महज 100 रुपये के लिये मां को पीट-पीटकर मार डाला, कलयुगी बेटा गिरफ्तार

प्रतापगढ़ में दो दिन पहले हुई बुजुर्ग महिला की हत्या का पुलिस ने किया खुलासा। बेटे ने ही शराब के लिये 100 रुपये न मिलने पर की थी मां की हत्या।

प्रतापगढ. यूपी के प्रतापगढ़ में इंसानियत और रिश्तों को शर्मसार कर देने वाली घटना सामने आयी है। यहां एक बेटे ने अपनी बूढ़ी मां को महज सौ रुपये के लिये पीट-पीटकर मार डाला। दो दिन पहले उसका शव जजर्र मकान में मिला था। बेटे ने जिस मां की उंगली पकड़कर चलना सीखा, महज चंद रुपयों के लिये उसी मां को मौत के घाट उतार दिया। इस घटना का खुलासा करते हुए पुलिस ने कलयुगी बेटे को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया।

 

मामला संग्रामगढ़ थानाक्षेत्र के निर्मलखुर्द बबागंज बाजार की है। यहां दो दिन पहले बुजुर्ग महिला राजकुमारी का शव जर्जर मकान में मिलने के बाद हड़कम्प मच गया था। महिला को डंडे से पीट-पीटकर मार डाला गया था। शव मिलने के बाद पुलिस मामले की छानबीन में जुट गई। पुलिस ने दो दिन बाद मामले का जो खुलासा किया उसे सुनकर हर कोई हैरान रह गया। पुलिस के मुताबिक हत्या से कुछ देर पहले राजकुमारी अपने बेटे मिथुन शुक्ला के साथ उसकी दवा लेने के लिये बाजार गई थी। शराब का आदि मिथुन रास्ते में ही अपनी मां से शराब पीने के लिये सौ रुपये मांगने लगा। इसको लेकर मां-बेटे के बीच विवाद भी हुआ। मां ने रुपये नहीं दिये तो वह बीच रास्ते से ही चला गया।

 

पुलिस के मुताबिक राजकुमारी दवा लेकर वापस घर आ गई। जजर्र भवन के पास मिर्च का पेड़ निकालने गई तो इसी दौरान बेटा फिर से आ गया। गुस्से से लाल बेटे को देखकर वह जर्जर भवन की आेर भागी। पीछे-पीछे भागा और लकड़ी के भारी टुकड़े से प्रहार कर मौत के घाट उतार दिया। बेटा वहां से फरार हो गया और दो घंटे बाद उसी ने पिता को मां का शव जजर्र भवन में होने की बात बताई। सूचना पर पहुंची पुलिस को बेटे पर शक हुआ। इसके बाद पुलिस ने सीसीटीवी फुटेज खंगाला तो बेटा घर के आस-पास आता जाता दिख रहा था। इसके बाद पुलिस ने बेटे मिथुन को हिरासत में लेकर सख्ती से पूछताछ की तो उसने पूरा सच उगल दिया। पुलिस ने उसके खिलाफ मामला दर्ज कर उसे जेल भेज दिया है।
By Sunil Somvanshi

रफतउद्दीन फरीद
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned