102, 108 एंबुलेंस पायलटों ने सुर में सुर मिलाकर यूपी सरकार के खिलाफ खोला मोर्चा

102, 108 एंबुलेंस पायलटों ने सुर में सुर मिलाकर यूपी सरकार के खिलाफ खोला मोर्चा
102, 108 एंबुलेंस पायलटों ने सुर में सुर मिलाकर यूपी सरकार के खिलाफ खोला मोर्चा

Madhav Singh | Updated: 23 Sep 2019, 11:36:37 PM (IST) Raebareli, Raebareli, Uttar Pradesh, India

102,108 एंबुलेंस पायलटों ने सुर में सुर मिला कर यूपी सरकार के खिलाफ खोला मोर्चा

रायबरेली . अगर आज आप को एमरजेंसी में 108 व 102 एम्बुलेन्स की आवश्यकता है और आपने 102 व 108 पर कॉल किया तो आपको निराशा ही हाथ लगेगी। जी हां आज रात 12 बजे से पूरे प्रदेश में जहा एम्बुलेन्स पायलेट हड़ताल पर है, वही रायबरेली में भी एम्बुलेंस पायलट हड़ताल पर है और अपनी मांगों को लेकर उग्र भी दिख रहे है । रायबरेली शहर के जीआईसी ग्राउंड पर सभी पायलट एम्बुलेश को खड़ा कर विरोध दर्ज करवा रहे है।

102,108 एंबुलेंस पायलटों ने सुर में सुर मिला कर यूपी सरकार के खिलाफ खोला मोर्चा

102 और 108 एम्बुलेंस के कर्मचारी अपनी मांगो को लेकर विरोध कर रहे। इन पायलटों का आज आक्रोश इस कदर बढ़ गया कि सभी ने 102 व 108 एम्बुलेन्स को खड़ा कर दिया और अपने कंपनी जीवीके व आईएमआरआई के विरोध में जमकर हंगामा काट रहे है। पायलटो का आरोप है कि हम लोगो को 8 हजार रुपये महीने दिया जाता है 8 घंटे की ड्यूटी में 12 घंटे काम लिया जाता है न तो ओवर टाइम दिया जाता है और समय से वेतन भी नही मिलता और न ही काम के हिसाब से वेतन दिया जाता है। आपको बता दे कि रायबरेली जिले में 102 व 108 कुल 89 एम्बुलेन्स है जिनमे 284 कर्मचारी कार्यरत है। इन दोनों एम्बुलेंसों को जीवीके व आईएमआरआई कंपनी द्वारा संचालित किया जा रहा है। साथ ही साथ इन लोगो की मांग है कि हम लोगो को बीते तीन माह से सैलरी भी नही मिली हम सभी अन्य जनपदों से है और अब स्थिति भुखमरी की आ गई है पर कंपनी वालो को इससे कोई लेना देना नही है। जो भी इसके विरुद्ध आवाज उठाता है उसे बाहर का रास्ता दिखाने की धमकी दी जाती है अब ऐसे में हम सब बंधुआ मजदूर बन गए है। इन सब मागों को लेकर हम लोगो ने प्रदेशव्यापी हड़ताल की है और यह हड़ताल तब तक चलेगी जब तक हम लोगो की माँगे पूरी नही की जाती।

Show More
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned