बाहुबली राजा भैया के गढ़ में पद्मावत को लेकर दो क्षत्रिय नेता आमने-सामने, मंत्री व सांसद के बीच बढ़ा विवाद

बाहुबली राजा भैया के गढ़ में दमावत फिल्म को लेकर दो क्षत्रिय नेता आमने-सामने हैं...

By: ज्योति मिनी

Published: 26 Jan 2018, 02:34 PM IST

Varanasi, Uttar Pradesh, India

प्रतापगढ़. बाहुबली राजा भैया के गढ़ में दमावत फिल्म को लेकर दो क्षत्रिय नेता आमने-सामने हैं। जनपद के राजनैतिक सियासी पारा सातवें आसमान पर है। बता दें कि, भारी विरोध के चलते प्रतापगढ़ के सिनेमाघरों में फिल्म प्रदर्शित नहीं होगी। लगातार विवाद से सुर्खियों में रहने वाली फिल्म पूरे प्रदेश में भले ही रिलीज हो जाए लेकिन प्रतापगढ़ के सिनेमा हॉल के मालिकों ने फिल्म को प्रशासन पर भरोसा न होने के चलते अपने यहां प्रदर्शित नहीं करने का फैसला लिया है।

ऐसे हालात में प्रतापगढ़ के दर्शक अब इस फिल्म को सिनेमा के रुपहले परदे पर नहीं देख पाएंगे। इसी दौरान क्षत्रिय महासभा के अध्यक्ष व सांसद हरिवंश सिंह ने प्रतापगढ़ में विवादित बयान दे दिया। जिसके तुरंत बाद कैबिनेट मंत्री मोती सिंह का भी बयान जारी हुआ। दरअसल, फिल्म को लेकर सांसद हरिवंश सिंह ने कहा कि, अलाउद्दीन खिलजी के सामने क्या डांस करेगीं महारानी पद्मावती। खिलजी को हीरो दिखाएंगे तो कोई हिंदुस्तानी कैसे बर्दाश्त करेगा। महाराणा प्रताप की किताब पढाकर बच्चों का मोरल ऊंचा कर सकते हैं, लेकिन अकबर द ग्रेट पढ़ाकर नहीं।

अश्लीलता परोशने वाली फिल्म का तो लोग विरोध करेंगे ही। प्रतापगढ़ जिले के किसी भी थियेटर में फ़िल्म पद्मावत नहीं लगेगी। पद्मावत फ़िल्म को लेकर क्षत्रिय महासभा के राष्ट्रीय अध्यक्ष व सांसद हरिवंश सिंह ने प्रतापगढ़ में जहां बड़ा बयान दिया।वहीं इनके बयान पर कैबिनेट मंत्री राजेन्द्र प्रताप सिंह उर्फ मोती सिंह का पलटवार भी सामने आया। कैबिनेट मंत्री ने कटाक्ष करते हुए कहा कि, न्यायालय के आदेश के बाद ऐसे बयानबाज़ी से समाज को बचना चाहिए।

सांसद हरिबवंश सिंह का भाजपा से कोई लेन-देन नहीं है। अपना दल के एस अनुप्रिया गुट से भाजपा पार्टी का गठबंधन है। कृष्णा पटेल के अपना दल से है नहीं है और सांसद हरिवंश सिंह कृष्णा गुट से हैं। सांसद के बयान से भाजपा का कोई वास्ता नहीं है। सांसद हरिवंश सिंह ने पद्मावत फ़िल्म को लेकर विवादित बयान दिया है।

Show More
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned