यूपी के प्रतापगढ़ में घऱ में घुसकर युवक की पीट-पीटकर हत्या, गांव तनाव- भारी पुलिस फोर्स तैनात

यूपी के प्रतापगढ़ में घऱ में घुसकर युवक की पीट-पीटकर हत्या, गांव तनाव- भारी पुलिस फोर्स तैनात

Jyoti Mini | Publish: Apr, 02 2018 12:47:15 PM (IST) Varanasi, Uttar Pradesh, India

जहां पेड़ काटने के विवाद में दबंगों ने घर में घुसकर एक युवक की पीट-पीटकर हत्या कर दी

प्रतापगढ़. पुलिस को योगी सरकार चाहे कितना भी हाइटेक क्यों न कर दे, लेकिन अपराध के ग्राफ में कमी नहीं आ रही है। ताजा मामला प्रतापगढ़ के लालगंज कोतवाली इलाके का है, जहां पेड़ काटने के विवाद में दबंगों ने घर में घुसकर एक युवक की पीट-पीटकर हत्या कर दी। मृतक के परिजनों ने पूर्व प्रधान व उसके दो बेटों पर हत्या करने का आरोप लगाया है। घटना की जानकारी मिलते ही मौके पर भारी पुलिस बल तैनात हो गया, क्योंकि गांव का मामला होने की वजह से तनाव की आशंका पुलिस प्रशाशन के मन में बना हुआ था। स्थानीय ग्रामीणों के विरोध के बावजूद पुलिस ने जबरन शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया।

दरअसल, मृतक राकेश के घर के सामने महुवे का पेड़ काटने के विवाद में गांव के ही दबंगों ने घर में घुसकर एक युवक की पीट-पीटकर हत्या कर दी। लालगंज थाना क्षेत्र के खीरी समापुर गांव निवासी राकेश उपाध्याय (40) के घर के सामने एक पेड़ था, जिसे पड़ोसी गांव चंदापुर के पूर्व प्रधान के घर के लोग काट रहे थे। राकेश ने इसका विरोध किया तो दोनों में मारपीट हो गई। हालांकि ग्रामीणों के हस्तक्षेप से माहौल शांत हो गया। आरोप है कि, देर रात विपक्षियों ने राकेश के घर हमला बोल दिया और उसे लाठी से पीटकर गंभीर रूप से घायल कर दिया।

परिजनों के शोर मचाने पर हमलावर भाग गए। परिजन राकेश को लेकर सी एच सी लालगंज पहुंचे। जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। स्थानीय ग्रामीणों से घटना की सूचना पाकर एएसपी पश्चिमी बसंत लाल, सीओ ओपी दुबे, थानाध्यक्ष तुषार त्यागी पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंचे और शव कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेजा। पुलिस अधिकारियों के सामने मृतक के परिजनों ने पूर्व प्रधान व उसके दो बेटों पर रात में धावा बोल राकेश की पीटकर हत्या करने का आरोप लगाया।

पुलिस ने आरोपियों के घर दबिश दी लेकिन सभी फरार थे, लेकिन गांव में हालात तनाव पूर्ण बने हुए हैं। जिसके चलते भारी पुलिस बल मौजूद है। पुलिस के आला अधिकारी बसंत लाल का कहना है कि, तहरीर मिलने पर आरोपियों के खिलाफ शख्त से शख्त विधिक कार्रवाई की जाएगी।

by सुनील सोमवंशी

Ad Block is Banned