रालसा की प्रतियोगिता में अव्वल बच्चों को किया पुरस्कृत


प्रतापगढ़. राजस्थान राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण और जिला विधिक सेवा प्राधिकरण(जिला एवं सेशन न्यायाधीश) के सान्निध्य में गत दिनों हुई रालसा की ओर से प्रतियोगिताओं में अव्वल बच्चों को पुरुस्कृत किया गया।

By: Devishankar Suthar

Published: 06 Jan 2021, 08:48 AM IST


प्रतापगढ़. राजस्थान राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण और जिला विधिक सेवा प्राधिकरण(जिला एवं सेशन न्यायाधीश) के सान्निध्य में गत दिनों हुई रालसा की ओर से प्रतियोगिताओं में अव्वल बच्चों को पुरुस्कृत किया गया। जिसमें बाल गृहों में निवासरत बालक, बालिकाओं के मध्य राज्य स्तर पर पोस्टर-पेंटिंग, निबन्ध लेखन, स्लोगन लेखन, कविता, गीत लेखन एवं कहानी लेखन प्रतियोगिताओं में प्रथम, द्वितीय व तृतीय स्थान प्राप्तकर्ताओं को वर्चुअल माध्यम से पुरस्कार वितरण समारोह का आयोजन किया गया। जिसमें आलोक सुरोलिया(जिला एवं सेशन न्यायाधीश), लक्ष्मीकांत वैष्णव, सचिव जिला विधिक सेवा प्राधिकरण, योगेश कुमार शर्मा रिटायर्ड जिला एवं सत्र न्यायाधीश एवं लक्ष्मणराम बिश्नोई मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट ने सम्बोधित किया।
प्राधिकरण के सचिव लक्ष्मीकांत वैष्णव ने बताया कि विधिक सेवा दिवस 9 नवम्बर को प्राधिकरण द्वारा खेल-कूद प्रतियोगिताएं आयोजित की गई थी। इस वर्ष कोविड-19 को दृष्टिगत रखते हुए बाल गृहों में प्रतियोगिताओं का तीन आयु वर्ग 6 से 10, 11 से 15 व 16 से 18 के मध्य पोस्टर-पेंटिंग, निबन्ध लेखन, स्लोगन लेखन, कविता, गीत लेखन एवं कहानी लेखन प्रतियोगिताओं का आयोजन गृह, जिला एवं राज्य स्तर पर किया गया। वर्चुअल माध्यम से पुरस्कार वितरण समारोह का आयोजन कर राज्य स्तर पर प्रथम, द्वितीय व तृतीय स्थान प्राप्तकर्ताओं को सम्मानित किया गया।
कार्यक्रम में वात्सल्य बालिका आश्रय गृह से हेमलता जैन, संतोष मीणा तथा ललिता मीणा ने बालिकाओं के साथ भाग लिया। राजस्थान आदिम जाति सेवक संघ की ओर संचालित निराश्रित बाल गृह के बालकों ने भी भाग लिया।
=:=:=
अरनोद.
निकटवर्ती गौतमेश्वर रोड पर कई लोगों ने अवैध निर्माण कर लिए है। जिससे यह रोड संकड़ा होता जा रहा है। गौतमेश्वर महादेव से अरनोद डबल डिवाइडर वाले रोड की घोषणा विधायक रामलाल मीणा ने की है। जिसकी स्वीकृति जल्द ही जारी होने वाली है। लेकिन गौतमेश्वर से अरनोद के बीच आराजी भूमि, मंदिर माफी की भूमि पर लोग धड़ल्ले से अवैध निर्माण कर रहे हैं। सरकार को भी राजस्व का नुकसान पहुंचा रहे हैं। जबकि भूमि उपयोग परिवर्तन के बाद ही कृषि भूमि पर निर्माण कार्य किया जा सकता है। लेकिन प्रशासन की नाक के नीचे लोग अवैध निर्माण कार्य करने में लगे हुए हैं। लोगों ने सडक़ के दोनों और जो भूमि सार्वजनिक निर्माण विभाग के अधीनस्थ है। उस भूमि पर भी अवैध निर्माण कर लिए हैं। ग्रामीणों ने मांग की है कि प्रशासन को इस ओर ध्यान देकर तत्काल प्रभाव से ऐसे अवैध निर्माण करने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाए।
-=-=-=-==

शंखेश्वर पाश्र्वनाथ मंदिर में पंचान्हिका महोत्सव कल से
-साधु-साध्वियों का मंगल प्रवेश आज
प्रतापगढ़. शहर के श्री शंखेश्वर पाश्र्वनाथ तालाब मंदिर पर बुधवार को साधु-साध्वी का मंगल प्रवेश होगा। इसके साथ ही गुरुवार से आराधकों द्वारा पोष दशमी की आराधना शुरू की जाएगी। इसके लिए यहां तैयारियां की जा रही है।
श्री शंखेश्वर ट्रस्ट मंडल के अध्यक्ष अशोक कंकरेचा ने बताया कि बुधवार शाम को तेले की तपस्या की धारणा होगी। वहीं गुरुवार सुबह 9 बजे 108 पाश्र्वनाथ महापूजन होगा। दोपहर को दो सौ आराधकों का एकासणा होगा। शाम को परमात्मा की भक्ति होगी। 8 जनवरी सुबह नौ बजे गुमानजी मंदिर से परमात्मा की रथयात्रा शुरू होगी, जो तालाब मंदिर पर पहुंचेगी। यहां धर्म सभा का आयोजन होगा। शाम को मंदिरजी का श्रृंगार होगा। वहीं 1008 दीपकों से महा आरती नाकोड़ा मित्र मंडल की ओर से की जाएगी। महोत्सव के चौथे दिन ९ जनवरी सुबह 9 बजे परमात्मा का पहली बार केसर चंदन पंचामृत से ढोल नगाड़ों के नाद से महा मस्तकाभिषेक होगा।
महोत्सव के अंतिम दिन १० जनवरी को तेले की तपस्या का पारणा एवं बहुमान होगा। महोत्सव का आयोजन मुनि नमीरत्न सागर, मुनि पवित्र रत्न सागर की निश्रा में होंगे। इसके साथ ही साध्वी भव्य पूर्णा श्रीजी आदि ठाणा 5 के निश्रा में भी आयोजन होंगे।

Devishankar Suthar
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned