प्रतापगढ़ बस स्टैंड पर मिली अज्ञात लाश

प्रतापगढ़ बस स्टैंड पर मिली अज्ञात लाश

Rakesh kumar Verma | Publish: Sep, 06 2018 06:29:07 PM (IST) Pratapgarh, Rajasthan, India

बस स्टैंड पर मिली अज्ञात लाश

बस स्टैंड पर मिली अज्ञात लाश
प्रतापगढ़. शहर के बस स्टेंड पर गुरूवार शाम एक अज्ञात युवक की लाश पड़ी हुई मिली। लोगों की सूचना पर पुलिस मौके पर पहुंची। लाश को जिला चिकित्सालय ले जाया गया। पुलिस की ओर से युवक के पास कोई कागजात नहीं मिले है। मृतक की शिनाख्त के लिए प्रयास किए जा रहे है।

 

 

मांगों को लेकर दूसरे दिन भी किया कार्य का बहिष्कार
प्रतापगढ़.राजस्थान राज्य मंत्रालयिक कर्मचारी महासंघ के आह्वान पर जिले के विभिन्न विभागों में कार्यरत मंत्रालयिक कर्मचारी की ओर से गुरूवार को अपनी मांगों को लेकर कार्य का बहिष्कार किया गया। मुख्यमंत्री के नाम जिला कलक्टर को ज्ञापन सौंपा। ज्ञापन में बताया कि वर्ष 2017 के दौरान रखी गई विभिन्न मांगें जिसमें प्रमुखत ग्रेड पे 3600 सचिवालय के समान वेतन भत्ते एवं वित्त विभाग की ओर से ग्रेड पे 2800 तक मिले परिलाभों को वापिस लेने की मांग को लेकर 21 दिवसीय सांकेतिक सामूहिक अवकाश एवं 15 अगस्त 2017 को एक दिवसीय उपवास पर भी रहे थे। राज्य सरकार की ओर से मांगों का निराकरण के लिए उप मंत्री मण्डलीय समिति का गठन कर मांगों के निराकरण के लिए आश्वासन दिया था। लेकिन राज्य सरकार की ओर से एक वर्ष की अवधि के व्यतीत हो जाने के बाद भी कोई कार्यवाही नहीं हुई है। जिसके विरोध में स्वरूप राजस्थान राज्य मंत्रालयिक कर्मचारी महासंघ के आह्वान पर राजस्थान के समस्त विभागों में कार्यरत कर्मचारी की ओर से बुधवार एवं गुरूवार को सामुहिक रूप से कार्य का बहिष्कार किया गया। जिसके बाद जिला कलक्टर को ज्ञापन सौंपा गया। ज्ञापन देने में महेश गिरी गोस्वामी, मनीष शर्मा सहित कई कर्मचारी मौजूद थे।

 

कार्यकर्ताओं को दी योजनाओं की जानकारी
पीपलखूंट महिला एवं बाल विकास विभाग की ओर से कार्यकर्ताओं को प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना की जानकारी दी गई। परियोजना अधिकारी रतन वर्मा ने बाल विकास कार्यालय परिसर में उपखंड स्तरीय कार्यक्रम आयोजन किया। इस दौरानयोजना के जिला समन्वयक चन्द्रप्रकाश जांगिड़, स्वच्छ भारत मिशन के प्रेरक आदित्य माथुर, स्वास्थ्य विभाग के डॉक्टर मुकेश गोदा सहित महिला पर्यवेक्षक, पूर्व प्राथमिक शिक्षा अध्यापक, आंगनवाड़ी कार्यकर्ता और आशा सहयोगिनियों ने भाग लिया। मातृ वंदना योजना का व्यापक प्रचार-प्रसार किया जाने के लिए जानकारी दी। शहर-गांव-ढाणीयों में रहने वाली ऐसी समस्त महिलाओं को चिन्हिकरण किया जाकर योजना से मिलने वाला लाभ दिलाया जा सके। यह लाभ तीन किश्तों में एक हजार, दो हजार, दो हजार रुपए कुल पांच हजार रुपए का लाभ सीधे लाभार्थियों बैंक खातों में हस्तांतरित किया जा रहा है। इसके साथ ही 0 से 5 वर्षों तक के बच्चों का वजन लेकर वजन दिवस मनाया गया। पोषण सप्ताह के दौरान विभिन्न प्रकार के पोषाहार की प्रदर्शनी लगाई गई।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

Ad Block is Banned