भोर तक चला कवि सम्मेलन

पलथान में हुआ आयोजन

By: Rakesh Verma

Published: 10 Feb 2018, 10:23 AM IST

मोखमपुरा निकटवर्ती पलथान में आयोजित कवि सम्मेलन भोर तक चला।इसमें कईकवियों ने प्रस्तुतियां दी। कवियत्री पायल पंडित की प्रस्तुतियों पर पांडाल में तालियां गूंज उठी।
भागवत पुराण कथा आयोजन समिति के रामनिवास जाट ने बताया कि बडनगर से आई पृथ्वी भाटी ने शारदे वन्दना से शुरुआत की।
संचालक मनोहर मन्नू ने गीत गाए।
राधेश्याम धनगर मोहेड़ा ने कविताओं पर वाहवाही लूटी।
रजनीश शर्मा सीतामऊ ने हास्य चुटकुलों पर सबको लोटपोट कर दिया।
हरिओम हरपल ने आधार कार्ड की रचना पढ़ी।
पायल पंडित ने धरा को उस विधाता का मधुर उपहार है, बेटी घर को बांटती खुशियां...पढ़ी।
राजेश रणबांकुरा कुलथाना, धनपाल धमाका, संदीप जैन ने प्रस्तुतियां दी।
हास्य व्यंग्य कवि सुरेन्द्र सुमन ने खूब हंसाया।
भजन गायक हरिशंकर शर्मा ने कन्या भ्रूण हत्या पर कविता पढ़ी।
मुख्य अतिथि भंोमसिंह वरमण्डल, आभार रामनिवास जाट ने किया। इस अवसर पर जगदीश जाट, परमानंद जाट, कंवरलाल गायरी, बालकिशन बैरागी ललिता शंकर, ईश्वरलाल गायरी, दशरथ गायरी, रामकरण जाट, नरेन्द्रसिंह मोखमपुरा, ओमप्रकाश शर्मा, भंवरलाल इन्दौरा, रमेश टांक आदि थे।
=============================================
राष्ट्रीय लोक अदालत का आयोजन आज
-राजीनामा योग्य मामलों पर लगेगी राजीनामा की मुहर
-कुल 216 0 मामलों की होगी सुनवाई
प्रतापगढ़.
लोगों को सस्ता, शीघ्र एवं सुलभ न्याय आसानी से मिल सके इसके लिए जिले भर की सभी न्यायालयों में एक साथ 2 हजार से अधिक मामलों का आपसी राजीनामा वार्ता के माध्यम से निपटारे के लिए शनिवार को राष्ट्रीय लोक अदालत का आयोजन होगा। जिला विधिक सेवा प्राधिकरण की ओर से जानकारी देते हुए बताया कि जिला विधिक सेवा प्राधिकरण अध्यक्ष जिला एवं सेशन न्यायाधीश राजेन्द्र सिंह के मार्ग-निर्देशन में लोक अदालत ऐसी धारा, न कोई जीता न कोई हारा की तर्ज पर जिले भर की सभी न्यायालयों में चिन्हित प्रि-लिटीगेशन और लम्बित प्रकरणों को समाहित करते हुए शमनीय दाण्डिक अपराध, अंतर्गत धारा 138 परक्राम्य विलेख अधिनियम, बैंक रिकवरी मामलें, एम.ए.सी.टी. मामले, पारिवारिक विवाद, श्रम-विवाद, भूमि अधिग्रहण मामले, बिजली व पानी के बिल (चोरी के अलावा), मजदूरी, भत्ते और पेंशन भत्तों से संबंधित सेवा मामले, अन्य सिविल मामले (किराया, सुखाधिकार, निषेधाज्ञा दावे एवं विनिर्दिष्ट पालना दावे) कुल 216 0 मामलों को राजीनामा के माध्यम से निपटाने के लिए गठित की गई कुल चार राष्ट्रीय लोक अदालत बैंचों द्वारा निपटारा किया जाएगा। जिला मुख्यालय के लिए गठित राष्ट्रीय लोक अदालत बैंच-प्रथम की अध्यक्षता जिला विधिक सेवा प्राधिकरण अध्यक्ष जिला एवं सेशन न्यायाधीश राजेन्द्र सिंह की अध्यक्षता एवं सदस्य पुखराज मोदी अभिभाषक, बैंच द्वितीय की अध्यक्षता विशिष्ठ न्यायाधीश- अ.जा/अ.ज.जा.(अनिप्र) अमित सहलोत एवं सदस्य कमलसिंह गुर्जर अभिभाषक, बैंच तृतीय की अध्यक्षता मुख्य न्यायिक मजिस्टे्रट-सुन्दरलाल बंशीवाल एवं आशीष चतुर्वेदी अभिभाषक तथा बैंच चतुर्थ की अध्यक्षता अति सिविल न्यायाधीश एवं न्यायिक मजिस्ट्रेट जयश्री मीणा एवं सदस्य ललिता गांधी अभिभाषक की सहभागिता में लोक अदालत की भावना से मामलों की सुनवाई करेगी। जिला विधिक सेवा प्राधिकरण अध्यक्ष जिला एवं सेशन न्यायाधीश राजेन्द्रसिंह ने राष्ट्रीय लोक अदालत के इस आयोजन को आम जन के हितार्थ पुनीत एवं पावन कार्यक्रम निरूपित करते हुए विवादों को आपसी सहमति व समझाईश से निपटाने के लिए राष्ट्रीय लोक अदालत के इस अनूठे आयोजन में शामिल होकर अपने विवादों का निपटारा कराने के सुनहरे मौके का लाभ उठाने के साथ-साथ सभी पदाधिकारियों से लोक अदालत के माध्यम से अधिकाधिक प्रकरणों का निस्तारण कराने में सहयोग की अपील की।

Rakesh Verma Bureau Incharge
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned