कांठल में मानसून की अनदेखी

जिले में अब तक मानसून की अनदेखी हो रही है। जिले में कुछ ही इलाकों में मानसूनी बारिश हुई है। जबकि कई इलाकों में बुवाई लायक बारिश नहीं हुई है। ऐसे में भूमिपुत्रों में भी चिंता गहराती जा रही है। जिससे खेत तैयार होन के बाद किसान अब आसमान की ओर निगाहें टिकाए हुए है।

By: Devishankar Suthar

Published: 27 Jun 2021, 01:54 PM IST


-आसमान की ओर भूमिपुत्रों की निगाहें
-खंड बारिश से किसानों में चिंता
जिले में अब तक मानसून की अनदेखी हो रही है। जिले में कुछ ही इलाकों में मानसूनी बारिश हुई है। जबकि कई इलाकों में बुवाई लायक बारिश नहीं हुई है। ऐसे में भूमिपुत्रों में भी चिंता गहराती जा रही है। जिससे खेत तैयार होन के बाद किसान अब आसमान की ओर निगाहें टिकाए हुए है।
गत दिनों से जिले में मानसून ने मुंह मोड़ लिया है। जिससे खेत तैयार हो गए है। नि इलाकों में अच्छी बारिश हुई है। वहां बुवाई हो गई है। लेकिन जिन इलाकों में कम बारिश हुई है। वहां पर अभी बुवाई नहीं हुई है। जिससे किसानों को बारिश का इंतजार है।
:===:
जिले में अब तक बारिश की स्थिति
तहसील बारिश
प्रतापगढ़ ९२
अरनोद ७३
छोटीसादड़ी ६५
धरियावद १६३
पीपलखूंट १३५
(आंकड़े जल संसाधन विभाग के अनुसार एमएम में)
मोवाई. मोवाई क्षेत्र में पहली बारिश में ही कई किसानों ने सोयाबीन की बुवाई कर दी थी। इस समय फसलें अंकुरित हो गई है। लेकिन अब बारिश नहीं होने से फसलें मुरझाने लगी है। किसानों ने बताया कि सोयाबीन के पौधा धरती से बाहर निकले लगे है। तेज गर्मी के कारण कई पौधे मुरझाने लगे है। जिससे किसानों की चिंता सताने लगी है। किसानों का कहना है कि दो-तीन दिन में बारिश नहीं होने पर दुबारा बुवाई का संकट खड़ा हो जाएगा।
::::::::
बरसात के बाद फसल बुवाई में जुटे काश्तकार
धरियावद. धरियावद तहसील क्षेत्र में बरसात का दौर थमने के साथ ही तापमान में बढ़ोतरी होने लगी है। क्षेत्र में शनिवार को दिनभर उमस एवं गर्मी के चलते आमजन बेहाल दिखाई दिए। इधर बरसात रूकने के साथ ही धरतीपुत्रों एवं किसानों ने अपने अपने खेतों की सार सम्भाल के साथ खेतों में फसल बुवाई में लग गए है। इधर कही जगह आधुनिक तकनीकी से तो कही परम्परागत रूप से बुवाई करते दिखाई दिए। इधर खादबीजों की दुकानों एवं कृषि विभाग कार्यालय पर काश्तकारों की आवाजाही देखने को मिली। =-=-=-=-

कनाड़. कनाड़ गांव में वर्षों पुराने नाले पर किया पक्का निर्माण करा लिया है। जिसको हटाने को लेकर ग्राम पंचायत को भी अवगत करा दिया है। लेकिन इस और किसी ने सुध नहीं ली है।
कनाड़ निवासी घनश्याम मीणा ने बताया कि गांव के बीच में रैदास मोहल्ले के पास से रास्ता जा रहा है। उसके पास कई वर्षों पुराना एक नाला है। जहां पर नाले में पक्का निर्माण कर दिया है। नाले की निकासी पूरी तरह से रास्ते पर निकाल दी है। जिससे आगे जाने के लिए परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। बारिश आते ही रास्ता भी नहीं बचेगा। इसको लेकर ग्राम पंचायत को अवगत करा दिया है। अभी तक कोई सुनवाई नहीं हुई है। ग्रामीणों ने जिला प्रशासन से समस्या का जल्द से जल्द समाधान करने की मांग की है।
=-=
इस संबंध में शिकायत मिली थी। मौके पर गया और जिस व्यक्ति ने नाले पर अवैध निर्माण किया है। उसको मौखिक कहा गया है। बताया गया कि पानी की निकासी की जाएगी। फिर भी पानी निकासी नही की तो ग्राम पंचात में प्रताव लेकर अतिक्रमण हटाया जाएगा।
उदयलाल मीणा, सरपंच ग्राम पंचायत लालगढ़

Devishankar Suthar
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned