दो दशक बाद संगीत विषय में प्रवेश ले सकेंगी बालिकाएं

दो दशक बाद संगीत विषय में प्रवेश ले सकेंगी बालिकाएं

Ram Sharma | Updated: 16 Jul 2019, 01:37:42 PM (IST) Pratapgarh, Pratapgarh, Rajasthan, India

(pratapgarh news in hindi)स्थानीय राजकीय बालिका उच्च माध्यमिक विद्यालय (education news)



प्रतापगढ़. स्थानीय राजकीय बालिका उच्च माध्यमिक विद्यालय में दो दशक बाद संगीत की कक्षाएं शुरू हो सकेंगी। विद्यालय में संगीत की पढ़ाई करने की इच्छुक छात्राएं मंगलवार से आवेदन कर सकती है।
स्कूल में शिक्षक के अभाव में संगीत की कक्षाएं संचालित नहीं हो पा रही थी। इस मुद्दे को राजस्थान पत्रिका की ओर से गत एक वर्ष से निरन्तर समाचारों के माध्यम से उठाया जा रहा था। सोमवार को ‘शिक्षक नि:शुल्क पढ़ाने को तैयार,फिर अटका रहे रोडा’ शीर्षक से समाचार का प्रकाशन किया था। इसे जिला शिक्षा अधिकारी डा. शांतिलाल शर्मा ने गंभीरता से लेते हुए राजकीय बालिका उच्च माध्यमिक विद्यालय की संस्था प्रधान को अपने कार्यालय बुलाकर अविलम्ब संगीत विषय में छात्राओं को प्रवेश देने के लिए निर्देशित किया। इसके बाद संस्था प्रधान ने संगीत में प्रवेश लेने पर सहमति जताई।
यह था मामला
यहां स्थित राजकीय बालिका उच्च माध्यमिक विद्यालय में सत्र 1999-2000 के बाद से संगीत अध्यापक का पद रिक्त है। जबकि जिले में कुल 7 राजकीय बालिका उच्च माध्यमिक एवं माध्यमिक विद्यालय है। इनमें प्रतापगढ़, छोटीसादड़ी, धरियावद, अरनोद, दलोट, पारसोला व पीपलखूंट हैं। इन सभी विद्यालयों में संगीत विषय संचालित है। लेकिन शिक्षक के अभाव में बालिकाएं इस विषय को नहीं ले पा रही हैं। दलोट कस्बे में संचालित राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय में अवश्य संगीत अध्यापिक कार्यरत है। छोटीसादड़ी में इसी सत्र में संगीत शिक्षक सेवानिव्त्ति पा चुके है। लेकिन विद्यालय प्रबंधन ने पुन: निर्णय कर सेवानिवृत शिक्षक को विद्यालय में संगीत शिक्षक के रूप में लगा दिया है।
पत्रिका ने उठाया था मुद्दा
प्रतापगढ़ के राजकीय बालिका उच्च माध्यमिक विद्यालय में दो दशक से संगीत शिक्षक का पद रिक्त चल रहा है। इससे विद्यालय में अध्ययनरत बालिकाएं जिन्हें संगीत विषय में रूचि है। उन्हें मजबूरी में विद्यालय छोड़ अन्यत्र विद्यालयों में प्रवेश लेने पर विवश होना पड़ रहा था। समस्या को लेकर पत्रिका ने गत वर्ष ‘सरस्वती के मंदिर में नहीं बहती संगीत सरिता’ शीर्षक से समाचार का प्रकाशन किया था। उस समय संस्था प्रधान की ओर से समय निकलने की बात कह कर मामले को रफा दफा कर दिया था। नवीन सत्र की शुरुआत में पुन: पत्रिका की ओर से ‘छात्राएं सीखना चाहती है संगीत, नहीं है शिक्षक’ शीर्षक से समाचार का प्रकाशन किया था। इस पर विभागीय अधिकारियों ने संस्था प्रधान को संगीत विषय संचालित करने के लिए निर्देशित किया।
संस्था प्रधान को निर्देशित किया है
विद्यालय में संगीत विषय बंद नहीं होगा। मंगलवार से इसके लिए प्रवेश प्रक्रिया चालू हो जाएगी। इसके लिए संस्था प्रधान को निर्देश दिए गए है। गोविन्द शर्मा अपनी सेवाएं दे रहे । इसके अलावा भी विभाग की ओर से भी स्थाई अध्यापक की नियुक्ति के प्रयास किए जाएगे।
डा. शांतिलाल शर्मा जिला शिक्षा अधिकारी माध्यमिक, प्रतापगढ़

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned