...तो क्या इस बार भी टूट पाएगा प्रतापगढ़ का बोर्ड परिणामों का रिकॉड

rajesh dixit

Publish: May, 23 2018 11:54:58 AM (IST)

Pratapgarh, Rajasthan, India
...तो क्या इस बार भी टूट पाएगा प्रतापगढ़ का बोर्ड परिणामों का रिकॉड

बोर्ड के वाणिज्य व विज्ञान संकाय का आज शाम तक आएगा परिणाम

...तो क्या इस बार भी टूट पाएगा प्रतापगढ़ का बोर्ड परिणामों का रिकॉड...पढ़े पत्रिका की न्यूज
बोर्ड के वाणिज्य व विज्ञान संकाय का आज शाम तक आएगा परिणाम
राजेश दीक्षित
प्रतापगढ़. जी, हां। बुधवार शाम तक माध्यमिक शिक्षा बोर्ड के विद्यार्थियों की धडकऩें तेज हैं। आखिर उनके पूरे वर्ष की मेहनत का परिणाम जो आने वाला है। शाम तक माध्यमिक शिक्षा बोर्ड कक्षा 12 वीं के वाणिज्य व विज्ञान संकाय का परिणाम घोषित कर देगा।
परिणाम तो हर साल आता है, लेकिन क्या इस बार जिले का परिणाम भी पिछले वर्षों का रिकॉर्ड तोड़ पाएगा। इसकी चर्चा इस समय शिक्षा विभाग में हो रही है।
प्रतापगढ़ वर्ष 2008 में जिला बना था। इसके बाद वर्ष 2009 में बोर्ड से जुड़ गया है। पहली बार प्रतापगढ़ जिले में वर्ष 2010-11 का जिला स्तरीय बोर्ड परीक्षा परिणाम जारी किया गया।

 

...और देर रात लौट आए सभापति डोसी, घर पर कर रहे हैं आराम..यहां पढ़े पूरी खबर

 

तोड़ दिए थे पिछली साल सारे रिकॉर्ड
वर्ष 2010-11 से लेकर वर्ष 2016-17 के सात बोर्ड परिणाम जारी किए गए हैं। इनमें पिछले साल का जिला स्तरीय परिणाम ने अब तक सारे रिकॉर्ड तोड़ दिए थे। पिछले वर्ष कक्षा बारहवीं के विज्ञान संकाय में सर्वाधिक 87.73 प्रतिशत परिणाम रहा, वहीं वाणिज्य संकाय में 91.25 प्रतिशत का आंकड़ा छु गया है।
यह उपलब्धि जिले के बहुत मायने रखती है। आखिर सात वर्षों का खुद का रिकॉर्ड प्रतापगढ़ ने तोड़ा था।
हालांकि शिक्षा विभाग में पिछले वर्ष स्कूलों में शिक्षकों को टोटा होते हुए भी अच्छा परिणाम देना शिक्षा विभाग की उपलब्धि ही बताई जाती रही है। इसे शिक्षकों व साथ ही छात्रों की मेहनत बताई गई थी।

अब निगाहें शाम को परिणाम पर
आज शाम वर्ष 2017-18 का बोर्ड परिणाम सामने आ रहा है। क्या इस बार भी परीक्षा परिणाम का रिकॉर्ड टूट पाएगा। हालांकि उम्मीदें सभी लगा रहे हैं। देखते हैं शाम तक क्या होता है?

राज्य स्तरीय में पिछड़ रहा जिला
जहां प्रतापगढ़ जिला जिला स्तरीय बोर्ड परीक्षा परिणाम में अपना ही रिकॉर्ड तोड़ रहा है, वहीं राज्य स्तर पर अच्छी स्थिति नहीं बन पाई है। पिछले साल के परिणम पर ही नजर डालें तो विज्ञान वर्ग में जहां 19वां स्थान था वहीं वाणिज्य वर्ग में 14 वे स्थान पर ही रह गया था।

 

 

 

 

डाउनलोड करें पत्रिका मोबाइल Android App: https://goo.gl/jVBuzO | iOS App : https://goo.gl/Fh6jyB

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

Ad Block is Banned