वन्यजीवों के लिए काल न बन जाए बिना मुंडेर के कुएं

प्रतापगढ़. जिले में अधिकांश कुएं बिना मुंडेर के है। ऐसे में इन कुओं में आए दिन वन्यजीव और अन्य मवेशी गिर जाते है। जो कई बार काल का ग्रास भी बन जाते है। ऐसे में किसानों को इन कुओं की मुंडेर या कच्ची दीवार बनाने की आवश्यकता है। जिससे वन्यजीवों की जान बच सके।

By: Devishankar Suthar

Published: 26 Dec 2020, 08:54 AM IST


-जिले में अधिकांश कुओं की नहीं है मुंडेर
-आए दिन गिरते है वन्यजीव
-मौत का सबब बन जाते है कुएं
प्रतापगढ़. जिले में अधिकांश कुएं बिना मुंडेर के है। ऐसे में इन कुओं में आए दिन वन्यजीव और अन्य मवेशी गिर जाते है। जो कई बार काल का ग्रास भी बन जाते है। ऐसे में किसानों को इन कुओं की मुंडेर या कच्ची दीवार बनाने की आवश्यकता है। जिससे वन्यजीवों की जान बच सके।
गौरतलब है कि प्रतापगढ़ जिले में अधिकांश भाग पहाड़ी है। ऐसे में कुएं भी कच्चे ही होते हैं। पथरीली जगह होने से कुओं की दीवारें पक्की बनाने की आवश्यकता कम ही होती है। जिससे अधिकांश किसानों के खेतों पर कुएं भी बिना मुंडेर के होते है। लेकिन गत कुछ वर्षों से कई वन्यजीव अब आबादी की ओर आने लगे है। जिससे रात को अंधेरा होने से कई बार वन्यजीव इन कुओं में गिर जाते है। जिससे घायल होने के साथ काल का ग्रास भी बन जाते हैं।
ये वन्यजीव गिरते है कुओं में
जिले में बिना मुंडेर के कुओं में कई प्रजातियों के वन्यजीव गिरते हैं। जिसमें प्रमुख रूप से रोजड़े, सियार, जरख आदि गिरते है। कई इलाकों में पैंथर भी गिर जाते हैं। वहीं रास्तों के किनारे वाले कुओं में लोग भी गिर जाते हैं।
====
कुएं में गिरे रोजड़े के बच्चे को बाहर निकाला
फोटो.......
प्रतापगढ़. प्रतापगढ़ रेंज के चामुंडा गांव के पास बिना मुंडेर के कुएं में शुक्रवार सुबह एक रोजड़े का बच्चा गिर गया। सूचना पर पहुंचे वन विभाग की रेस्क्यू टीम ने इसे बाहर निकाला। वनपाल भूपेंद्रसिंह शक्तावत ने बताया कि सुबह सूचना मिली कि चामुंडा गांव के पास बिना मुंडेर के कुएं में रोजड़े का बच्चा गिर कर घायल हो गया है। इस पर से रेंजर धारासिंह राणावत ने मौके पर सहायक वनपाल मनोहरलाल मीणा, वनरक्षक गोपाल मीणा, वनकर्मी जीवराज मीणा को मौके पर भेजा। जहां गांव के शंकरलाल, गोपाल मीणा, प्रभुलाल, देवीलाल आदि की सहायता से रोजड़े के बच्चे को कुएं से निकाला। पशु चिकित्सालय लाकर उपचार कराया गया। इसके बाद बच्चे को स्वच्छंद वितरण के लिए वन क्षेत्र में छोड़ दिया गया।
त्नत्नत्नत्ननरेगा कार्यस्थल पर की ग्राम सभा
प्रतापगढ़.
निकटवर्ती चिकलाड़ में ग्राम सभा का आयोजन कार्य स्थल पर किया गया। ग्राम सभा में कार्यक्रम अधिकारी ने ब्लॉक संसाधन ग्राम संसाधन व्यक्ति द्वारा मौके पर मजदूरों की मौका स्थिति की जानकारी ली। जुंडी वाला तालाब बोरदी, आवास निर्माण, ताजुडी देगा, ग्रेवल सडक निर्माण, शौचालय निर्माण सहित गांव के विभिन्न कार्य का निरीक्षण किया। मौके पर प्रपत्र भरे गए और मजदूरी की जानकारी ली गई। जॉब कार्ड वितरण हुए या नहीं हुए आदि की जानकारी ग्राम सभा के दौरान ली गई। ग्राम विकास अधिकारी महेशचंद्र तेली ने संबंधित प्रपत्र परवाने में सहयोग किया। ग्राम भ्रमण के दौरान कनिष्ठ लिपिक देवली मीणा, सरपंच प्रेमबाई मीणा, पूर्व सरपंच लालूराम मीणा, पंचायत सहायक कैलाशचंद्र मीणा, हरलाल मीणा, सुरक्षा गार्ड जीवनलाल मीणा सहित समस्त ग्रामवासी और मजदूर उपस्थित रहे।

Devishankar Suthar
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned