कहीं शोभायात्रा तो कहीं मटकी फोड़, कृष्ण जन्माष्टमी पर हुए कई आयोजन

कहीं शोभायात्रा तो कहीं मटकी फोड़, कृष्ण जन्माष्टमी पर हुए कई आयोजन

Rakesh kumar Verma | Publish: Sep, 04 2018 11:27:29 AM (IST) Pratapgarh, Rajasthan, India

निकली भगवान कृष्ण की शोभायात्रा

केशवरायजी मंदिर में 108 किलो दूध से किया अभिषेक
प्रतापगढ़. जिलेभर में कृष्ण जन्माष्टमी पर सोमवार को कई आयोजन हुए। शहर के केशवराय मंदिर में भगवान का 108 किलो दूध से अभिषेक किया गया। ग्वाला समाज की ओर से शहर में शोभायात्रा निकाली गई। शोभायात्रा आबकारी रोड स्थित पिपलेश्वर महादेव मंदिर से शुरू हुई।समारोह में नाशिक के ढोल के साथ निकाली गई।गांधी चौराहा पर नगर परिषद की ओर से स्वागत किया गया। जिसके बाद सदर बाजार, लौहार गली, गौपालगंज, वाटर वक्र्स रोड होते हुए पुन: पिपलेश्वर महादेव मंदिर पहुंची। महिलाएं ढोल व बैंड की थाप पर नाचते गाते चल रही थी। शोभायात्रा में सुसज्जित जीप में भगवान कृष्ण की झांकी सजाई गई थी। समाज की ओर से पारितोषिक वितरण का आयोजन किया गया। जिसमें समाज के होनहार बच्चों को पारितोषिक वितरण किया गया। भजन संख्या का आयोजन किया गया।
मोखमपुरा
भारत माता मन्दिर न्यास बांसवाड़ा की ओर से संचालित स्वामी विवेकानंद विद्या निकेतन कल्याणपुरा विद्यालय में कृष्ण जन्माषटमी का पर्व मनाया गया।जिसमें कृष्ण सजाओं प्रतियोगता एवं मटकी फोड़ का कार्यक्रम का आयोजन किया गया। जिसमें प्रधानाध्यापक हेमन्त प्रसाद शर्मा, रवि सेन, मीरा जाट एवं आदि मौजूद रहे।विद्यालय की ओर से मटकी फोडऩे पर बच्चो्र को पारितोषित का वितरण किया गया।
धमोतर
जन्माष्टमी पर्व पर मुक्तिधाम में पौधारोपण किया गया। जिसमें पौधे लगा सुरक्षित रखने के लिए संकल्प लिया गया। पौधारोपण में सुरेश राठौड़, गोविंद राठौड़, गौतम शिवलाल आदि मौजूद थे।
मंदिरों में बनाई केले के पेड़ की झंाकियां
सालमगढ़
कृष्ण जन्माष्टमी के उपलक्ष पर आकर्षक झांकियां सालमगढ़ के सत्यनारायण मंदिर, श्रीराम मंदिर व चारभुजा मंदिर में केले के पौधे से आकर्षक झांकियां बनाई गई।इसके अलावा सुबह से ही मंदिरों में श्रद्धालुओं का तांता लगा रहा। रात्रि में मंदिरों में भीड़ देखी गई। जगह-जगह गांव में मटकी फोड़ कार्यक्रम का आयोजन किया गया।
करजू
कस्बे सहित ग्रामीण क्षेत्र में सोमवार को कृष्ण जन्मोत्सव मनाया गया। गांव के चारभुजा मंदिर में श्री कृष्ण भगवान का जन्मोत्सव मनाया गया। क्षेत्रवासियों ने उपवास रखा। कृष्ण भगवान जन्म होने के बाद में मंदिरों में देर रात्रि तक भजन संध्या का आयोजन किया गया और झांकियां सजाई गई।
अरनोद
कस्बे समेत क्षेत्र में कृष्ण जन्मोत्सव मनाया गया।इस मौके पर मंदिरों में कई आयोजन किए गए।कस्बे के प्रतापगढ़ रोड स्थित निजी विद्यालय में कृष्ण-राधा प्रतियोगिता आयोजित की गई कृष्ण जन्मोत्सव से पहले नन्हें बालकों को कृष्ण और राधा बनाकर प्रतियोगिता करवाई।स्कूल संचालक प्रत्युष दवे ने बताया कि कृष्ण जन्मोत्सव बड़े उत्साह से मनाया गया। नन्हे नन्हे बालक-बालिकाओं ने प्रस्तुतियां दी।दही हांडी का आयोजन भी किया गया।
पीपलखूंट
श्री कृष्ण के जन्मोत्सव के मौके पर सोमवार को शोभायात्रा निकाली गई।
एक खुली जीप में भगवान श्री कृष्ण की चित्राकृति के साथ मोटरसाइकिलों द्वारा शोभायात्रा निकाली गई।शाम को अम्बे माता मंदिर परिसर में मटकी फोड़ कार्यक्रम हुआ। जुलुस के दौरान अम्बेडकर सर्किल पर अम्बेडकर की प्रतिमा पर माल्यार्पण किया गया। इस दौरान देवेंद्र शेखावत, बहादुर निनामा, गोपाल कृष्ण निनामा, संतोष भाई, नानालाल टेलर, वासुदेव जोशी, रमेश पंडया, दिलीप मईडा, निर्मल मईडा, प्रदीप कलाल, चाहत जैन, मनोज कलाल, प्रियांशु सोनी, दुर्गेश लोहार, ब्रजेश कलाल, सावन कलाल आदि मौजूद थे।
छोटीसादड़ी
नगर के छत्रपति शिवाजी मार्ग स्थित उपकारागृह में श्रीकृष्ण जन्माष्टमी के पावन पर्व पर उपकारागृह में मटकी फोड़ प्रतियोगिता का आयोजन किया गया। कार्यवाहक प्रभारी धीरज शर्मा ने बताया कि कैदियों ने भाग लिया। जिसमें कैदियों के आंखों पर पट्टी बांधकर निश्चित लाइन के अंदर चलकर मटकी फोडऩे की प्रतियोगिता का आयोजन किया गया। रेफरी की भूमिका प्रहरी सुरेंद्र जाट ने निभाई।
दलोट.
भारतमाता मन्दिर न्यास बांसवाडा द्वारा संचालित स्वामी विवेकानंद विध्या निकेतन बोरदिया में श्री कृष्ण जन्माष्टमी का पर्व व विश्व हिन्दू परिषद का स्थापना दिवस मनाया गया। गांव के बच्चे-बच्चियां कृष्ण राधा बनकर निकले।जगह-जगह स्वागत किया गया। राममन्दिर पर मटकी फोडी गई। गांव के रतनसिह चौहान ने बताया कि प्रसाद वितरण की गई। संचालन संस्था प्रधान शानेन्द्र चौहान ने किया। आभार प्रियंका चूण्डावत ने माना।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

Ad Block is Banned