कांठल के सात हजार से अधिक किसानों का तुलेगा काला सोना

प्रतापगढ़.
जिले में नारकोटिक्स विभाग की ओर से अफीम का तोल बुधवार से शुरू किया जाएगा। इसके लिए विभाग की ओर से तैयारियां की जा रही है। जिले में इस बार सात हजार से अधिक किसान अपनी अफीम का तोल नारकोटिक्स विभाग को कराएंगे। गत वर्ष की तरह इस बार भी कोविड-१९ को लेकर सतर्कता बरती जा रही है। वहीं इस बार अफीम खरीद के लिए ओवन से की जाएगी। ऐसे में विभाग पूरी तरह से तैयारियों में जुट हुआ है।

By: Devishankar Suthar

Published: 06 Apr 2021, 07:23 AM IST


-अफीम तोल कल से
-नारकोटिक्स विभाग जुटा तैयारियों में
-कोविड को लेकर सतर्कता
-बिना मास्क नहीं होगा तोल, अफीम तोल सात से
प्रतापगढ़.
जिले में नारकोटिक्स विभाग की ओर से अफीम का तोल बुधवार से शुरू किया जाएगा। इसके लिए विभाग की ओर से तैयारियां की जा रही है। जिले में इस बार सात हजार से अधिक किसान अपनी अफीम का तोल नारकोटिक्स विभाग को कराएंगे। गत वर्ष की तरह इस बार भी कोविड-१९ को लेकर सतर्कता बरती जा रही है। वहीं इस बार अफीम खरीद के लिए ओवन से की जाएगी। ऐसे में विभाग पूरी तरह से तैयारियों में जुट हुआ है। वहीं हाल ही में लगातार बढ़ रहे कोरोना के कारण विभाग की ओर से अभी स्पष्ट रूप से गाइड लाइन नहीं है। जिससे तोल प्रक्रिया कब ते चलेगी यह कहना मुश्किल है। वहीं केन्द्र पर कोरोना गाइड लाइन की पूर्ण रूप से पालना की जाएगी। जिसमें सभी किसानों को मास्क लगाकर आना होगा। वहीं केन्द्र पर सेनेटाइजर की पूरी सुविधा उपलब्ध कराई जाएगी।
प्रतापगढ़ में पौने पांच सौ हंकाई के आवेदन
जिले में कुल दो खंड बने हुए है। इनमें प्रतापगढ़ खंड में प्रतापगढ और अरनोद क्षेत्र के किसानों को शामिल किया गया है। जिला अफीम अधिकारी एडवर्ड रोजारियो ने बताया कि इस वर्ष विभाग की ओर से १७१ गांवों में कुल ४१५० किसानों ने अफीम बुवाई की थी। इस बार प्राकृतिक प्रकोप और अन्य कारणों से ४७ किसानों ने अफीम हंकाई के आवेदन दिए थे। इनमें हंकाई की प्रक्रिया अंतिम चरण में है। जो कुल २६९ हैक्टेयर में बोई थी। खंड के किसानों की अफीम का तोल बुधवार से धरियावद नाका स्थित रिसोर्ट में किया जाएगा। इसके लिए तैयारियां की जा रही है।
छोटीसादड़ी में हंकाई के १९२ आवेदन
जिले के द्वितीय खंड में छोटीसादड़ी के किसानों को शामिल किया गया है। यहां इस वर्ष १८८ गांवें के कुल ३९१६ किसानों को लाइसेंस दिए गए थे। किसानों ने २०८ हैक्टेयर में बुवाई की थी। खंड छोटीसादड़ी के जिला अफीम अधिकारी डी के सिंह ने बताया कि इनमें से १९२ किसानों ने हंकाई के लिए आवेदन किया था। इनकी अफीम की फसल उखड़वाई गई है। अफीम का तोल आर्य समाज स्कूल में किया जाएगा। इसके लिए तैयारियां की जा रही है।
:=:=:=कोरोना को लेकर विभाग सतर्क
इस बार भी कोरोना को लेकर विभाग सतर्क है। किसानों को यहां मास्क लगाकर आना होगा। जो किसान मास्क लगाकर नहीं आएगा, उसकी अफीम का तोल नहीं किया जाएगा। तोल केल्न्दी्र पर विभाग की ओर से किसानों की स्क्रीनिंग की जाएगी। यहां सेनेटाइजर की भी पूरी सुविधा दी जाएगी। किसानों को यहां बैठने के लिए निर्धारित दूरी पर गोले लगाए जाएंगे।
:=:==:
जिले में यह है आंकड़ा
अफीम किसान ७७६९
गांव ३५९
हंकाई आवेदन ६६६
क्षेत्रफल ५४९
(आंकड़े नारकोटिक्स विभाग के अनुसार)
.

Devishankar Suthar
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned