डॉ सोने लाल पटेल पर लाठी चार्ज को लेकर अपना दल ने की सीबीआई जांच होने की मांग

देश आज अपने विषम परिस्थितियों के दौर से गुजर रहा है। आवाम में हाहाकार मचा हुआ है।

By: Mahendra Pratap

Published: 16 May 2018, 05:05 AM IST

रायबरेली. देश आज अपने विषम परिस्थितियों के दौर से गुजर रहा है। आवाम में हाहाकार मचा हुआ है। जनता को ज्यादातर सच्चाई से दूर किया जा चुका है और केंद्र सरकार विकास जैसे मुददों से जनता का ध्यान हटाने के लिए कभी आरक्षण पर प्रहार तो कभी दलित एक्ट को निष्प्रभावी करती नजर आ रही है। यह उदघोष संविधान बचाओ-मंहगाई हटाओ के तहत आयोजित एक दिवसीय सांकेतिक धरने में अपना दल के जिलाध्यक्ष डा0 दल बहादुर पटेल के लोगों ने व्यक्त किए।

स्वामीनाथन आयोग की सिफारिशें लागू

डा0 सोनेलाल पटेल ने कहा कि 23 अगस्त 1999 को पीडी टण्डन पार्क में लाठी चार्ज की सीबीआई जांच से दूरी बनाए हुए है लेकिन अपना दल ने डॉ सोने लाल पटेल पर हुई लाठी चार्ज की सीबीआई जांच होने की मांग की है। कई बार ज्ञापन देने के बाद भी जांच को ठंडे बस्ते में डाल दिया गया है। सरकार ने जो किसानों से वादा किया था वह चार साल में पूरा नही किया और न ही किसानों को लागत मूल्य का डेढ़ गुना समर्थन मूल्य समर्थन मूल्य ही मिला और न ही स्वामीनाथन आयोग की सिफारिशों को लागू किया गया।

सरकार ने जनता के ऊपर बुरे दिन ला दिए

धरने में कहा गया कि अच्छे दिनों का सपना दिखाने वाली सरकार ने जनता के ऊपर बुरे दिन ला दिए। अभी तक देश के किसी भी व्यक्ति के एकाउंट में 15 लाख रुपए नहीं पहुंचा। अहंकार सरकारी को जनता 2019 में अपनी ताकत का भरपूर अहसास कराएगी। यूजीसी में नया रोस्टर आने से विश्व विद्यालय को इकाई न मानकर विभागों को इकाई माना गया है। अपना दल के पदाधिकारियों ने धरना के बाद डीएम के माध्यम से प्रधानमंत्री को एक ज्ञापन भेजा है। ज्ञापन के माध्यम से चक्रवाती तूफान से प्रभावित लोगों को सरकार द्धारा मुआवजा एवं पक्के मकान दिए जाने आदि की मांग की गई है।

BJP
Show More
Mahendra Pratap Content
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned