मुख्यमंत्री करेंगे रायबरेली का दौरा, नहरों में देंगे पानी, आएंगे अच्छे दिन

रायबरेली जनपद के किसानों के लिए अच्छे दिन आने का रास्ता खुल गया है।

By: आकांक्षा सिंह

Published: 20 Jul 2018, 01:09 PM IST

रायबरेली. जिला पंचायत भवन सभागार में प्रेस से बात करते हुये एमएलसी दिनेश प्रताप सिंह ने कहा कि किसान पानी की समस्या को लेकर काफी दशकों से जूझ रहे थे लेकिन यूपी के मुख्यमंत्री योगी और सिचाई मंत्री को अपने क्षेत्र की नहरों में पानी की समस्या जब बताई तो उन्होंने जनहित को अपनी सरकार के किये वादे याद आ गये। जिसमें मुख्यमंत्री ने किसानों का सच्चा दोस्त बताया था। इन सब बातों को लेकर सरकार ने किसानों के सिंचाई के लिये नहरों में जल्द पानी लाने का वादा किया और इससे किसान ही नही आम जनता को भी काफी फायदा मिलेगा। उन्होंने मुख्यमंत्री योगी और सिंचाई मंत्री का भी धन्यवाद अदा किया।

रायबरेली जनपद के किसानों के लिए अच्छे दिन आने का रास्ता खुल गया है। पच्चीस साल से सूखी पड़ी नहरोें में पानी लाने के लिए जूझ रहे एमएलसी दिनेश प्रताप सिंह के प्रस्ताव पर चैहनिया पम्प नहर की क्षमता में वृद्धि और डलमऊ बी पम्प कैनाल का नया पम्प हाऊस बनाने तथा क्षमता वृद्धि किये जाने को शासन ने मंजूरी दे दी है।

सिंचाई मन्त्री धर्मपाल सिंह द्वारा आहूत बैठक में सिंचाई विभाग के आलाधिकारियों को क्षेत्र के किसानों की बदहाली बताते हुए एमएलसी दिनेश प्रताप सिंह ने कहा कि कागजी आकड़े कुछ भी बोलते हो लेकिन सच्चाई ये है कि नहर की तल्ली पर मोटे-मोटे पेड़ गड्डे हैं। किसानों को बूंद भर पानी नहीं मिल रहा है। एमएलसी दिनेश प्रताप सिंह ने सरेनी, लालगंज, खीरों एवं सतांव के कई प्रधानों से मौके पर ही मोबाईल पर बात करवा कर नहरों में पानी की जमीनी हकीकत उजागर की। उन्होंने कहा कि पुरवा ब्रान्च, खजूरगांव रजबहा, ऊंचगांव रजबहा, सरेनी रजबहा, भगवन्त नगर रजबहा, राजामऊ रजबहा, शोरा रजबहा व उनकी सभी माइनरो में पानी को लेकर सरकारी आंकड़ों के इतर सच्चाई अलग है।

एमएलसी ने कहा कि मामला केवल खेतों की सिंचाई भर का नहीं है। भूजल स्तर लगातार नीचे जा रहा है। आने वाले दिनों में पीने के लिए भी पानी नही मिल पायेगा। उन्होंने कहा कि दूसरों का पेट भरने वाला किसान पानी न मिलने के कारण भूखा प्यासा तड़प रहा है। अधिकारियों के पास टेल फीड होने की सूची के अलावा कुछ नही है, अन्त में डलमऊ बी पम्प कैनाल का नया पम्प हाउस बनाने, क्षमता वृद्धि किये जाने समेत कई प्रस्तावों को मंजूरी देने के साथ रायबरेली की सभी सूखी पड़ी नहरो में पानी लाने के जरूरी काम करवाये जाने की स्वीकृत किया गया।

एमएलसी दिनेश प्रताप सिंह ने कहा कि डलमऊ बी पम्प कैनाल के पम्प हाऊस के निर्माण में लगने वाले समय तक के लिए नयी मोटर व नई पाईप लाईन से पानी दिया जाये, निर्माण के नाम पर पानी रोंका नही जाये। पुरवा ब्रान्च को उन्नाव की ओर से पानी दिए जाने के आश्वासन पर एमएलसी नाराज हुए और कहा कि हमें लखीमपुर से मिलने वाला पानी अन्तिम छोर पर बसे खीरों, सतांव एवं लालगंज को मिलेगा इस पर विश्वास नहीं है। अब सिर्फ डलमऊ ए से पानी दीजिए। एमएलसी की जिद पर अधिकारियों ने डलमऊ से पुरवा ब्रान्च को पानी देने के प्रस्ताव को मंजूर कर लिया। पुरवा ब्रान्च को डलमऊ ए पम्प कैनाल से पानी दिए जाने का प्रस्ताव तो मान लिया गया किन्तु धन के अभाव एवं सरकारी धन के विलम्ब से मिलने की चर्चा पर एमएलसी ने कहा कि फिलहाल काम तुरन्त शुरू हो और हमारी विधायक निधि से 25 लाख आज ही ले लो, बाकी धन सरकार से स्वीकृत कराकर विभाग को शीघ्र उपलब्ध करा देगें।

सिंचाई मन्त्री के कार्यालय कक्ष में सम्पन्न बैठक में सचिव सिंचाई राजमणि यादव, प्रमुख अभियन्ता यान्त्रिक सुनील कुमार, विषेश सचिव सुरेन्द्र विक्रम, मुख्य अभियन्ता प्रवीण कुमार, चीफ इन्जीनियर षारदा सहायक आर0के0 गुप्ता, ए0सी0 मण्डल सेवाराम, अधिशासी अभियन्ता उन्नाव एस0के0 झा, अधिक्षण अभियन्ता नलकूप डी0सी0 भट्ट, समेत सभी सम्बन्धित अधिकारी मौजूद रहे। अन्त में एम0एल0सी0 ने उ0प्र0 के परिश्रमी, ईमानदार, यशस्वी मुख्यमन्त्री मा0 योगी आदित्यनाथ जी एवं मा0 मन्त्री सिंचाई को धन्यवाद दिया, साथ ही उनका आभार भी प्रकट किया कि आपकी से रायबरेली के किसानों को पानी मिलने जा रहा है।

करेगें रायबरेली का दौरा

रायबरेली के शिवगढ़ में हुई भाजपा मण्डल के उपाध्यक्ष की हत्या पर कहा कि वह आपसी जमीन का मामला था और इस हत्या में जो भी दोषी होगा उस पर पुलिस अपनी कार्यवाई करेगी। साथ ही यूपी में कानून व्यवस्था सही चल रही है। एमएलसी दिनेश प्रताप सिंह ने यूपी के मुख्यमंत्री का रायबरेली का दौरा अगस्त के पहले हफते में करने की उम्मीद जताई है। जुलाई के आखरी हफते में रायबरेली दौरे का कार्यक्रम तय हो सकता है। वह अपने दौरे में जिले में सरकार के दिये गये बजट का कितना सही उपयोग हुआ है इसकी भी जानकारी करेगें। और आम जनता से मुलाकात भी करेंगे।

आकांक्षा सिंह
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned