video_ आठ वर्ष पहले के दोहरे हत्याकांड का एक आरोपी गिरफ्तार

Rakesh kumar Verma | Publish: Apr, 17 2019 11:55:49 AM (IST) | Updated: Apr, 17 2019 11:55:50 AM (IST) Pratapgarh, Pratapgarh, Rajasthan, India


दो लोगों की मुहं जलाकर की थी हत्या
पांच आरोपी थे इसमें शामिल


दो लोगों की मुहं जलाकर की थी हत्या
पांच आरोपी थे इसमें शामिल
प्रतापगढ़ .यहां मिनी सचिवालय के पीछे सूने स्थान पर आठ वर्षपहले दोहरे हत्याकांड के फरार आरोपी को पुलिस ने गिरफ्तार किया है।
एसआई ओूमसिंह चूंडावत ने बताया कि वर्ष२०११ में मिनी सचिवालय के पीछे सूने स्थान पर दो लोगों की मुहं जली लाशें मिली थी।पुलिस ने इस मामले में अनुसंधान करते हुए मृतकों की पहचान बांसवाड़ा जिले के सांगड़ोद के डूंगर पटेल और मध्य प्रदेश के मंदसौर जिले के भावगढ़ थाना क्षेत्र के कारूलाल पाटीदार के रूप में की गई।मामले में पुलिस ने पांच लोगों को आरोपी बनाया गया।जिसमें से चार को पहले गिरफ्तार किया गया। जबकि तलाई मोहल्ला निवासी शकील उर्फ डेनी पुत्र लतीफ फरार हो गया था। वह पहचान छुपाकर पंजाब, हरियाणा आदि स्थानों पर रह रहा था।उसे भगोड़ा घोषित किया गया था। पुलिस को सूचना मिली कि वह प्रतापगढ़ आया हुआ है।इस पर पुलिस टीम ने उसे गिरफ्तार कर लिया।
पत्नी की हत्या के प्रकरण में 20 वर्षों से फरार वांछित गिरफ्तार
पत्नी को केरोसिन डालकर जलाया था
पत्रिका न्यू•ा नेटवर्क
ह्म्ड्डद्भड्डह्यह्लद्धड्डठ्ठश्चड्डह्लह्म्द्बद्मड्ड.ष्शद्व
पानमोड़ी. रठांजना थाना पुलिस ने छोटीसादड़ी इलाके में २० वर्षपहले के एक प्रकरण में पत्नी की हत्या के आरोपी को गिरफ्तार किया है।
थाना प्रभारी मोहनसिंह चन्द्रावत ने बताया कि लोकसभा चुनाव को देखते हुए पुलिस अधीक्षक अनिलकुमार बेनीवाल के निर्देश में वांछित अपराधियों के धर पकड़ के तहत अभियान चलाया हुआ है। इसके तहत पुलिस थाना छोटीसादडी से गोविन्द पुत्र मांगीलाल मीणा निवासी बरखेड़ा रामपद्र थाना रठांजना फरार चल रहा था। पुलिस को सूचना मिली कि वह अभी गांव में देखा गया है।उसने अपनी पत्नी की हत्या की थी। प्रकरण के अनुसार 5 मार्च 1999 को गोविन्द मीणा हाल सिद्धपुरा में था। अपनी पत्नी केसरबाई के घरेलू विवाद को लेकर गांव में सिद्धपुरा में केरोसिन डालकर जलाकर फरार हो गया था। केसरबाई की जलने से मृत्यु हो गई थी। इस मामले में उस पर हत्या का प्रकरण दर्ज कराया गया था। उसके फरार रहने से चालान न्यायालय में पेश किया गया। ्रपुलिस को तलाश थी। लेकिन गोविंद मीणा कई स्थानों पर नाम बदलकर रह रहा था।
पुलिस को सूचना मिली कि गोविंद अभी उसके गांव बरखेडा रामप्रद थाना रठांजना आया हुआ है। इस पर एक टीम को गांव में भेजा गया। जहां से उसे गिरफ्तार किया गया।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned