विद्युत दुर्घटनाओं पर रोक के लिए मांगे सुझाव

Rakesh kumar Verma

Publish: Jan, 13 2018 08:18:09 (IST)

Pratapgarh, Rajasthan, India
विद्युत दुर्घटनाओं पर रोक के लिए मांगे सुझाव

जिले में 52 ग्राम पंचायत मुख्यालयों पर लगाए शिविर

ढाई हजार लोगों ने भाग लिया
प्रतापगढ़ विद्युत संबंधी दुर्घटनाओं पर रोकथाम और बिजली का दुरुपयोग को लेकर निगम की ओर से शनिवार को जिले के 52 ग्राम पंचायतों पर शिविर लगाए गए। इन शिविरों में ढाई हजार लोगों ने इस चर्चामें भाग लिया।
इस दौरान लोगों और जनप्रतिनिधियों से सुझाव मांगे गए। इस दौरान जन संवाद किया गया। निगम के अधीक्षण अभियंता आर.सी.शर्मा ने बताया कि कुणी में अटल सेवा केंद्र व आदर्श राजकीय माद्यमिक विद्यालय कुणी में बच्चों के साथ जनसंवाद किया। बिजली के सदुपयोग की जानकारी दी। अटल सेवा केंद्र पर ग्रामीणों के साथ जनसंवाद किया। इस दौरान दयालसिंह चूण्डावत, अजितसिंह चूंडावत भी मौजूद थे। कनिष्ठ अभियंता नरेंद्रसिंह चारण, फीडर इंचार्ज गोरधन कुमावत, श्याम जाटव, कन्हैया बावरी, बद्री कुमावत, दिलीप कुमावत, विनोद लखेरा, धर्मपालसिंह आदि मौजूद थे। कार्मिक अधिकारी राजेन्द्रप्रसाद जोशी ने बताया कि विद्यालयों में प्रधानाध्यापक व शिक्षकों ने भी भाग लिया।
मोवाई
ग्राम पंचायत मोवाई, मोयाखेड़ा और शौली के अटल सेवा केंद्र में शिविर लगाए गए। इस दौरान ग्रामीणों से परिचर्चा एवं जनसंवाद किया गया। उपभोक्ताओं एवं आमजन की समस्याएं उठाई गई। संरपच सरिता मीणा और सहायक अभियंता डीडीयूजीजेवाई ने समस्याएं सुनी।
================================
बसेरा में कवि सम्मेलन भोर तक चला
उत्कृष्ट प्रतिभाओं बौर समाजसेवियों का सम्मान
मोखमपुरा/असावता
निकटवर्ती बसेरा में वीर सावरकर युवा कौशल विकास परिषद समिति की ओर से अखिल भारतीय कवि सम्मेलन का आयोजन किया गया।
जिसमें ख्यातनाम कवियों ने अपनी शिरकत की। आयोजक समिति ने 70 प्रतिशत से अधिक लाने वाले बच्चों को स्वामी विवेकानंद तस्वीर भेंट कर के उन्हें सम्मानित किया। इसके साथ ही गांव के समाजसेवी को भी सम्मानित किया गया। प्रकाश कुमावत ने बताया कार्यक्रम की अध्यक्षता लच्छीराम निनामा ने की।
मुख्य अतिथि सरपंच गोपाल थे।
विशिष्ट अतिथि राजेंद्र कुमावत, राजेश कुमावत, डॉ रमेश, महेश बैरागी, दयाराम कुमावत, धूलचंद कुमावत, पुरषोत्तम कुमावत, दीपक सैनी, श्याम बैरागी, पुष्कर लोहार, घनश्याम कुमावत, सुनील लोहार, राजीव भट्ट, राजू सोलंकी राजू मीणा थे।
सर्वप्रथम मां शारदे की वंदना सुमित्रा सरल ने की।
निंबोद के विनोद ने मालवी में अपनी कविता से लोगों को लोटपोट किया।
अमलावद के धनपाल धमाका ने अपनी पैरोडी के माध्यम से देश में हो रहे भ्रष्टाचार खूब व्यंग्य कसे।
चित्तौडगढ़़ से आई कवियत्री सुरभी जैन ने अपनी श्रंगार के गीतों लोगों का मन मोह लिया। पलसोड़ा नीमच के गोपाल धुरंधर ने कविताओं के माध्यम से पूरे पंडाल में तालियां बटोरी।
नामली की सुमित्रा सरल ने अपने गीत गजल प्रस्तुत की। सुमित्रा सरल और विजय विद्रोही ने नोकझोंक की।
नेपाल काठमांडू के लाफ्टर लक्ष्मण नेपाली ने लोगों को हंसाया। हरिओम हरपल, मांगीलाल ने अपने नए अंदाज मैं कई राजनीतिक व्यवस्था पर टीका टिप्पणी की। विजय विद्रोही मंच संचालक किया।
वीर सावरकर सेवा समिति के अध्यक्ष ईश्वर कुमावत और उनकी टीम ने आभार व्यक्त किया।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned