कुंभ मेले में केमिकल अटैक की थी साजिश,आइएस स्लीपर सेल के नौ युवकों की गिरफ्तारी

कुंभ मेले में केमिकल अटैक की थी साजिश,आइएस स्लीपर सेल के नौ युवकों की गिरफ्तारी
file photo

Prateek Saini | Publish: Jan, 23 2019 10:36:59 PM (IST) Pune, Pune, Maharashtra, India

गिरफ्तार आरोपियों से बरामद दस्तावेज से और भी कई राज खुलने की संभावना एटीएस को है...

नागमणि पांडेय की रिपोर्ट...

(ठाणे,पुणे): महाराष्ट्र एटीएस ने मंगलवार को ठाणे के मुंब्रा और औरंगाबाद से आतंकी संगठन आइएस (इस्लामिक स्टेट) के नौ लोगों को गिरफ्तार किया है। गिरफ्तार आरोपी प्रयागराज में चल रहे कुंभ मेले के दौरान पानी में या खाद्य पदार्थों में केमिकल डालकर एक बड़ी घटना को अंजाम देने की साजिश रच रहे थे। साजिश पर अमल के लिए इन युवकों ने एक वाट्सएप ग्रुप बनाया था। समय रहते महाराष्ट्र एटीएस ने इसका पर्दाफाश कर दिया। गिरफ्तार आरोपियों से बरामद दस्तावेज से और भी कई राज खुलने की संभावना एटीएस को है। खास यह है कि गिरफ्तार आरोपियों में एक दाऊद के करीबी रशीद मलबारी का बेटा का भी शामिल है।

 

एटीएस को मिला यह सामान

आरोपियों के पास से घातक केमिकल, एसिड, चाकू, 24 मोबाइल, छह लैपटॉप, छह पेन ड्राइव, छह वाईफाई, 24 डीवीडी, 12 हार्ड डिस्क, छह मेमरी कार्ड आदि बरामद किए गए हैं। मुंब्रा से गिरफ्तार आरोपियों में से एक नाबालिग और बाकी के चार उच्च शिक्षित हैं। इनमें मोहम्मद मजहर शेख मैकेनिकल इंजीनियर और मोहसिन खान सिविल इंजीनियर है। जबकि फहद शाह आर्किटेक्ट का काम करता है। चारों के पास से मिले सबूत के मुताबिक वे सोशल मीडिया पर काफी एक्टिव थे।

 

26 जनवरी से पहले हमले की साजिश

पिछले महीने एनआइए ने उत्तर प्रदेश के कई इलाकों में आइएस के संदिग्धों को पकडऩे के लिए छापेमारी की थी। इस कार्रवाई में गिरफ्तार लोगों ने इस साजिश का खुलासा किया था। एनआइए ने इसकी जानकारी महाराष्ट्र एटीएस के साथ साझा की थी। पहले इन पर नजर रखी गई। जांच में पता चला है कि आरोपी केमिकल अटैक के साथ खाने में जहर मिला कर लोगों की जान लेना चाहते थे। एटीएस यह भी पता लगाने की कोशिश कर रही है कि आरोपी युवक किनके साथ जुड़े हैं और इन्हें किसका समर्थन मिल रहा है।

 

सलमान ने किया ब्रेन वाश

पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया की औरंगाबाद शाखा सलमान चला रहा था। सलमान की पत्नी के तीन भाई मुंब्रा में रहते हैं, जो सलमान के संपर्क में थे। इसके बाद इन तीनों भाइयों ने अन्य युवकों को अपने साथ मिलाया। सलमान ने पहले अपने तीनों सालों को ब्रेन वॉश कर आइएस के लिए तैयार किया। सलमान पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया की आड़ में युवकों की मदद करने के बहाने आतंकी गतिविधियों को चला रहा था।

 

सभी आरोपियों से पूछताछ की जा रही है। कुंभ मेले में हमले की साजिश से इनकार नहीं किया जा सकता। फिलहाल जांच जारी है।
अतुल चंद्र कुलकर्णी, पुलिस महासंचालक, एटीएस

 

मेरे बेटे निर्दोष हैं। पुलिस बिना कारण फंसाने की कोशिश कर रही है। पुलिस मेरे घर से छह मोबाइल ले गई है , जिनमें से चार मोबाइल बंद हैं।
मजहर की मां

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned