देवद कराडिय़ा में प्रस्तावित बांध का सर्वे पूरा

देवद कराडिय़ा में प्रस्तावित बांध का सर्वे पूरा

Rakesh kumar Verma | Publish: Sep, 09 2018 11:12:31 AM (IST) | Updated: Sep, 09 2018 11:12:32 AM (IST) Pratapgarh, Rajasthan, India

कई गांवों में होगा फायदा

पेयजल और सिंचाईकी होगी सुविधा
प्रतापगढ़/मोखमपुरा जिले के मोखमपुरा के देवद कराडिय़ा में प्रस्तावित बांध का सर्वे कार्यपूर्ण हो गया है। अब यहां बांध बनने की आस पूरी हो गई है। विभागीय सूत्रों के अनुसार यह कार्य अगले वित्तीय वर्ष में शुरू होने की संभावना है।हाल ही में जल संसाधन विभाग की ओर से इसका सर्वे कार्य कराया गया है। घोंटारसी ग्राम पंचायत के देवद गांव के पास बांध निर्माण की मांग ग्रामीणों की ओर से वर्षों से होती रही है।
यह रहेगा बांध
विभाग की ओर से यहां के लिए प्रस्ताव बनाए गए थे। इस बांध का कैचमेंट 21 वर्ग किलोमीटर में प्रस्तवित है।जिसमें 50 प्रतिशत डिपेंडेबिलिटी पर 176 एमसीएफटी पानी की आवक होगी। 136 एमसीएफटी भराव क्षमता का बांध निर्मित किया जा सकता है। इस परियोजना के डूब क्षेत्र में वनभूमि नहीं आती है।
11 गांवों के आठ सौ किसानों को लाभ
यहां बनने वाले बांध परियोजना के निर्माण से 11 गांवों के लोगों को लाभ मिलेगा। इसमें करीब आठ सौ किसाना परिवार लाभान्वित होंगे। ग्राम सैलारपुरा, नान्नणा, कन्थार, बसेड़ा, बड़ोदिया, धनेश्री, कराडिय़ा, साकरखेड़ी, पाटनिया, बरोठा, बागरिया एवं अरनिया ग्राम की लगभग 6 8 0 हैक्टेयर भूमि में सिंचाई सुविधा उपलब्ध कराई जा सकेगी।
साढ़े 26 लाख से बनेगा बांध
देवद कराडिय़ा में प्रस्तावित बांध का विभाग ने अनुमानित लागत भी निकाली है। इसके अनुसार परियोजना की अनुमानित लागत 26 40 लाख रुपए आंकी गई है। इसमें अभी वास्तविक लागम नहीं निकाली है।
सर्वे का काम पूरा हुआ
देवद कराडिया बांध की सर्वे डीपीआर का कार्य पूरा हो गया है। इससे लोगों में खुशी है। क्षेत्र भंवरलाल कुमावत बसेरा, मोहनलाल कुमावत धनेश्री, भगवान मीणा साकरखेड़ी, शंकरलाल मीणा बसेरा, ईश्वरलाल कुमावत बसेरा, धर्मेंद्रसिंह सिसोदिया आदि ने खुशी जाहिर की है।

शीघ्र शुरू हो काम
यहां बांध को लेकर कई वर्षों से मांग है। हाल ही में इसका सर्वे भी हो गया है। इसे लेकर क्षेत्र में खुशी है। क्षेत्र को इसका लाभ मिल सके।इसके लिए कार्यशीघ्र शुरू कराया जाना चाहिए।
अनारसिंह सिसोदिया, भाजपा इकाई अध्यक्ष देवद

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

Ad Block is Banned