किसान की हत्या के लिए दी एक लाख रुपये की सुपारी, जानें ऐसी क्या थी वजह

किसान की हत्या के लिए दी एक लाख रुपये की सुपारी, जानें ऐसी क्या थी वजह
Illicit relations

Dhirendra Singh | Publish: Jan, 09 2018 05:37:12 PM (IST) Lucknow, Uttar Pradesh, India

पुलिस ने सुपारी लेकर हत्या करने वाले आये पांच लोंगो को किया गिरफ्तार।

रायबरेली. नसीराबाद थाना क्षेत्र के राजामऊ मजरे कंवर मऊ में किसान को मौत के घाट उतारने की सुपारी लेकर हत्या करने आये शातिर बदमाशों की नसीराबाद पुलिस ने सूूूूझबूझ से घेरा बन्दी कर उनके मंसूबों पर पानी फेरने के साथ ही उन्हें दबोचकर जेल भेज दिया।

अवैध संबंध के चलते दी सुपारी

जानकारी के मुताबिक बीती रात नसीराबाद थाना प्रभारी बृज मोहन सिंह को सूचना मिली थी कि क्षेत्र के राजापुर मजरे कुंवर मऊ के प्राइमरी पाठशाला में पांच बदमाश एक किसान की हत्या करने हेतु इकट्ठा हुए हैं। सूचना पाते ही नसीराबाद थाना प्रभारी पुलिस फोर्स के साथ मौके पर पहुंचे और बदमाशों को चारों ओर से घेर लिया। खुद को गिरता देख बदमाशों ने पुलिस टीम पर फायर कर दिया लेकिन कोई भी सिपाही हताहत नहीं हुआ। इस बीच पुलिस ने 5 बदमाशों को दबोच लिया। जबकि तीन बदमाश पुलिस को चकमा देकर फरार हो गये। पुलिस ने पकड़े गए बदमाशों के पास से 3 अवैध पिस्तौल, 9 अदद जिन्दा कारतूस, तीन मोबाइल सहित चार हजार की नकदी बरामद की है।

इनामी बदमाशों को किया था हत्या के लिए तैयार
नसीराबाद थाना प्रभारी बृजमोहन सिंह का कहना है कि पकड़े गए बदमाश नसीराबाद थाना क्षेत्र के अमीन गुर्जर पुत्र निहाल गुर्जर निवासी ग्राम मदे का पुरवा मजरे कुंवर मऊ की हत्या करने आए थे, जिसकी सुपारी गांव के ही धनंजय सिंह उर्फ पुत्र विजेंद्र सिंह ने एक लाख रुपये दी थी। नसीराबाद थाना प्रभारी का कहना है कि धनंजय सिंह की सास मालती सिंह पत्नी अमर बहादुर सिंह का गांव के ही अमीन गुर्जर से अवैध सम्बन्ध है। जिसके कारण गांव में परिवार की हो रही परिवार की बदनामी को लेकर धनंजय सिंह ने कई बार अपनी सास व आमीन गुर्जर को जान से मारने की धमकी भी दी थी। जिसका मुकदमा थाने में दर्ज है। इसी क्रम में धनंजय ने आमीन की हत्या के लिए इनामी बदमाश अंशु सिंह उर्फ अंशुमान सिंह पुत्र अभिषेक निवासी राखी थाना उदयपुर जनपद प्रतापगढ़ को एक लाख की दी थी अंशुमान पर प्रतापगढ़ जनपद के उदयपुर थाना सहित विभिन्न थानों में लूट व हत्या के 22 मुकदमे पंजीकृत हैं। बीती रात 8 बदमाश असलहे से लैस होकर यहां आए तभी पुलिस के चंगुल में फस गए। पुलिस का कहना है कि बदमाशों में सोनू व अशू ने 2 माह पहले गुरबख्श गंज थाना क्षेत्र के मऊ चौराहे पर लमही गांव के निकट दिनदहाड़े दो महिला व पुरुष से 10000 की नकदी व सोने के जेवरात की लूट का खुलासा किया है। पुलिस ने पकड़े गए बदमाशों में क्रमश: सोनू सिंह उर्फ वीरेंद्र सिंह, 21 वर्षीय अमन उर्फ़ अमित जायसवाल, 28 वर्षीय राजेंद्र सिंह, 28 वर्षीय संगम सिंह, 54 वर्षीय संतोष दुबे के खिलाफ पुलिस टीम पर फायर करना, जानलेवा हमला करने समेत विभिन्न धाराओं में मामला दर्ज कर पकड़े गए पांच बदमाशों को जेल भेज दिया है। बाकी तीन बदमाशों के लिए पुलिस दबिश दे रही है।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned