राम मंदिर स्टेशन पर मुंबई में विवाद, रेल मंत्री ने किया उदघाटन

राम मंदिर स्टेशन पर मुंबई में विवाद, रेल मंत्री ने किया उदघाटन
Ram Mandir station dispute

Vikas Gupta | Updated: 22 Dec 2016, 11:12:00 PM (IST) Pune, Maharashtra, India

शिवसेना ने बीजेपी पर वोट बैंक की राजनीति करने का आरोप लगाया है। हालांकि रेल मंत्री सुरेश प्रभु ने गुरुवार को इस रेलवे स्टेशन का उदघाटन किया है।

मुंबई। आज तक अयोध्या में राम मंदिर विवाद का कोई हल नहीं निकल सका है, इस बीच मुंबई में बने राम मंदिर रेलवे स्टेशन को लेकर विवाद हो गया है। शिवसेना ने बीजेपी पर वोट बैंक की राजनीति करने का आरोप लगाया है। हालांकि रेल मंत्री सुरेश प्रभु ने गुरुवार को इस रेलवे स्टेशन का उदघाटन किया है।

मुंबई के ओशविरा इलाके में 32 करोड़ रुपये की लागत से बने नए एक स्थानीय रेलवे स्टेशन का नाम राम मंदिर रखा गया है। इस पर चार प्लेटफार्म, दो फुट ओवर ब्रिज और टिकट बुकिंग कार्यालय बने हैं। बताया जा रहा है कि वहां पर 200 साल पुराने राम मंदिर के नाम पर ही इस स्टेशन का नाम रखा गया है।

वहां की मुख्य सड़क का नाम भी राम मंदिर रोड है। मंदिर की एक ट्रस्टी शैला पथारे का कहना है कि यहां आने जाने वालों के लिए राम मंदिर एक महत्वपूर्ण लैंडमार्क है। मंदिर के कारण इस इलाके की पहचान है। स्टेशन का नाम राम ​मंदिर रखे जाने से वह काफी खुश हैं।

नाम पर सियासत जारी
स्टेशन का नाम राम मंदिर रखने का विरोध करने वालों का कहना है ​कि यूपी चुनाव से पहले रेलवे स्टेशन का ऐसा नाम रखना बीजेपी की चाल है। महाराष्ट्र महानगरपालिका चुनाव से पहले बीजेपी ने ऐसा करके उत्तर भारतीयों को लुभाने की भरपूर कोशिश भी की है।
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned