अध्ययन के साथ खेलो में भी नाम करें रोशन

अध्ययन के साथ खेलो में भी नाम करें रोशन

Rakesh kumar Verma | Publish: Sep, 10 2018 08:58:10 PM (IST) Pratapgarh, Rajasthan, India

-चतुर्थ राज्य स्तरीय जनजाति खेलकूद प्रतियोगिता शुरू

प्रतापगढ. बच्चे अपने अध्ययन के साथ खेल गतिविधियों में भी भाग लें और खेलकूद में आगे बढकऱ जनजाति क्षेत्रों का नाम रोशन करें। जनजाति क्षेत्रीय विकास मंत्री नन्दलाल मीणा ने सोमवार को आयोजित तीन दिवसीय चतुर्थ राज्य स्तरीय जनजाति छात्रावास खेलकूद प्रतियोगिता के उद्घाटन अवसर पर यह बात कही। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री के नेतृत्व में जनजाति बालक-बालिकाओ के सर्वागीण विकास के लिए अनेकों कदम उठाये हंै। जब जनजाति क्षेत्रीय विकास विभाग बनाया गया था, तब से लेकर क्षेत्र के विकास, बालक-बालिकाओं के अध्ययन और खेलो के लिए कई सुविधाएं मुहैया करवाई गई हंै। जिसका लाभ लेते हुए सभी को पढ़-लिखकर आगे बढऩा होगा। तभी आदिवासी क्षेत्रों के विकास को नए आयाम दिए जा सकते हैं। मीणा ने कहा कि जनजाति क्षेत्र के कई खिलाडिय़ो ने राष्ट्रीय एवं अंतरराष्ट्रीय स्तर पर इन क्षेत्रों का नाम रोशन किया है। उन्होंने अच्छे खिलाडिय़ों से प्रेरणा लेकर पढ़ाई के साथ आगे बढऩे का आह्वान भी किया।
समारोह में ग्रामीण विकास एवं पंचायतीराज राज्यमंत्री धनसिंह रावत ने कहा कि जनजाति क्षेत्र में शिक्षा एवं खेलकूद के क्षेत्र में खिलाडिय़ों को अच्छी सुविधाएं मिलने लगी हंै। उन्होंने खिलाडिय़ो से आह्वान किया की वे अवसर का पूरा लाभ उठाएं और अपने कौशल का सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करें। जिला कलक्टर भंवरलाल मेहरा ने कहा कि इस प्रतियोगिता में जनजाति क्षेत्रा के अलावा माडा क्षेत्र के खिलाड़ी भी भाग ले रहे है। उन्होंने कहा कि ऐसी प्रतियोगिताओं से छिपी खेल प्रतिभाओ को आगे लाने के अवसर मिलते है। उन्होंने व्यवस्थापकों एवं रैफरी से कहा कि वे खेल भावनाओं के अनुसार प्रतियोगिता सम्पन्न कराएं और खिलाडिय़ो की किसी भी प्रकार की असुविधा न हो। समारोह में पूर्व मंत्री जीतमल खांट, धरियावद विधायक गौतमलाल मीणा, जिला प्रमुख सारिका मीणा आदि ने भी संबोधित किया। इस अवसर पर सलुम्बर विधायक अमृतलाल, प्रधान प्रतापगढ़ कारीबाई, प्रधान अरनोद सुमन मीणा, प्रधान धरियावद रूपलाल मीणा, जिला पुलिस अधीक्षक शिवराज, अतिरिक्त जिला कलक्टर हेमेन्द्र नागर, जिला परिषद सदस्य हेमन्त मीणा सहित जनप्रतिनिधि, अधिकारी एवं विभिन्न जिलों से आए खिलाड़ी मौजूद रहे। जिला परिषद के मुख्य कार्यकारी अधिकारी एवं जनजाति परियोजना अधिकारी डॉ. वीसी गर्ग ने आभार प्रदर्शित किया। मंच का संचालन सुरेन्द्र सुमन व जगदीश सालवी ने किया।
सांस्कृतिक कार्यक्रमों का आयोजन
तीन दिवसीय जनजाति खेलकूद प्रतियोगिता का शुभारंभ मुख्य अतिथि ने ध्वजारोहण एवं दीप प्रज्ज्वलित कर किया। इसके बाद समारोह में सांस्कृतिक कार्यक्रमों का भी आयोजन किया गया। समारोह के समापन अवसर पर खिलाडिय़ों की दौड़ प्रतियोगिता भी हुई। इसके बाद शाम तक विभिन्न खेल प्रतियोगिताओं का आयोजन हुआ। जिसमें आदिवासी क्षेत्रों के बच्चों ने अपना दमखम दिखाया।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

Ad Block is Banned