले में एक जून से अब तक वार्षिक औसत बारिश के मुकाबले 850 एमएम बारिश यानि 95.74 प्रतिशत बारिश हो चुकी है।
प्रतापगढ़ में सर्वाधिक
जिले में अब तक सर्वाधिक बारिश प्रतापगढ़ उपखंड क्षेत्र में दर्ज की गई है। यहां अब तक 1307 एमएम बारिश अब तक हो चुकी है वहीं पीपलखूंट उपखंड क्षेत्र दूसरे स्थान पर है, जहां अब तक 1179 एमएम बारिश हो चुकी है। जबकि अरनोद में 791 एमएम, छोटीसादड़ी में ***** एमएम और धरियावद में सबसे कम 735 एमएम बारिश हो चुकी है।
एक दिन में कहां कितनी बारिश
जिले में पिछले एक दिन में शनिवार सुबह 8 से रविवार सुबह 8 बजे तक भी सर्वाधिक बारिश प्रतापगढ़ में हुई है। प्रतापगढ़ उपखण्ड क्षेत्र में सर्वाधिक 51 एम एम बारिश हुई। वहीं अरनोद में 35 एमएम, छोटीसादड़ी में 36 एमएम, धरियावद में 22 एम एम और पीपलखूंट में 16 एमएम बारिश दर्ज की गई।
खिले लोगों के चेहरे
जिलभर में दिनभर रिमझिम बारिश के चलते मौसम खुशनुमा होने से लोगों के चेहरे खिले दिखाई दिए। बारिश के चलते गर्मी की तल्खी पानी में घुल गई। वातावरण में ठंडी हवा मौसम के खुशनुमा होने का एहसास कराती रही।
जलाशयों में पानी
पिछले दिनों जारी बारिश के दौर के चलते जिले के विभिन्न जलाशयों में पानी की आवक तेज हो गई है। कई जगह नदियों में पानी वेग से बहने लगा है, तालाबों में पानी की मात्रा बढ़ गई है एनीकट लबालब होकर झलकने लगे हैं तो झरने भी गिरने लगे हैं।
जनजीवन बना हुआ अस्त-व्यस्त
जिले में पिछले तीन दिनों से लगातार बारिश के चलते जनजीवन अस्तव्यस्त बना हुआ है। रविवार को भी सुबह से ही बारिश के दौर के चलते प्रभावित रहा। अपने घरों-दुकानों में कैद होकर रह गए और उनके जरुरी काम प्रभावित रहे। बहुत जरुरी काम होने पर ही लोग बाहर निकले।
रास्तों व खेतों में भरा पानी
जिलेभर में बारिश के चलते कई जगहों पर खेतों व रास्तों में पानी भरा नजर आया। बारिश के चलते सफाई व्यवस्था की भी कलई खुल गई और मार्ग में कीचड़ व नालियों की गंदगी के चलते लोगों को खासी परेशानी का सामना करना पड़ा।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

Ad Block is Banned