दोस्त ही निकला अपना दल के नेता के बेटे का हत्यारा, चौंकाने वाली है हत्या की वजह

दोस्त ही निकला अपना दल के नेता के बेटे का हत्यारा, चौंकाने वाली है हत्या की वजह
Murder case Revealed

खेत में मिला था शव, हत्या के बाद ईंट से सर को कूंचा गया था

प्रतापगढ़.  पट्टी थाना क्षेत्र में अपना दल के नेता के बेटे की हत्या के मामले में अहम खुलासा हुआ है। पुलिस के अनुसार 13 साल के छात्र सूरज वर्मा की हत्या उसके दोस्त ने ही की थी।  एडिशनल एस पी पूर्वी राजकुमार अग्रवाल ने पट्टी थाने में शुक्रवार को इसका खुलासा किया। 


एडिशनल एस पी पूर्वी ने बताया कि सूरज का कातिल उसका दोस्त ही था, जब मामले की जांच की गई तो पूरा मामला शुरू से ही मृतक सूरज के दोस्त के आस पास घूमता रहा, जिस दिन घटना को अंजाम दिया गया उस दिन उस दिन आरोपी सूरज को लीची का फल खिलाने के बहाने सुबह ही अपने साथ गांव से दूर बाग में ले गया जहाँ उसने पहले डंडे से सिर पर वार किया जब सूरज गिर कर तड़पने लगा तब उसने ईट से मुंह और सर को कुचल दिया। सूरज के मृत हो जाने के बाद आरोपी अपना हाथ और कपड़ा धुलने के लिये खेत मे गया जहां उसे गांव वालो ने पकड़ कर पुलिस के हवाले कर दिया।


यह भी पढ़ें:
इस सपा नेता ने 2019 चुनाव में मायावती से गठबंधन का दिया ऐलान, अखिलेश के साथ बीजेपी की भी उड़ी नींद 


पुलिस ने जब पूछताछ की तो उसने कई बार अपना बयान बदला लेकिन जब कड़ाई बरती गई तो उसने सच बता दिया।  सूरज एक ही साथ स्कूल में पढ़ते थे। जिस स्कूल में दोनों पढ़ते थे उस स्कूल का प्रबंधक सूरज का पिता बांकेलाल था। इसी स्कूल में आरोपी छात्र के छह भाई और बहन भी पढ़ते थे लेकिन सभी ने अपना एडमिशन दूसरे स्कूलों में करवा लिया जिससे बांकेलाल नाराज था। आरोपी छात्र के घरवालो ने जब सभी छह बच्चों का टीसी मांगने स्कूल गये तो बांकेलाल ने सत्ताईस हजार फीस देने पर टीसी देने की बात कही। आरोपी छात्र के घरवालों ने जैसे तैसे कर सभी बच्चों का दूसरे स्कूल में एडमिशन करवा दिया। इसी बात को लेकर आरोपी छात्र बांकेलाल को सबक सिखाने के लिए बांकेलाल के बेटे सूरज वर्मा की हत्या कर दिया। इस हत्या में सूरज के बताये अनुसार तीन लोगों को जिसे पुलिस ने गिरफ्तार किया था उन्हें छोड़ दिया। 
Show More
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned