वीवीआईपी कहलाने वाला जिला बारिश के शुरुआती दौर में ही शहर के गली मोहल्ले मे हुआ जलभराव

Madhav Singh | Updated: 11 Jul 2019, 10:09:24 PM (IST) Raebareli, Raebareli, Uttar Pradesh, India

वीवीआईपी कहलाने वाला जिला बारिश के शुरुआती दौर में ही शहर के गली मोहल्ले मे हुआ जलभराव

रायबरेली . वीवीआईपी कहलाने वाला जिला बारिश के शुरुआती दौर में रायबरेली शहर जलभराव के कारण इतना बुरा हाल है कि शहर के कई इलाकों में जलभराव की बड़ी समस्या सामने आ रही है । शहर की जनता ही नहीं जिले के सरकारी कार्यालय और जिला अस्पताल भी जलभराव से दूर नहीं है। यहां आने वाले मरीज और तीमारदार भी काफी परेशानियों का सामना करते नजर आये है। शहर की जनता अपने घरों को छोड़ने के लिए मजबूर हो रहे हैं क्योंकि घरों के अंदर तक पहली ही बारिश में पानी पहुंच चुका है । ऐसे में आने वाले समय में और बड़ी समस्या हो सकती है। फिलहाल जिला अधिकारी का कहना है कि रास्तों में मिट्टी डालकर अतिक्रमण करने वाले कई लोगों पर कार्यवाही की जा चुकी है नगरपालिका को भी निर्देशित किया गया है जलभराव से निपटने के लिए कई टीमें लगा दी गई है।

वीवीआईपी कहलाने वाला जिला बारिश के शुरुआती दौर में ही शहर के गली मोहल्ले मे हुआ जलभराव

 

पिछले 3 दिनों से हो रही लगातार बारिश लोगों के लिए मुसीबत बन चुकी है। आप खुद देखिए किस तरह से रायबरेली शहर के कई इलाकों में पानी इस कदर भर चुका है कि लोगों का निकलना दूभर हो रहा है लोग अपने घरों से निकल नहीं पा रहे हैं कई परिवार तो अपने घर भी छोड़ चुके हैं । बारिश में हुए जलभराव से नगरपालिका के कर्मचारियों की पोल खुल चुकी है , जगह-जगह नालियां चोक हैं पानी निकलने के लिए कोई समुचित व्यवस्था नहीं की गई और ना ही बारिश को देखते हुए कोई तैयारी की गई है। जिससे लोग परेशान हैं यही नहीं रायबरेली के जिला अस्पताल परिसर में हुए जलभराव को देखिए किस तरह से अस्पताल परिसर में पानी भरा हुआ है लेकिन पानी निकलने की कोई व्यवस्था नहीं की गई है। यहां पर आने वाले मरीज और तीमारदार भी काफी परेशान हैं । यहां के लोग तो अपना घर भी छोड़ने के लिए मजबूर हो रहे हैं, कई परिवार जलभराव से परेशान होकर घर खाली कर चुके हैं । लोगों का कहना है कि कई बार आला अधिकारियों को इस समस्या से निजात पाने के लिए ज्ञापन भी दिया गया लेकिन कोई समुचित व्यवस्था नहीं की गई है।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned