नही है सुरक्षित वीवीआईपी जिले की बेटियां

नही है सुरक्षित वीवीआईपी जिले की बेटियां, जिले में लड़कियों के साथ झेड़झाड़ के मामले की आयी बाढ़



By: Madhav Singh

Published: 15 Nov 2018, 07:41 AM IST

रायबरेली। जिले में लगातार कानून व्यवस्था बनाये रखने के लिये एसपी सुजाता सिंह सभी थानों में फरार चल रहे अपराधियों पर भी नकेल कसती नजर आ रही है। लेकिन जिले में महिलाओं और नाबालिग लड़कियों के साथ झेड़झाड़ और मारपीट जैसे मामले रुकने का नाम नहीं ले रहे है। ऐसे मामले में पुलिस कार्यवाई तो करती है लेकिन जब लड़कियों की अस्मत लुट जाती है और अगर परिजन जाते है तो पुलिस रिपोर्ट लिखने में भी आना कानी करती नजर आती है। ऐसे ही जिले के अलग-अलग थानों से झेड़झाड़ के मामले आये है।


गुरूबक्शगंज थाना क्षेत्र के एक गांव में एक युवक द्वारा 7 वर्षीय बच्ची के साथ छेड़छाड़ का मामला पुलिस ने दर्ज किया है। वहीं इसी गांव की एक विवाहिता ने एक युवक के विरूद् छेड़छाड़ का मामला दर्ज कराया है।

 

थाना क्षेत्र के एक गांव में रहने वाले एक व्यक्ति ने थाने में तहरीर देकर आरोप लगाया कि उसकी 7 वर्षीय बेटी दोपहर गांव के बाहर खेतों में बकरी चरा रही थी, तभी गांव के ही बचान लोध 22 वर्ष ने लड़की को अकेला देखा। इसके बाद वह बुरी नीयत से जबरदस्ती उसे कंधे पर उठाकर ले जाने लगा। लड़की के चीखने-चिल्लाने पर वह उसे छोड़कर भाग गया। लड़की के पिता की तहरीर पर पुलिस ने मुकदमा पंजीकृत करके जांच शुरू कर दी है।

 

दूसरी घटना में इसी गांव की एक विवाहिता ने थाने में तहरीर देकर गांव के ही अनुराग यादव पर छेड़खानी का आरोप लगाया है। पीड़िता ने पुलिस को दी तहरीर में कहा है कि देर शाम वह शौच के लिए गई थी, तभी वहां पर पहले से घात लगाए बैठे अनुराग ने उसे बदनीयती के साथ पकड़ लिया और उसके साथ अश्लील हरकते करने लगा। पुलिस ने इस मामले में भी पीड़िता की तहरीर पर मुकदमा पंजीकृत करके जांच शुरु कर दी है।

 

दूसरा मामला हरचन्दपुर थाना क्षेत्र के एक गांव की एक नाबालिग किशोरी ने पुलिस अधीक्षक सुजाता सिंह को शिकायती पत्र देकर आरोप लगाया कि गांव के कुछ लोगों ने उसके घर में घुसकर तोड़फोड व लूटपाट की। किशोरी के शिकायती पत्र पर एसपी ने थाने की पुलिस को केस दर्ज करके के कार्यवाई करने का आदेश दिया। एसपी के आदेश पर पुलिस ने चार नामजद व करीब एक दर्जन अज्ञात के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है। पुलिस मामले की जांच पड़ताल कर रही है।

 

एक नाबालिग किशोरी ने एसपी को दिए गए शिकायती पत्र में आरोप लगाया कि गांव के ही बिरजू द्विवेदी, सचिन द्विवेदी, दुर्गेश द्विवेदी, राज द्विवेदी व करीब एक दर्जन अज्ञात लोग उसके घर में घुस आए और तोड़फोड की। किशोरी का आरोप है कि उसने विरोध किया तो युवकों ने उसके साथ छेड़छाड की और दुराचार करने का प्रयास किया। एसपी ने मामले को गंभीरता से लेते हुए थाने की पुलिस को मामले में केस दर्ज करने के आदेश दिए है। एसपी के आदेश पर संबंधित धाराओं में केस दर्ज करके पुलिस मामले की जांच पड़ताल शुरु कर दी है।

 

pm modi
Show More
Madhav Singh
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned