छोटीसादड़ी में पाड़ों की लड़ाई देखने उमड़ा जन सैलाब

प्रतापगढ़. छोटीसादड़ी. उपखंड मुख्यालय पर गोवर्धन पूजा के अवसर पर गोमाना चौराहा के समीप खेत में पारंपरिक पाड़ों की लड़ाई हुई। पाड़ों की लड़ाई व उनकी विशेष वेशभूषा को देखने के लिए नेशनल हाईवे पर स्थित गोमाना चौराहा पर लोगों की भीड़ उमड़ पड़ी। पाड़ों की कुश्ती गुर्जर परिवार की ओर से गोवर्धन पूजा पर रविवार को आयोजित करवाई गई। पाड़ों की कुश्ती को देखने के लिए लोग व बच्चे ओवर ब्रिज पर चढ़ गए।

By: Devishankar Suthar

Published: 17 Nov 2020, 02:35 PM IST

-अर्जुन ने करण को हराया
प्रतापगढ़. छोटीसादड़ी. उपखंड मुख्यालय पर गोवर्धन पूजा के अवसर पर गोमाना चौराहा के समीप खेत में पारंपरिक पाड़ों की लड़ाई हुई। पाड़ों की लड़ाई व उनकी विशेष वेशभूषा को देखने के लिए नेशनल हाईवे पर स्थित गोमाना चौराहा पर लोगों की भीड़ उमड़ पड़ी। पाड़ों की कुश्ती गुर्जर परिवार की ओर से गोवर्धन पूजा पर रविवार को आयोजित करवाई गई। पाड़ों की कुश्ती को देखने के लिए लोग व बच्चे ओवर ब्रिज पर चढ़ गए। करण व अर्जुन नाम के पाड़ों के बीच लड़ाई हुई। जिसमें अर्जुन विजेता रहा। गुर्जर समुदाय के लोगों ने बताया कि अर्जुन नाम का पाड़ा विजेता रहा। इससे पहले नगर में आकर्षक वेशभूषा से सुसज्जित पाड़ो का ढोल नगाड़ों के साथ जुलूस निकाला गया।
:-:=====

-पटाखों की गूंज पर लगी लगाम, लेकिन दिखा खासा उत्साह
जिले भर में पांच दिवसीय दीपोत्सव का पर्व परम्परागत रूप से श्रद्धा और हर्षोल्लास के साथ मनाया गया। हालांकि इस वर्ष पटाखों पर लगाम लगाने से गूंज कम सुनाई दी। लेकिन इस बार पर्व के तहत शहर-कस्बों, गांव-गांव, ढाणी-ढाणी में खासा उल्लास देखा गया। पर्व पर दीपों की कतार और विद्युत रोशनी से अमावस्या की रात जगमग हो गई। लोगों ने नव परिधान धारण कर अभिजीत मुहूर्त में घरों, प्रतिष्ठानों, दुकानों में लक्ष्मी पूजन की गई। घरों के बाहर रंगोली सजाकर दीप प्रज्वलित किए गए। दीपोत्सव के दूसरे दिन गोबर के गोवर्धन थेपकर पूजा-अर्चना की गई। इस दौरान उत्साह देखा गया।
अरनोद. क्षेत्र में दीपोत्सव को लेकर खासा उत्साह देखा गया। गोवर्धन पूजा पर्व धूमधाम से मनाया। गोबर के गोवर्धन बनाकर महिलाओं ने गोवर्धन की पूजा की। गौतमेश्वर गौशाला मे भी गायों की पूजा की गई । इसी तरह नृसिंह मंदिर में अन्नकूट महोत्सव मनाया गया।
छोटीसादड़ी. शहर सहित उपखंड क्षेत्र में दीपावली पर घर-आंगन दीपोत्सव की रोशनी से जगमगा उठे। शहरवासियों ने उल्लास के साथ मंत्रोच्चार के बीच महालक्ष्मी का पूजन किया। सुबह से देर शाम तक दीपावली की शुभकामनाओं का दौर चला। शनिवार को शहरवासियों ने विधि-विधान से धन और ऐश्वर्य की देवी महालक्ष्मी का पूजन किया। महिलाओं ने घरों में मांडणेए अल्पना और रंगोली सजाई। मिठाई और अन्य पकवान बनाए गए। गन्ना, लक्ष्मी पाना, खील.फूलेए बताशेए कमल के फूलए सीताफल और अन्य सामग्री के साथ घरों, व्यापारिक प्रतिष्ठानों में महालक्ष्मी, गणेश और विद्या की देवी सरस्वती की पूजा की गई। जमलावदा गांव में स्थित ग्वाल गोपाल गोशाला में गोवर्धन पर्व श्रद्धा व आस्था के साथ मनाया गया। गोशाला समिति के सदस्यों ने गायों का आकर्षक श्रृंगार किया। ग्वाल गोपाल गौशाला अध्यक्ष पूरणमल आंजना, मूर्तिपूजक श्री संघ अध्यक्ष गुणवंतलाल बंडी, उपाध्यक्ष कांतिलाल दक, ओमप्रकाश शर्मा, कोषाध्यक्ष प्रकाश कुमावत, अनिल, यशवंत जाट, बाबूलाल जाट, गोवर्धनलाल, कमलसिंह, धीरज जैन, ताराचंद शर्मा, अरविंद आदि ने गो पूजन कर गौशाला की गायों को डेढ़ क्विंटल लापसी खिलाई गई।

Devishankar Suthar
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned