शहर में कई जगहों पर तरसा रहा पानी

शहर में कई जगहों पर तरसा रहा पानी

Rakesh kumar Verma | Publish: Nov, 15 2017 10:25:22 AM (IST) Pratapgarh, Rajasthan, India

-कई मौहल्लों और कॉलोनियों में एक सप्ताह से नहीं आया पानी

प्रतापगढ़. शहर में यूं तो लम्बे समय से अनियमित जलापूर्ति की समस्या बनी हुई है। लोगों को कई बार कई दिनों तक जलापूर्ति नहीं होने से पेयजल किल्लत से जूझना पड़ता है। वर्तमान में भी शहर के विभिन्न मौहल्लों और कॉलोनियों में करीब एक सप्ताह से जलापूर्ति नहीं हो पा रही है। जिसके चलते लोगों को पानी के लिए तरसना पड़ रहा है।
नई पाइप डलना बता रहे कारण
शहर में कई जगहों पर अनियमित जलापूर्ति की समस्या के लिए जलदाय विभाग अधिकारी नई पाइप लाइन डलने को कारण बता रहे हैं। उनका कहना है कि विभाग की ओर से नियमित जलापूर्ति के पूरे प्रयास किए जा रहे हैं लेकिन नई पाइप लाइन डलने के कारण कुछ इलाकों में जलापूर्ति नहीं हो पा रही है। उनका कहना है कि जल्द ही समस्या का समाधान होगा और जलापूर्ति नियमित की जाएगी।
नई नहीं है समस्या
शहर में अनियमित जलापूर्ति की समस्या नई नहीं है। आए दिन इस प्रकार की परेशानी का सामना करना पड़ता है। कभी बिजली गुल होने तो कभी पाइप लाइन फूटने से लोग पानी की कमी से परेशान होते हैं। वहीं नई पाइप लाइन डलने के कार्य के दौरान भी यह परेशानी आती रही है। जिनका खामियाजा अंतत: उपभोक्ताओं को पानी की कमी के कारण भुगतना पड़ रहा है।
........................
जल्द होगा समाधान
पानी की नई पाइप लाइन डालने के कार्य के कारण कुछ जगहों पर अनियमित जलापूर्ति की परेशानी है। जल्द ही सुधार करवाया जाएगा।
कैलाशचंद्र खटीक, सहायक अभियंता, जलदाय विभाग


खुदी सडक़ों पर फूटा गुस्सा
-एडीएम को की शिकायत
-सहायक अभियंता और कंपनी प्रतिनिधि को बताई समस्या
-पुनर्गठित शहरी पेयजल योजना का मामला
प्रतापगढ़.
शहर में पुनर्गठित शहरी पेयजल योजना अंतर्गत शहर की वैद्यराजजी की गली, भाटपुरा गली, कोतवाल साहब की गली सहित अन्य कई गलियों में पाइप लाइन डालने के लिए खुदाई के बाद लम्बे समय से सडक़ों पर फैली मिट्टी को नहीं हटाने से आक्रोशित लोगों को गुस्सा मंगलवार को फूट पड़ा। नरेंद्र मोदी विचार मंच के जिला अध्यक्ष गजेंद्र चंडालिया ने अतिरिक्त जिला कलक्टर से इसकी शिकायत करते हुए बताया की सडक़ पर खुदे गड्ढों और जगह-जगह लगे मिट्टी के ढेर से लोग परेशान और दुर्घटनाग्रस्त हो रहे हैं। जलदाय विभाग पुनर्गठित शहरी पेयजल योजना के सहायक अभियंता एवं पाइप लाइन डालने वाली कंपली के प्रतिनिधि को मौके पर बुलाकर हालात की जानकारी से अवगत कराया गया। उनसे जब कहा गया की विभाग और सम्बंधित निर्माण कम्पनी की ओर से निर्धारित मापदंडों की पालना नहीं हो रही है। खुदाई वाली जगहों पर सूचना बोर्ड नहीं लगाए जा रहे वहीं जहां पाइप लाइन डल गई है वहां भी सडक़ समतलीकरण का कार्य नहीं किया जा रहा है, तो वे कोई जवाब नहीं दे पाए। उन्होंने कार्य में भ्रष्टाचार की जांच की भी मांग की।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

Ad Block is Banned