20 सूत्री कार्यक्रम क्रियान्वयन में प्रतापगढ़ जिला प्रदेशभर में अव्वल

Rakesh kumar Verma

Publish: Mar, 26 2018 06:22:48 PM (IST)

Pratapgarh, Rajasthan, India
20 सूत्री कार्यक्रम क्रियान्वयन में प्रतापगढ़ जिला प्रदेशभर में अव्वल

-94.44 प्रतिशत उपलब्धि अर्जित

प्रतापगढ़. प्रधानमंत्री के बीस सूत्री कार्यक्रम क्रियान्वयन में वर्षभर के आवंटित लक्ष्यों के तहत मनरेगा योजना से मानव रोजगार दिवसों के सृजन, प्रधानमंत्री आवास एवं प्रधानमंत्री ग्राम सडक़ योजना सहित विभिन्न योजनाओं के संचालन में 94.44 प्रतिशत उपलब्धि अर्जित कर प्रतापगढ़ जिला प्रदेशभर में प्रथम स्थान पर रहा है। कार्यवाहक जिला कलक्टर हेमेन्द्र नागर ने बताया कि राज्य आयोजन विभाग की ओर से वर्ष 2017-2018 की राज्य स्तर पर जारी रैंकिंग में 20 सूत्री कार्यक्रम के विभिन्न सूत्रों के क्रियान्वयन में यह उपलब्धि अर्जित की है। उन्होंने मिनी सचिवालय में आयोजित बैठक में अधिकारियों को उपलब्धि अर्जित करने पर बधाई दी और कहा कि वित्तीय वर्ष समााप्ति से पूर्व शत प्रतिशत उपलब्धि अर्जित कर अव्वल ही रहें। उन्होंने बैठक विभिन्न सूत्रों की एक-एक कर समीक्षा की और क्षेत्र में आ रही विभिन्न समस्याओं के त्वरित निराकरण के निर्देश दिए। उन्होंने स्वयं सहायता समूहों को प्रभावी बनाने, खाद्य सुरक्षा, संस्थागत प्रतिशत बढ़ाने, छात्रवृत्ति भुगतान, आंगनवाड़ी केन्द्रों के संचालन, प्रधानमंत्री ग्राम सडक़ योजना में सडक़ों के निर्माण आदि कम उपलब्धि वाले सूत्रों की समीक्षा कर लाभान्वितों की संख्या बढ़ाने के निर्देश भी अधिकारियों को दिए। नागर ने बताया कि सार्वजनिक विभाग में फरवरी 2018 तक 6 7 लक्ष्य आवंटित हुए हैं। जिनके विरूद्ध 40.12 किलोमीटर सडक निर्माण किया गया है। फरवरी 2018 तक संस्थागत प्रसव में वार्षिक लक्ष्य 20270 के विरूद्ध 158 54 प्रगति प्राप्ति की। नरेगा में नियोजित श्रमिकों के लिए फरवरी 2018 तक 1,6 8 ,455 जोब कार्ड जारी हुए एवं नियोजित श्रमिकों का आवंटित लक्ष्य 41.58 लाख के विरूद्ध 45 लाख की प्रगति प्राप्त हुई। जिनको 6 175.29 लाख भुगतान किया गया। इसी तरह प्रधानमंत्री ग्रामीण आवास योजना में लक्ष्य 12147 के विरूद्ध 26 मार्च 2018 तक 16 48 आवास निर्मित हुए। लक्षित सार्वजनिक वितरण प्रणाली में अन्त्योदय परिवारों सहित खाद्य सुरक्षा योजना के तहत लाभान्वितों राष्ट्रीय शहरी आजीविका मिशन योजनान्तर्गत जल वितरण, स्वच्छता, रोशनी, पट्टे जारी, सामाजिक सुरक्षा पेंशन योजना में 477 परिवारों को लाभान्वित किया गया। महिला एवं बाल विकास विभाग द्वारा संचालित आंगनबाडी केन्द्रों के संचालन में भी उपलब्धि अर्जित की गई है। बैठक में सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग के सहायक निदेशक जे पी चावंरिया, सार्वजनिक निर्माण विभाग से अधिशाषी अभियंता एसएल ओस्तवाल, श्रम कल्याण अधिकारी विपिन चौधरी, राजिविका प्रबंधक दिनेश, सचिन शर्मा, लालसिंह, सहायक सांख्यिकी अधिकारी कन्हैयालाल मीणा आदि मौजूद थे।

डाउनलोड करें पत्रिका मोबाइल Android App: https://goo.gl/jVBuzO | iOS App : https://goo.gl/Fh6jyB

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

Ad Block is Banned